एएसआई की कार से काली फिल्म उतारी

Faridabad Updated Thu, 23 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
फरीदाबाद। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को धता बताने में पुलिसकर्मी भी पीछे नहीं हैं। शहर के पुलिसकर्मी धड़ल्ले से अपनी काराें के शीशों पर काली फिल्म लगाकर घूम रहे हैं। ऐसे ही एक एएसआई का संयुक्त पुलिस आयुक्त के आदेश पर चालान काटा गया है। साथ ही कार से काली फिल्म भी उतार दी गई।
पलवल निवासी एएसआई जगबीर हरियाणा पुलिस में कार्यरत है और शहर के सेक्टर-21सी स्थित संयुक्त पुलिस आयुक्त के कार्यालय में तैनात है। मंगलवार को वह कार से पुलिस आयुक्त कार्यालय पहुंचा। उसने कार पार्किंग में खड़ी कर दी। इसी दौरान संयुक्त पुलिस आयुक्त नवदीप विर्क की नजर उनकी कार पर पड़ गई। उन्होंने अपने कार्यालय में तैनात अन्य पुलिसकर्मियों से कार के बारे में पूछताछ की, तो पता चला कि कार उन्हीं के कार्यालय मेें तैनात एएसआई जगबीर की है।
इस पर जेसीपी ने तुरंत यातायात पुलिस को चालान काटकर जुर्माना वसूलने और फिल्म उतारने के आदेश दे दिए। यातायात पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उसका चालान काटकर फिल्म उतार दी।
वहीं, बड़खल मोड़ और अजरौंदा चौक समेत कई चौराहों पर काली फिल्म लगी कारों के खिलाफ यातायात पुलिस ने अभियान चलाया। एसीपी (यातायात) आत्माराम लांबा ने बताया कि 294 कार चालकों के चालान काटकर काली फिल्म उतारी गई है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

ग्वालियर में आंध्र प्रदेश एक्सप्रेस के 4 डिब्बों में लगी आग, बचाए गए 37 डिप्टी कलेक्टर

मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले के बिरला नगर पुल के पास आंध्रा एक्सप्रेस की चार बोगियों में आग लगने की खबर है।

21 मई 2018

Related Videos

VIDEO: मुख्यमंत्री खट्टर के रोड़ शो में हुआ ये बड़ा ‘अपमान’

फरीदाबाद में देश के राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला सामने आया है। तिरंगे का अपमान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के रोड शो में हुआ है। हैरानीजनक तथ्य यह है कि जिस खुली जीप में सीएम रोड शो कर रहे थे, उसी जीप में तिरंगा उल्टा लगा हुआ था।

29 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen