नगर निगम की तोड़फोड़ पर बवाल

Faridabad Updated Tue, 18 Sep 2012 12:00 PM IST
फरीदाबाद। हाईकोर्ट के निर्देशों के आलोक में नगर निगम प्रशासन ने सोमवार सुबह शहर के दो बाजारों में जबरदस्त तोड़फोड़ की। इसके खिलाफ व्यापारियों ने जमकर बवाल काटा।
एनएच-एक मार्केट एवं पांच नंबर में व्यापारियों ने बिना नोटिस तोड़फोड़ कार्रवाई का आरोप लगाते हुए पुलिस एवं नगर निगम की टीम पर पथराव किया। दोनों बाजारों में व्यापारियों ने तोड़फोड़ में खराब हुए फर्नीचर सड़क पर एकत्र कर उसमें आग लगाकर विरोध जताया। विरोध में पांच नंबर थाने के एसएचओ की गाड़ी के शीशे टूट गए, इससे बौखलाई पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में ले लिया। इसके अलावा अन्य कई जगहों पर भी व्यापारी और पुलिस वाले आपस में उलझ गए। पुलिस ने लाठियां भांजी।
इन्हें छुड़वाने के लिए पांच नंबर मार्केट को बंद कर व्यापारियों ने भाजपा नेत्री सीमा त्रिखा के नेतृत्व में जाम लगा दिया। इसके बाद नारेबाजी करते हुए थाने पहुंच गए, जहां पुलिसवालों को झुकना पड़ा। दबाव में पुलिस ने हिरासत में लिए गए व्यापारी राजू खरबंदा, रमन चावला, रमेश एवं अनिल भाटिया को छोड़ दिया। रमन ने आरोप लगाया कि पुलिस वालों ने उसके साथ मारपीट की। इसके बाद नगर निगम अधिकारियों एवं पुलिसवालों पर कार्रवाई की मांग को लेकर व्यापारियों ने नीलम एवं बीके चौक पर जाम लगा दिया। यहां व्यापार मंडल के नेता जगदीश भाटिया भी दल बल के साथ पहुंच गए। उन्होंने नगर निगम एवं पुलिस प्रशासन को खरीखोटी सुनाई।
सीमा त्रिखा एवं व्यापारी नेता बंसी कुकरेजा आदि ने कहा कि नगर निगम ने सिर्फ अपनी दुकानों के आगे से सामान हटवाने की मुनादी करवाई थी, जबकि बिना नोटिस तोड़फोड़ कर दी गई। पुलिसवालों ने निर्दोष व्यापारियों पर लाठियां भांजी हैं। इसलिए दोनों पर कार्रवाई हो। जाम लगने के बाद नीलम चौक पर एसडीएम सुनील सारवान पहुंचे। उन्हाेंने बताया कि जिला उपायुक्त ने भरोसा दिलाया है कि किसी व्यापारी के साथ अनुचित नहीं होगा। इस बारे में उन्होंने मंगलवार को बैठक बुलाई है।
इससे पहले सुबह करीब छह बजे ही पुलिस बल के साथ नगर निगम की टीम बाटा फ्लाईओवर के नीचे और आसपास की अवैध दुकानों को तोड़फोड़ करने पहुंची। लेकिन, वहां पर पूर्व विधायक चंदर भाटिया एवं समाजसेवी दीनदयाल गौतम के नेतृत्व में बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने विरोध शुरू कर दिया। इसके बाद तोड़फोड़ दस्ते को एक नंबर मार्केट लौटना पड़ा। यहां पर नगर निगम ने पूरी मार्केट में दुकानों के आगे चबूतरे एवं छज्जे बनाकर किए गए अतिक्रमण को तोड़ा। तोड़फोड़ की कार्रवाई नगर निगम एनआईटी जोन की संयुक्त आयुक्त अनिता यादव के नेतृत्व में की गई। नगर निगम की तोड़फोड़ शाखा के एसडीओ ओपी मोर ने दावा किया कि हाईकोर्ट के निर्देश पर दोनों बाजारों में लगभग पांच सौ दुकानों के आगे से अतिक्रमण हटाकर तोड़फोड़ की गई।


जाम के साइड इफेक्ट से शहर में ट्रैफिक जाम
-नीलम पुल पर लगभग दो घंटे के जाम से शहर से लेकर हाइवे तक की ट्रैफिक व्यवस्था ध्वस्त हो गई। इसकी वजह से बीके चौक से ही पुलिस ने ट्रैफिक को सर्विस लेन एवं एक नंबर से डायवर्ट करना शुरू कर दिया। इस वजह से बड़खल एवं बाटा फ्लाईओवर पर ट्रैफिक का दबाव बढ़ गया, जिससे वहां पर गाड़ियां रेंग रेंगकर निकलीं। इससे हाइवे पर भी लगभग दो घंटे तक ट्रैफिक धीमा रहा। जाम के कारण कुछ दोपहिया चालकों ने जान हथेली पर रखकर नीलम पुल के नीचे से हाईवे एवं एनआईटी पहुंचने की कोशिश की।


बड़े अवैध निर्माणों को छोड़ा : गेरा

अवैध निर्माणों एवं सीएलयू (चेंज ऑफ लैंड यूज) के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका डालने वाले केएल गेरा ने कहा है कि नगर निगम ने उन निर्माणों पर कोई कार्रवाई नहीं की है, जिनका याचिका में जिक्र है। सिर्फ दिखाने के लिए आम व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। जो बड़े अवैध निर्माण हैं, उन्हें नगर निगम अधिकारी छोड़ रहे हैं। नगर निगम आयुक्त एवं मेयर के सरकारी घर के पास ही अवैध निर्माण बन रहा है, लेकिन उसे नगर निगम नहीं तोड़ रहा है।


अवैध निर्माण के बदले तोड़े दुकानों के छज्जे: भाटिया

व्यापार मंडल के प्रधान जगदीश भाटिया ने निगम की कार्रवाई की निंदा की है। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने नगर निगम क्षेत्र में बनाए गए अवैध निर्माणों को तोड़ने के आदेश जारी किए थे। लेकिन निगम अधिकारियों ने इन आदेशों की आड़ में बुलडोजरों के मुंह दुकानों के सामने बने छज्जों की ओर कर दिया।

Spotlight

Most Read

Shimla

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

20 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा के उद्योग मंत्री ने प्रधानमंत्री राहत कोष के लिए इस तरह जुटाए 2.5 करोड़

हरियाणा के उद्योग मंत्री विपुल गोयल द्वारा फरीदाबाद स्थित सूरजकुंड के सिल्वर जुबली हॉल में उपहारों की प्रदर्शनी लगाई। उपहारों की इस प्रदर्शनी के जरिए पीएम राहत कोष के लिए 2.5 करोड़ की धन राशि जुटाई गई।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper