चिल्ली झील को बचाने के लिए संकेतिक धरना

Hisar Updated Sun, 19 Aug 2012 12:00 PM IST
फतेहाबाद। ऐतिहासिक चिल्ली झील के अस्तित्व को बचाने के लिए चिल्ली विकास संघर्ष समिति के आह्वान पर शनिवार को विभिन्न संगठनों ने जवाहर चौक में सांकेतिक धरना दिया। धरने में भाजपा, इनेलो, माकपा सहित अनेक सामाजिक संगठनाें के पदाधिकारियों ने भी अपना समर्थन दिया और चिल्ली का सुधार कार्य जल्द शुरू न होने पर बड़े आंदोलन की राह पकड़ने का ऐलान किया।
अध्यक्षता कर रहे समाजसेवी दलीप सिंह बेधड़क ने बताया कि चिल्ली झील के सुधारीकरण की दिशा में उनकी मुख्य मांगों में चिल्ली झील में सीवरेज का गंदा पानी जाने से रोकने के ठोस प्रबंधन किए जाने, चिल्ली झील की गंदगी को साफ करके नगर परिषद को इसका मालिकाना हक देकर इसे पर्यटन स्थल का दर्जा दिलाने, चिल्ली क्षेत्र में हो रहे कब्जों पर रोक लगाने और कब्जा करने वालों पर कानूनी कार्रवाई करने जैसी मुख्य मांगे शामिल हैं। इसके अलावा चिल्ली क्षेत्र में बनाए जा रहे डिस्पोजल को चालू करने से पहले इसमें एकत्रित होने वाली गंदगी की निकासी का प्रबंध किया जाए ताकि इस डिस्पोजल के शुरू होने के बाद शहरवासियों को किसी तरह की परेशानी न उठानी पड़े। उन्होंने प्रशासन को चेताया कि यदि बिना गंदगी की निकासी का प्रबंध किए डिस्पोजल शुरू किया गया तो जनहित में वे अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे। इस मौके पर समिति संयोजक का. हरनाम सिंह, देवीलाल एडवोकेट, समाजसेवी बनारसी दास मोंगा, का. मनफूल ढाका और कर्मचारी नेता मोहनलाल नारंग ने प्रशासन से चिल्ली क्षेत्र में पौधा रोपण किए जाने की मांग की। पूर्व विधायक बलबीर चौधरी, भाजपा जिलाध्यक्ष मोलूराम रूहलानिया, इनेलो हलकाध्यक्ष बलवान दौलतपुरिया ने भी फतेहाबाद की मुख्य पहचान रही ऐतिहासिक चिल्ली झील के सुधार की दिशा में ठोस कदम उठाए जाने की बात कही। धरने को गुरुद्वारा सिंह सभा प्रधान महेन्द्र वधवा, वरिष्ठ नागरिक परिषद अध्यक्ष राधेश्याम टांटिया, सेवानिवृत्त पेंशन उपभोक्ता यूनियन के महेंद्र रत्ति, सेवा भारती से अशोक धमीजा, जिन्दगी संस्था अध्यक्ष हरदीप सिंह, सुरेन्द्र नायक, कर्मचारी महासंघ के हरिचन्द कंबोज ने भी संबोधित किया।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

स्वास्थ्य कर्मचारियों को मिलेगा दोगुना वेतन, दिल्ली सरकार देने जा रही है तोहफा

सरकार ने इन कर्मचारियों का वेतन दोगुना करने के साथ-साथ हर साल चिकित्सीय अवकाश के तौर पर 15 दिन की छुट्टी देने का फैसला लिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper