आठ घंटे, चार जगह छापे, सात फर्जी डाक्टर व सहयोगी पकड़े

Rohtak Bureau Updated Fri, 10 Nov 2017 02:42 AM IST
आठ घंटे, चार जगह छापे, सात झोलाछाप डाक्टर और सहयोगी पकड़े
भिवानी।
झोलाछाप डाक्टरों के खिलाफ सीएम फ्लाइंग और पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की। आठ घंटे चली कार्रवाई में टीम ने दर्जनभर ठिकानों को खंगाला। चार जगहों पर छापा मारकर दो फर्जी डाक्टर व चार सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। टीम ने एक मेडिकल शॉप को सील कर उसके संचालक को पकड़ा है। पुलिस ने भारी मात्रा में दवा बरामद की हैं। गिरफ्तार फर्जी डाक्टर ने तो अपने क्लिनिक में स्वास्थ्य मंत्री के साथ अपना फोटो दीवार पर टांग रखा है।
वीरवार सुबह करीब 10 बजे सीएम फ्लाइंग यहां पहुंची। शहर पुलिस व गुप्तचर विभाग के अलावा डिप्टी सीएमओ कृष्ण कुमार की अगुवाई में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झोलाछाप डाक्टरों के ठिकानों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई की। सीएम फ्लाइंग टीम में एएसआई राजबीर सिंह, सिटी थाना इंचार्ज श्रीभगवान, गुप्तचर विभाग के इंस्पेक्टर आजाद ढांडा आदि शामिल रहे। सीएम फ्लाइंग ने फर्जी क्लीनिक से प्रतिबंधित दवाइयां भी बरामद की हैं। पुलिस ने सातों आरोपियों को काबू कर मामले की जांच शुरू कर दी है। इनके खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।
--
पहला छापा : लक्ष्मी नगर, समय : 10:00
टीम ने लक्ष्मी नगर क्षेत्र में अवैध रूप से चल रहे एक क्लीनिक का भंडाफोड़ कर फर्जी चिकित्सक दिनेश व उसके सहयोगी महेंद्र को काबू किया। खुद को चिकित्सक बताने वाला दिनेश एलआईसी का एजेंट भी बताया जा रहा है। इस क्लीनिक पर एक मरीज भी भर्ती मिला जबकि यहां से दवाएं भी टीम को बरामद हुई।
सीएम फ्लाइंग एसआई राजबीर सिंह ने बताया कि यहां से कुछ दवाइयों को टीम ने कब्जे में लिया है और इनके सॉल्ट की लेबोरेट्री में जांच कराई जाएगी। क्लीनिक संचालकों महेंद्र व दिनेश के पास टीम को न तो कोई डिग्री मिली और न ही दवाइयां रखने संबंधी अनुमति पत्र। टीम के साथ मौके पर पहुंचे सिटी थाना प्रभारी श्रीभगवान ने दिनेश व महेंद्र को काबू कर लिया।
--
दूसरा छापा: जाट धर्मशाला, समय : 12:00
इसके बाद सीएम फ्लाइंग ने करीब 12 बजे जाट धर्मशाला में आयोजित साप्ताहिक स्वास्थ्य जांच कैंप में दबिश दी। यहां मरीजों को थमाई जा रही ओपीडी पर्ची पर नाम तो एमबीबीएस चिकित्सक पीके यादव का लिखा था जबकि उपचार कोई और चिकित्सक दे रहा था। वह मरीजों को एक्यूपंक्चर विधि से उपचार देने का कोई अनुमति पत्र नहीं दिखा पाया। रघुबीर की गाड़ी से पुलिस को कुछ प्रतिबंधित सॉल्ट मिले हैं। वहीं, गाड़ी व कैंप परिसर से सीएम फ्लाइंग को चार बैग बरामद हुए। इनमें से एक बैग में तो हाइड्रोकोटेशन सॉल्ट भी मिला। इसके अलावा दवाओं से भरे पांच इंजेक्शन भी यहां से बरामद हुए हैं। हालांकि चिकित्सक ने मौके पर ही इनमें टेटनेस सॉल्ट होने की बात कही, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इनमें कोई प्रतिबंधित दवा होने का अंदेशा जताया है। करीब डेढ़ घंटे तक यहां जांच चली और डिग्री से लेकर उपचार व दवा वितरण में गड़बड़ी मिलने पर चिकित्सक के चालक को पुलिस टीम ने काबू कर लिया। वह रेवाड़ी शहर के सेक्टर तीन का रहने वाला है और पिछले करीब एक साल से लगातार यहां साप्ताहिक चिकित्सा कैंप में मरीजों की जांच करने आता था।
--
तीसरा छापा: पतराम गेट, समय : 4:00
शाम चार बजे टीम पतराम गेट पर चल रहे आयुर्वेदिक क्लीनिक पर दबिश दी। टीम ने ललित नाम के शख्स को गिरफ्तार किया। आरोपी पर कई नियमों के उल्लंघन का आरोप है।
--
चौथा छापा : हनुमान गेट, समय : 5:00
टीम ने हनुमान गेट क्षेत्र में दबिश देकर एक अवैध मेडिकल स्टोर को सील भी किया है। पुलिस ने मेडिकल स्टोर संचालक पवन को काबू कर लिया। वहीं, पतराम गेट क्षेत्र में छापमारी के दौरान भी टीम को सफलता हाथ लगी है। टीम ने भी यहां से एक फर्जी मेडिकल स्टोर संचालक ललित को काबू किया है। इन सबके खिलाफ स्वास्थ्य विभाग ने सिटी थाना पुलिस को लिखित में शिकायत दी है। इन सातों आरोपियों पर संबंधित एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
--
महिला चिकित्सक के घर रेड गई खाली
सीएम फ्लाइंग ने कृष्णा कालोनी सहित दो अन्य कालोनियों में फर्जी क्लीनिक संचालकों को पकड़ने के लिए दबिश दी लेकिन टीम के पहुंचने से पहले ही ये अपने क्लीनिक व मेडिकल स्टोर को ताला जड़कर मौके से फरार हो गए। वहीं सीएम फ्लाइंग ने कृष्णा कॉलोनी निवासी एक महिला चिकित्सक के घर भी रेड की लेकिन वहां कुछ नहीं मिला। इसके बाद टीम वापस लौट आई।
--
वर्जन....
कुछ चिकित्सकों व उनके सहयोगियों को टीम ने काबू किया है। ये अवैध रूप से क्लीनिक व मेडिकल स्टोर चला रहे थे। यहां से कुछ नुकसानदायक व प्रतिबंधित सॉल्ट भी मिले हैं। सातों के खिलाफ पुलिस को शिकायत दी गई है।
डॉ. कृष्ण कुमार, डिप्टी सीएमओ भिवानी
--
वर्जन.....
हमें इन अवैध क्लीनिक व मेडिकल स्टोरों के खिलाफ लगातार शिकायतें मिल रही थी। पुलिस के खुफिया विभाग की मदद से हमने छापमारी की। जो दवाएं व डिग्रियां संचालकों ने दिखाई वो फर्जी मिली।
एसआई राजबीर सिंह, सीएम फ्लाइंग इंचार्ज
--
स्टोरॉयड के इंजेक्शन व प्रतिबंधित दवाएं बरामद
डिप्टी सीएमओ कृष्ण कुमार ने बताया कि जाट धर्मशाला में आयोजित कैंप में चिकित्सक के बैग से स्टेरॉयड से भरे इंजेक्शन मिले हैं। उन्होंने बताया कि यहां बिना किसी दस्तावेज के एक्यूपंक्चर के जरिए मरीजों को उपचार किया जाता था और इसमें जो सॉल्ट प्रयोग होते थे उनकी प्राथमिक चरण में ही प्रयोग करने की अनुमति मेडिकल साइंस नहीं देता। उन्होंने बताया कि कोर्टिको स्टेरॉयड पांच साल के अंदर मनुष्य की हड्डियों को गला देता है।
झोलाछाप डाक्टरों की क्लीनिकों पर उपचार कराना खतरे से खाली नहीं है। जो उपचार मरीजों को शुरुआत में दिया जाता है मेडिकल साइंस उसे सबसे अंत में अपनाती है। इसका खुलासा शहर में सीएम फ्लाइंग की छापामारी के दौरान हुआ। अब अगर स्वास्थ्य विभागों के जानकारों की बात करें तो ऐसा उपचार महज पांच साल के अंदर ही मनुष्य को चलने-फिरने में असमर्थ बना देता है। छापामारी की कार्रवाई के दौरान एक अवैध क्लीनिक को सील भी किया गया है। जांच के दौरान कोई चिकित्सक बिना मान्यता प्राप्त डिग्री के क्लीनिक चलाता मिला तो कोई बिना अनुमति पत्र के ही एक्यूपंक्चर मशीन के जरिए उपचार देता मिला।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Meerut

दौराला शुगर मिल ने किया 2736.12 लाख रुपऐ गन्ना मुल्य का भुगतान

दौराला शुगर मिल ने किया 2736.12 लाख रुपऐ गन्ना मुल्य का भुगतान

19 फरवरी 2018

Related Videos

डॉक्टर साहब गए आराम फरमाने, गार्ड ने ऐसे किया इलाज

हरियाणा के सिरसा में एक डॉक्टर की संवेदनहीनता देखने को मिली। यहां पर डॉक्टर साहब घायल शख्स का इलाज करने के बजाय आराम फरमाने चले गए। जिसके बाद मौके पर मौजूद एक सफाईकर्मी ने घायल शख्स को टांके लगाए।

19 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen