पुलिस कर्मियाें को धमकाने वाले को कैद

Hisar Updated Fri, 12 Oct 2012 12:00 PM IST
फतेहाबाद। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अश्वनी गोयल की अदालत ने पुलिस कर्मचारियाें को पिस्तौल दिखाकर धमकाने के मामले में सुनवाई करते हुए वीरवार को एक दोषी को 7 साल की कैद और 3500 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। मामले में तीन नाबालिग आरोपियाें के विरुद्ध जुनाइल कोर्ट में मामला विराचाधीन है।
2 जुलाई 2011 को पुलिस को सूचना मिली थी कि भूना रोड पर कुछ युवक आने-जाने वाले वाहनाें से वसूली कर रहे है। सीआईए पुलिस के सब इंस्पेक्टर दलीप सिंह अपनी टीम के साथ एक निजी जीप में मौके पर पहुंच गए। युवकाें ने इस जीप को रोक लिया और पुलिस अधिकारी दलीप सिंह और अन्य कर्मियाें पर पिस्तौल तान कर धमकाना शुरू कर दिया। पुलिस ने सतपाल पुत्र बृजलाल निवासी गांव नाईवाला, कृष्ण पुत्र इंद्र सिंह निवासी भट्टूकलां, मनजीत पुत्र शिवलाल व टिंकू पुत्र तारा चंद पर मामला दर्ज किया था। आज इस मामले की सुनवाई करते हुए अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अश्वनी गोयल की अदालत ने सतपाल पुत्र बृजलाल निवासी गांव नाईवाला को 7 साल की सजा और 3500 रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। इस मामले में कृष्ण पुत्र इंद्र सिंह निवासी भट्टूकलां, मनजीत पुत्र शिवलाल व टिंकू पुत्र तारा चंद के विरूद्ध जुनाईल कोर्ट में मामला विराचाधीन है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls