सिरसा में कर्फ्यू में 15 घंटे की ढील

Hisar Updated Tue, 27 Nov 2012 12:00 PM IST
सिरसा। शहर में सुधरते हालात को देखते हुए सोमवार को जिलाधीश डा.जे गणेशन ने कर्फ्यू में 15 घंटे की ढील दी गई। सोमवार सुबह छह बजे से दस बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई जिसके बाद सभी बाजार खुले और लोगों ने अपनी जरूरत के सामान की खरीदारी की। बाद में इसे शाम छह बजे तक बढ़ा दिया गया। फिर शाम में इसे बढ़ाकर रात नौ बजे तक कर दिया गया। जिससे दिनचार्या पटरी पर लौटती नजर आई। सुरक्षा को लेकर चप्पे चप्पे पर अर्द्धसैनिक बल और पुलिस के जवान तैनात रहे तो दूसरी ओर डीसी, एसएसपी ने जवानों को साथ लेकर फ्लैग मार्च किया।
जिलाधीश डा. जे गणेसन ने रविवार को घोषणा की थी कि सोमवार को सुबह छह से दस बजे तक और दोपहर दो से पंाच बजे तक कर्फ्यू में ढील रहेगी। सोमवार प्रात: ही दुकानें खुलने लगी। लोगो ने घरों से बाहर निकलकर सब्जी, जरूरी किरयाणा का सामान आदि खरीदे। हर व्यक्ति दस बजे से पहले जरूरी सामान खरीदने और काम निपटाने में लगा रहा। प्रशासन की ओर से ढील को जारी रखते हुए शाम छह बजे तक कर दिया गया लेकिन नगर में तैनात अर्धसैनिक बल के जवानों को इसकी खबर नहीं दी गई। ऐसे में जवानों ने दस बजे के बाद सख्ती करनी शुरू कर दी। ऐसे में लोगों को जवानों के कोप का शिकार बनना पड़ा। बाद में सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट तक इसकी सूचना पहुुंचाई गई। दुकानें तो निर्धारित समय तक खुली रहीं लेकिन ग्राहक नहीं दिखे। जैसे जैसे शाम होती गई बाजारों में सन्नाटा पसरता गया।

नाकों पर हुई हर वाहन की सघन जांच
-----------------------
कर्फ्यू में ढील के दौरान पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद रहा। ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगातर गश्त करते रहे। शहर में आने वाले विभिन्न मार्गों पर स्थापित किए गए नाकों पर सभी वाहनों की चेकिंग की गई। शहर के भीतर वाहनों का आवागन शाम छह बजे तक जारी रहा। जिलाधीश की ओर से ड्यूटी मजिस्ट्रेट को आदेश दिए कि जहां कहीं भी असामाजिक तत्व का पता चले वे तुरंत कार्रवाई करें।

बसें चली पर नगर में नहीं आई
सोमवार को कर्फ्यू में ढील के दौरान बस स्टैंड से दिल्ली, चंडीगढ़ के लिए बसें रवाना हुई साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों की ओर बसें रवाना की गई। जिससे यात्रियों ने राहत की सांस ली। प्राइेवट बसें और जीपों को नगर के भीतर प्रवेश नहीं करने दिया गया उन्हें नगर की सीमा के बाहर ही रोका गया। जहां से यात्री पैदल या ऑटो रिक्शा से घर तक आए। हिसार, डबवाली, ऐलनाबाद रानियां की ओर से आने वाली बसों को बाईपास से होकर निकाला गया। पिछले दो दिनों में रोडवेज को करीब 12 लाख रुपये का नुकसान आंका जा रहा है।

अर्धसैनिक बल के जवानो ने किया फ्लैग मार्च
--------------------------
सोमवार को जिलाधीश डा.जे गणेशन, एसएसपी डा.राजश्री सिंह आदि अधिकारियों ने अर्धसैनिक बल के जवानों के साथ शहर में फ्लैग मार्च किया। रानियां रोड स्थित गुरुद्वारों के आसपास गश्त तेज रही साथ ही पुलिस बल तैनात रहा। नगर में सीआरपीएफ, आरएएफ की नौ कंपनी तैनात रही। इसके साथ ही जिलेभर में एचएपी की 22 रिजर्व बल तैनात की गई। संवेदनशील चौक, मार्ग पर अर्द्धसैनिक बल के सशस्त्र जवान तैनात रहे। जगह-जगह पर बैरिकेट्स लगाकर नाकाबंदी की गई थी।

संत गुरमीत सिंह तिलोकेवाला की हालत में सुधार
जिला प्रशासन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि चंडीगढ़ में एसजीपीसी सदस्य और संत बाबा गुरमीत सिंह तिलोकेवाला का सफलतापूर्वक ईलाज चल रहा है और उनकी हालत ठीक है। उन्हें पीजीआई सेक्टर 16 के सिविल अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। उन्होंने आमजन से फिर अपील की है कि वे किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न दें। प्रशासनिक अधिकारियों ने संत गुरमीत सिंह तिलोकेवाला का परिजन जो उनके साथ चंडीगढ़ गया हुआ है उनसे मोबाइल पर बात हुई है। उन्होंने बताया कि संत गुरमीत सिंह तिलोकेवाला की हालत बिल्कुल ठीक है। उन्होंने आमजन से यही कहा है कि वे अफवाहों से बचे।


डबवाली पहुंचे आईजी
--------------------
सिरसा में हुए डेरा-सिख विवाद के बाद पंजाब से सटे शहर डबवाली पर प्रशासन की ओर से विशेष नजर रखी जा रही है। सोमवार को श्री गुरुनानक देव के प्रकाशोत्सव पर निकले नगर कीर्तन के दौरान पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रही। किसी अनहोनी की आशंका के चलते पुलिस नगर कीर्तन के चारों ओर चल रही थी। रविवार रात को आईजी कानून व्यवस्था -द्वितीय मोहम्मद अकील, हिसार रेंज के आईजी एएस चावला एसपी सतींद्र गुप्ता डबवाली पहुंचे। रैस्ट हाऊस में उन्हाेंने डबवाली के डीएसपी पूर्ण चंद पवार तथा शहर थाना प्रभारी रवि खुंड़िया को विवाद को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। पंजाब तथा राजस्थान सीमा पर लगे पुलिस नाकों की समीक्षा की।

दोषियों की होगी जांच, शांति बनाए रखें : हुड्डा
भैंसवाल/सोनीपत। मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड् डा ने यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि सिरसा में हुई हिंसा के दोषी व्यक्तियों के बारे में जांच की जाएगी, मैं लोगों से अपील करता हूं कि शांति बनाए रखे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

1300 भर्तियों के मामले में फंसे आजम खां, एसआईटी ने जारी किया नोटिस

अखिलेश सरकार में जल निगम में हुई 1300 पदों पर हुई भर्ती को लेकर आजम खा के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है।

16 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper