विज्ञापन
विज्ञापन
UP Board Result 2019 UP Board Result 2019

गोरखपुर में परमाणु संयंत्र का रास्ता साफ

Hisar Updated Thu, 30 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
फतेहाबाद। गोरखपुर परमाणु संयंत्र के लिए अधिग्रहित की जाने वाली जमीन के 95 फीसदी से ज्यादा के भू मालिकों ने मुआवजा ले लिया है। ऐसे में परमाणु संयंत्र लगना तो निश्चित हो ही गया है साथ ही किसानाें का धरना भी बिखरने की कगार पर आ गया है। मुआवजा राशि लेने वालाें में गोरखपुर किसान संघर्ष समिति के प्रधान हंसराज सिवाच के दोनों बेटे भी शामिल हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
फतेहाबाद में न्यूक्लियर पावर कारपोरेशन ऑफ इंडिया ने 2010 में गांव गोरखपुर के पास परमाणु संयंत्र लगाने के लिए जमीन का चयन किया था। इसके बाद संयंत्र को लेकर आगे की कार्रवाई शुरू हुई। 28 जुलाई 2010 को सरकार ने यहां पर जमीन अधिग्रहण को लेकर सेक्शन-4 लागू कर दिया। परमाणु संयंत्र के लिए सरकार को गांव गोरखपुर, बडोपल और काजलहेड़ी की 1503 एकड़ जमीन का अधिग्रहण करना है। इसमें गांव गोरखपुर की 1313 एकड़ जमीन आती है। वहीं गोरखपुर के किसानों का एक धड़ा अधिग्रहण के खिलाफ हो गया।
किसान अपना हुक्का लेकर लघुसचिवालय के बाहर आ गए और 27 अगस्त 2010 को उन्होंने अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। इस बीच सरकार ने 26 जुलाई 2011 में सेक्शन-6 लगाकर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी और 27 जुलाई को अवार्ड की घोषणा भी कर दी। इस दौरान किसान भूख हड़ताल पर भी बैठे। इस आंदोलन में अब तक तीन किसान अपनी जान भी गंवा चुके हैं। किसानों ने अपने आंदोलन को और बढ़ाते हुए परमाणु संयंत्र को हाईकोर्ट में भी चुनौती दी थी।

बॉक्स
उपायुक्त एमएल कौशिक ने बताया कि अब तक 95 फीसदी किसान जमीन के लिए मुआवजा ले गए हैं। उन्हाेंने पांच सितंबर को एनपीसीआईएल के अधिकारियों और वैज्ञानिकों की बैठक बुलाई है। जिसमें परमाणु संयंत्र की जमीन का कब्जा लेने और औपचारिक रूप से काम शुरू करवाने पर चर्चा की जाएगी।

हाईकोर्ट जाने वाले भी ले गए मुआवजा
जिन किसानाें ने उच्च न्यायालय में परमाणु संयंत्र के खिलाफ याचिका दायर की थी वह किसान ही जमीन की मुआवजा राशि ले गए। हालांकि 26 सितंबर को इस मामले की सुनवाई होनी है, लेकिन हाईकोर्ट में केस डालने वाले अधिकतर किसान मुआवजा राशि के चेक ले चुके हैं। केस डालने वाले पृथ्वी शर्मा शुक्रवार को ही अपना चेक लेकर गए हैं। आंदोलनकारी किसानों पृथ्वी सिंह, साधूराम आदि ने फरवरी 2012 में हाईकोर्ट में केस डाला था। किसानों ने तर्क दिया था कि जहां पर परमाणु संयंत्र स्थापित किया गया है, उसके आसपास घनी आबादी के गांव हैं। इसके अलावा पर्यावरणीय संबंधी मामले को भी हाईकोर्ट में रखा गया। इस मामले में हाईकोर्ट ने भी सरकार से जवाब मांगे थे। इस केस की अब तक तीन बार सुनवाई हो चुकी है और अब 26 सितंबर 2012 की डेट मिली हुई है।

प्रधान के पास नहीं जवाब
हाईकोर्ट में केस लड़ने संबंधी सवाल को लेकर गोरखपुर किसान संघर्ष समिति के प्रधान हंसराज सिवाच से बातचीत की गई तो उनके पास कोई जवाब नहीं था। वह इतना ही कह पाए कि वह इस बारे पृथ्वी आदि से बातचीत करके बताएंगे।


403 करोड़ से अधिक का दिया मुआवजा
गोरखपुर में लगने वाले परमाणु बिजली संयंत्र के लिए 1503 एकड़ भूमि में से अब तक कुल 1317 एकड़ भूमि की एवज में 403 करोड़ से भी अधिक मुआवजा राशि ली जा चुकी है।
गोरखपुर
670 किसानों की 1191 एकड़ भूमि के एवज में तीन अरब 66 करोड़ की राशि के चेक
बडोपल
121 किसानों की 122 एकड़ भूमि के एवज में 37 करोड़ 40 लाख 29 हजार 82 रुपये की राशि के चेक
काजलहेड़ी
चार किसानों को लगभग 2.52 एकड़ भूमि के एवज में 77 लाख 51 हजार 897 रुपये की मुआवजा राशि

Recommended

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम
UP Board 2019

UP Board Results देखने के लिए आज ही 8929470909 नंबर पर मिस्ड कॉल करें और फोन पर पाएं परिणाम

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?
ज्योतिष समाधान

कब और कैसे मिलेगी सरकारी नौकरी ?

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

शर्मनाकः मां ने ही करा दी साढ़े 13 साल की बेटी की शादी, दूल्हे और परिवार के खिलाफ केस दर्ज

एक गांव में नाबालिग साढ़े 13 साल की बेटी की शादी उसकी मां द्वारा कराने का मामला सामने आया है।

24 अप्रैल 2019

विज्ञापन

करनाल में कांग्रेस पर सीएम मनोहर लाल खट्टर ने साधा निशाना, लोगों से पूछा ये सवाल

लोकसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां बढ़ती ही जा रही हैं। देशभर में सभी सियासी दलों के नेता जमकर प्रचार कर रहे हैं। रविवार को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने करनाल में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। देखिए ये रिपोर्ट।

7 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election