घटिया कीटनाशक के खिलाफ किसानों कर प्रदर्शन

Hisar Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
डबवाली (सिरसा)। अनाज मंडी स्थित एक आढ़ती फर्म और जिला कृषि अधिकारी के खिलाफ किसानों ने बुधवार को प्रदर्शन किया। उपमंडलाधीश को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की। एसडीएम ने किसानों को मामले की जांच करवाने का आश्वासन दिया।
बुधवार को किसान हरियाणा किसान मंच के बैनर तले अनाज मंडी स्थित किसान विश्राम गृह के समक्ष इकट्ठे हुए। मंच के राज्य अध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा, जिला अध्यक्ष दयाराम फतेहपुरिया, राम सिंह बनवाला, गुरनाम सिंह, प्रीतम सिंह जलालआना, बूटा सिंह हैबूआना, मनोज कुमार, राजा राम आसाखेड़ा, उमेश कुमार के नेतृत्व में जिला कृषि अधिकारी अमरदीप कुलड़िया और डबवाली की एक फर्म के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उपमंडलाधीश कार्यालय पर पहुंचे। जहां किसानों ने जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा ने बताया कि गांव सकताखेड़ा के किसान विष्णु और सुरेश कुमार ने गांव के एक जमींदार की भूमि ठेके पर ली हुई है। 10 एकड़ में उन्होंने नरमा की बिजाई की थी। फसल पर अचानक तेला और मच्छर का हमला हुआ। उन्हें अनाज मंडी की एक आढ़ती फर्म ने एक कंपनी के कीटनाशक का छिड़काव करने का सुझाव दिया। छिड़काव के प्रभाव से फल, टिंडे और फूल खराब हो गए। किसानों ने इस बारे में संबंधित आढ़ती फर्म, कीटनाशक की संबंधित कंपनी और जिला कृषि अधिकारी को शिकायत की। कंपनी अधिकारी ने जांच में कीटनाशक को नकली बताया लेकिन कृषि अधिकारी की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई।
उपमंडलाधीश को सौंपा ज्ञापन
कार्रवाई की मांग को लेकर किसानों ने उपमंडलाधीश सुभाष श्यारोण को एक ज्ञापन सौंपा। उपमंडलाधीश ने कहा कि वे अपने स्तर पर मामले की जांच करवाएंगे। जांच के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उधर मामले की जांच के लिए बुधवार को कृषि विभाग के संयुक्त निदेशक (काटन) रवि चंद्र पूनियां डबवाली पहुंचे। उन्होंने किसानों के साथ-साथ संबंधित पक्षों के बयान कलमबद्ध किए। उन्होंने मौका का मुआयना भी किया।
फसल खराब होने का मुख्य कारण बीमारी
पूनियां के अनुसार खंड कृषि अधिकारी राजा राम पोटलिया ने मौका का मुआयना कर रिपोर्ट पेश की थी। रिपोर्ट के अनुसार कीटनाशक के प्रयोग से 20 से 30 प्रतिशत प्रभाव फसल पर पड़ा है लेकिन फसल के खराब होने का मुख्य कारण बीमारी है। उन्हाेंने बताया कि जिस फर्म पर आरोप लगाया जा रहा है, उसके पास कीटनाशक बेचने का लाइसेंस नहीं है। अगर इस बात की पुष्टि होती है कि फर्म ने कीटनाशक बेचा है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

सीएम योगी ने सुनी गुहार, .... और छलक पड़ी आंखे, जानें क्या था मामला

सीएम योगी ने केजीएमयू में कैंसर पीड़ित की गुहार सुनी और उसे मुख्यमंत्री कोष से इलाज कराने का आश्वासन दिया।

19 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper