लिपिक वर्ग कल मनाएगा रोष दिवस

Hisar Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
जींद। हरियाणा रोडवेज मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष बलराज देशवाल ने कहा है कि लिपिक वर्ग को सरकार की रीढ़ माना जाता है क्योंकि यह वर्ग सरकार की स्कीमों व जन कल्याणकारी घोषणाओं को सही अमलीजामा पहनाने का कार्य करता है। लेकिन वेतनमान के नाम पर इसी वर्ग के साथ अन्याय किया जा रहा है।
देशवाल मंगलवार को बस अड्डा स्थित यूनियन कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लिपिक कर्मियों ने दो अक्तूबर को रोहतक में प्रदर्शन कर एक नवंबर तक वेतनमान दुरुस्त करने का अल्टीमेटम सरकार को दिया था। सरकार ने अभी तक यूनियन पदाधिकारियों से कोई बात नहीं की। इसके चलते मिनिस्ट्रियल स्टाफ एक नवंबर को रोष दिवस के रूप में मनाएगा। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के वेतनमान पंजाब सरकार के समान नहीं किए गए तो प्रदेश के तमाम लिपिक सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंगे।
उन्होंने कहा कि मिनिस्ट्रीयल स्टाफ की तरह ही हरियाणा सरकार चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है, क्योंकि छठे वेतन आयोग की विसंगतियां दूर नहीं की जा रही। उन्होंने कहा कि एसोसिएशन की मांग है कि लिपिकों को ग्रेड पे 3200 देकर पे बैंड दो में शामिल किया जाए। सहायक, लेखाकार, जूनियर आडिटर को 4200, आंकड़ा सहायक को 4600, उपअधीक्षक को 4800, अधीक्षक को 5400 ग्रेड पे दी जाए और चुतर्थ श्रेणी कर्मचारियों को 2800 रुपये ग्रेड पे दिया जाए। कैशियर व स्टेनो को 500 रुपये अतिरिक्त दिए जाएं। सभी विभागों में रिक्त पड़े पदों को भरा जाए। लिपिकों को कंफर्म किया जाए। एसीपी को व्यवाहरिक बनाया जाए। लिपिकों से अन्य कार्य न लिए जाएं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017