विज्ञापन

हनुमान ढाणी की जमीन पर विवाद गहराया

Rohtak Bureauरोहतक ब्यूरो Updated Thu, 13 Sep 2018 01:28 AM IST
ख़बर सुनें
अमर उजाला ब्यूरो
विज्ञापन
विज्ञापन
भिवानी। हनुमान ढाणी में विवादित जमीन पर भले ही प्रशासन की ओर से निर्माण कार्य रुकवा दिया गया हो मगर अब नया विवाद खड़ा हो गया है। नप सचिव ने शहर थाना में शिकायत कर अवैध कब्जे का आरोप लगाते हुए आरोपियों पर केस दर्ज करने के लिए लिखा है तो जमीन के दावेदार ने भी कागजात दिखाते हुए जमीन पर अपना दावा किया है। उन्होंने कहा कि इस जमीन का टैक्स तक भरा है।
हनुमान ढाणी में करीब 66 सौ गज जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। विवाद सोमवार की रात उस समय गहरा गया जब एक पक्ष ने यहां निर्माण कार्य शुरू कर दिया। इसके बाद सैनी ने इसकी शिकायत पुलिस को की। पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हुई तो डीसी को सूचित किया गया। डीसी ने पुलिस भेजकर निर्माण कार्य रुकवा दिया। इसके बाद मंगलवार को सैनी सभा के लोग डीसी से मिलने पहुंचे और बताया कि यह श्यामलात की जमीन है और नगर परिषद के तहत आती है। वर्षों से इसकी देखरेख सैनी सभा कर रही है और यहां महिला शौचालय और पशुओं के लिए जगह बना रखी है। कुछ लोग अवैध कब्जा करना चाहते हैं।
इसी मामले में बुधवार को नगर परिषद सचिव ने एसपी, एसएचओ सिटी को पत्र लिखकर नगर परिषद की जमीन पर अवैध कब्जा करने का प्रयास करने के आरोप लगाते हुए आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है। वहीं दूसरे पक्ष ने भी जैन चौक चौकी में शिकायत की और अपने कागजात भी दिखाए। इसके बाद अब पुलिस ने नगर परिषद से भी रिकॉर्ड मांगा है ताकि स्पष्ट हो सके कि आखिरकार फिलहाल जमीन का मालिक कौन है।
एक लाख 35 हजार रुपये टैक्स भरा है, रजिस्ट्री भी है
इस मामले में एक पक्ष मैनपाल ने बताया कि जमीन उनकी है। जमीन के कागजात उनके पास हैं। जमीन की रजिस्ट्री, इंतकाल, कमेटी के रिकॉर्ड की कॉपी सब उनके पास है, जिनमें वे मालिक हैं। उन्होंने यहां 20 कनाल 10 मरले जमीन का एक लाख 35 हजार रुपये टैक्स भी जमा करवाया है। अब कुछ लोग बेवजह उन्हें परेशान कर रहे हैं।
टैक्स भरने से कोई जमीन का मालिक नहीं बन जाता
नगर परिषद सचिव राजेश महता ने बताया कि जमीन नगर परिषद की है। कुछ लोग कब्जा करना चाहते हैं, जिनके खिलाफ पुलिस में शिकायत की है। पुलिस ने कुछ कागजात मांगे हैं जो हम मुहैया करवा देंगे। अगर वो कह रहे हैं कि टैक्स जमा करवाया है तो टैक्स तो कोई भी किसी का जमा करवा सकता है। इससे कोई मालिक नहीं बन जाता। रिकॉर्ड में जमीन नगर परिषद के नाम है।
मांगा है रिकॉर्ड
शहर थाना प्रभारी बिक्रम सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों की शिकायत आई हुई। नप से रिकार्ड मांगा है। इसके बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। फिलहाल वहां निर्माण कार्य रुकवा दिया गया है।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

12 क्विंटल वजनी तिजोरी नहीं उठा सके तो चोरों ने को-ऑपरेटिव बैंक में की तोड़फोड़

चोरों ने दिनोद गांव के को-ऑपरेटिव बैंक में शातिराना अंदाज में चोरी का प्रयास किया। चारों ने सबसे पहले बैंक की बिजली लाइन काटी। इसके बाद इनवर्टर की तार फिर रुपयों से भरी तिजोरी को ले जाने का प्रयास किया।

21 जनवरी 2019

विज्ञापन

हरियाणा के गुरुग्राम में बड़ा हादसा, चार मंजिला इमारत गिरी

हरियाणा के गुरुग्राम में एक बड़ा हादसा हो गया है। यहां के उलावास इलाके में एक चार मंजिला इमारत गिर गई है। घटनास्थल पर एनडीआरएफ की टीम राहत कार्य में जुटी हुई है। देखिए ये रिपोर्ट।

24 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree