अस्पताल में अटेंडेंट की हत्या में दो गिरफ्तार

Faridabad Updated Mon, 03 Dec 2012 05:30 AM IST
फरीदाबाद। एनएच-तीन सी स्थित मनचंदा अस्पताल में रात के समय एक्सरे रूम में सोए अटेंडेंट की हत्या किए जाने के मामले में पुलिस ने रविवार को दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा।
एसजीएम नगर थाना प्रभारी नरेंद्र राव ने बताया कि गत रविवार-सोमवार की रात मनचंदा अस्पताल में की गई अटेंडेंट पंकज की हत्या के आरोप में अस्पताल के पूर्व कर्मचारी दीपक व उसके साथी कृष्ण को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ में दीपक ने बताया कि वह तीन साल से अस्पताल में नौकरी कर रहा था। पंकज, डॉक्टर सुभाष मनचंदा से उसकी शिकायत करता था, जिसके चलते तीन-चार माह पूर्व डॉक्टर मनचंदा ने उसे (दीपक) नौकरी से हटा दिया था। पंकज ने वारदात से एक दिन पहले भी उसकी शिकायत डॉक्टर से की थी, जिसके बाद डॉक्टर मनचंदा ने उसको (दीपक) डांट लगाने के साथ पीटकर अस्पताल से भगा दिया था। इसी बात से खफा होकर उसने अपने साथी नेहरू कालोनी निवासी कृष्ण के साथ मिलकर पंकज की हत्या करने की साजिश रची थी।
आरोपियों ने बताया कि रात को पंकज से ही अस्पताल का मेन गेट खुलवाया था। एक्सरे रूम में बात करने के दौरान उसकी हत्या की गई। पुलिस के मुताबिक, आरोपी कृष्ण नेहरू कालोनी में रहता है और रिक्शा चलाता है। हत्या की घटना को अंजाम देने के लिए बाद यह दोेनों बिहार के जिला मधुबनी चले गए थे, लेकिन पूरी तरह से दीपक का नाम सामने आने पर वह किसी तरह इस मामले को निपटाने के उद्देश्य से कृष्ण के साथ वापस नेहरू कालोनी आ पहुंचा। सूचना मिलने पर पुलिस इन दोनों को नेहरू कालोनी से धर दबोचा। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।
गौरतलब है कि सोमवार रात को एनएच-तीन सी ब्लॉक स्थित मनचंदा अस्पताल में एनएच-दो शनि मंदिर के नजदीक रहने वाले अटेंडेंट पंकज (22) की चाकू से वार कर हत्या कर दी गई थी। हत्यारे उसके शव को एक्सरे रूम से खींच कर बेसमेंट में ले गए थे। पुलिस ने अस्पताल प्रबंधक डॉक्टर मनचंदा की शिकायत पर केस दर्ज कर इस मामले में जांच शुरू की थी। मनचंदा ने ही इस मामले में अपने यहां पूर्व में काम करने वाले कर्मचारी नेहरू कॉलोनी निवासी दीपक पर हत्या करने का शक जताया था। पुलिस ने दीपक के घर छापेमारी की थी, लेकिन वह घटना के बाद से ही घर से गायब था, जिससे पुलिस का उस पर शक और गहरा गया था। पुलिस ने दीपक की तलाश में दिल्ली व एनसीआर में कई स्थानों पर छापेमारी की थी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

गुरुग्राम में धारा 144 लागू, ‘पद्मावत’ देखने जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शन और विवाद को देखते हुए गुरुग्राम में धारा 144 लगा दी गई है।

24 जनवरी 2018