झिंडा ने कांग्रेस को लिया निशाने पर

Hisar Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
सिरसा। हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश सिह झिंडा ने सिरसा में सिख समाज के लोगों पर हुए हमले की कडे़ शब्दों में निंदा करते हुए आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की। उन्हाेंने कहा कि राजनीतिक लोग वोट की खातिर सिख समाज और धर्म के खिलाफ काम कर रहे हैं। वे मंगलवार को पंजाब पैलेस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने प्रदेश के सभी सिखों को हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से गुरू पर्व की बधाई देते हुए अपील की कि सिरसा और प्रदेश की अमन शांति बनाए रखने में सहयोग दें। तीन दिन पूर्व सिरसा में हुए घटनाक्रम पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए झिंडा ने कहा कि राजनीतिक लोग वोट की खातिर सिख समाज और धर्म के खिलाफ काम कर रहे हैं। पंजाब व हरियाणा की सरकारों से सिख समाज के हित की कोई उम्मीद नहीं है। उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों की सरकारें वोट की राजनीति की शिकार हैं। उन्हें सबसे पहले वोट दिखाई देता है और धर्म दूसरे स्थान पर है।
झिंडा ने शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को भी राजनीति का शिकार बताते हुए कहा कि कमेटी अपना दायित्व पूरा करने के स्थान पर सिर्फ राजनीति कर रही है। इस कमेटी को पूरे सिख समाज के हितों के लिए आगे बढ़कर काम करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि यदि हरियाणा के सिख अलग गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की मांग करते हैं तो एसजीपीसी द्वारा गठित टास्क फोर्स विरोध करने पहुंच जाती है जबकि हरियाणा में सिखों पर हो रहे हमलों को लेकर कभी टास्क फोर्स नहीं पहुंची।
झिंडा ने कहा कि वास्तव में प्रधानमंत्री व अन्य महत्वपूर्ण पदों पर सिख समाज के लोगों को जगह देकर सरकारें इनका प्रयोग कर रही हैं और इन्हीं के माध्यम से सिखों को दबाया जा रहा है। झिंडा ने मांग की कि जहां कहीं भी कोई संत या डेरा संचालक किसी धर्म को चलाने की बात करता है तो उसका एक संविधान बनना चाहिए ताकि डेरे की परंपरा, धर्म प्रचार का तरीका व दायरा सार्वजनिक हो सके। उन्होंने कहा कि एक ओर डेरा प्रेमियों का कितनी भी संख्या में कभी भी कहीं भी नामचर्चा करने की छूट है जबकि सिख समाज के लोगों को अपने धर्म स्थानों, गुरू घरों की सुरक्षा के लिए घर से बाहर तक नहीं निकलने दिया जाता। यह सब वोट की राजनीति का परिणाम है। एक सवाल के जवाब में झिंडा ने कहा कि उन्हें राज्य सरकार से सिखों पर हमले करने वाले आरोपियों पर कार्रवाई की कोई उम्मीद नहीं है क्योंकि इससे पहले भी डेरा प्रमख्ुा पर अनेक मुकदमें हैं। बावजूद इसके सरकार उन्हें सुरक्षा देकर बचा रही है। अलग गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की स्थापना को लेकर पूछे गए एक प्रशभन के उत्तर में झिंडा ने कहा कि पिछले चुनाव में कांग्रेस ने उनके साथ धोखा किया और इनेलो भी बादल के दबाव में आकर बादल की नीतियाें के तहत काम कर रही है इसलिए चुनाव के समय ही यह तय किया जाएगा कि सिखों का राजनीति फैसला क्या होगा। उन्होंने दोहराया कि वे अमन शांति के लिए हर संभव प्रयास करेंगे और सिख समाज की मदद के लिए तत्पर रहेंगे। इस मौके पर संपूर्ण सिंह, डा. गुरचरण सिंह, जसपाल सिंह, जिला प्रधान मालक सिंह भावदीन, गुरबख्श सिंह, जसवंत सिंह विर्क, जग्गरसिंह, डा. अवतार सिंह, सेवा सिंह, अंग्रेज सिंह रानियां, वीरेंद्र सिंह आदि मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

स्वास्थ्य कर्मचारियों को मिलेगा दोगुना वेतन, दिल्ली सरकार देने जा रही है तोहफा

सरकार ने इन कर्मचारियों का वेतन दोगुना करने के साथ-साथ हर साल चिकित्सीय अवकाश के तौर पर 15 दिन की छुट्टी देने का फैसला लिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper