अफसरों का घेराव, पब्लिक ने सुनाई खरी-खरी

Ambala Updated Wed, 19 Dec 2012 05:31 AM IST
अंबाला। शहर के नदी मोहल्ला, सोगियां मोहल्ला, कलाल माजरी, छोटा सब्जी मंडी क्षेत्र, पम्मी चौक, बस्तीराम बाजार व चौकी नंबर दो क्षेत्र में नालियों का पानी सड़कों पर आ गया है और अब लोगों के घरों में भी घुसने लगा है। यहां के लोगों ने जब इसकी शिकायत निगम में की, तो निगम अफसरों ने नहीं सुनी। इसके चलते मंगलवार को इलाके के लोगों ने नदी मोहल्ला रोड पर जाम लगाकर जमकर बवाल काटा और अफसरों के खिलाफ नारेबाजी की। निवर्मतान पार्षद भी मौके पर पहुंच गए और एसडीएम को स्थिति से अवगत करवाया गया। एसडीएम के निर्देशों पर जब निगम सचिव, ईओ और एक्सईएन मौके पर पहुंचे, तो लोगों ने न केवल उनका घेराव किया, बल्कि उन्हें खरी-खरी सुनाई। करीबन दो घंटे चले हंगामे के बाद अफसरों ने बड़ी मुश्किल से लोगों का शांत कर उनकी समस्या के समाधान का आश्वासन दिया।

अनदेखी की वजह से हंगामा
स्थानीय लोग कुलदीप सिंह गुल्लु, सन्नी मोखा, धर्मवीर, सोनू, डिंपल, करतार, शामलाल व संयोगिता देवी के अनुसार क्षेत्र में उक्त मोहल्लों में नालों में जबरदस्त गंदगी अटी पड़ी है। गाद इतनी ज्यादा है कि नालियों का पानी सड़कों व गलियों में आ गया। निचली गलियों में तो नालियों का पानी घरों के भीतर तक घुसने लगा। उसके बाद लोगों ने शिकायत नगर निगम में की। लेकिन किसी ने सुनवाई ही नहीं। जिस वजह से यहां लोगों का गुजरना भी मुश्किल हो गया और बदबू व मच्छरों की वजह से घरों में रहना भी दूभर हो गया। जबकि यहां कारोबारियों का कारोबार भी प्रभावित होने लगा। लोगों के अनुसार उसके बाद भी जब कोई सुनवाई नहीं हुई, तो उन्हें मजबूरन सड़कों पर उतरकर रोड जाम करनी पड़ी। लोगों ने करीबन पौना घंटा जाम रखा, जिस वजह से शहर के कुछ बाजारों का अंदरूनी यातायात बिगड़ गया। थाना प्रभारी कोतवाली रामनिवास ने मौके पर आकर लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवाया।

अधिकारियों के रवैये से भड़के लोग
लोगों के गुस्से को देख एसडीएम के निर्देशों पर सचिव वीरेंद्र सहारण, एक्सईएन डीके मंगला व ईओ एके जैन तुरंत जेसीबी मशीन लेकर इलाके में पहुंचे। अफसरों के वहां पहुंचते ही लोगों ने उन्हें घेर लिया और उन्हें अपने साथ ले जाकर एक-एक नाला दिखाया और उसमें जाम गंदगी के हालात दिखाए। लोगों ने अफसरों को इस दौरान मौके पर ही जमकर खरी-खरी सुनाई। मौके की नजाकत को देखकर अफसरों ने जेसीबी मशीन से कुछ लोगों के थड़ों को तोड़ना शुरू कर दिया। मगर इस रवैये से लोग और भड़क गए। लोगों ने अफसरों को साफ चेतावनी दी कि यदि नालों पर बने थड़े तोड़ने है तो सभी के तोड़े जाए, पिक एंड चूज की नीति न अपनाई जाए। वरना रोजाना नालों की सफाई करवाई जाए। कुलदीप सिंह गुल्लु व सन्नी मोखा ने कहा कि यदि अफसर पहले ही लोगों की प्राब्लम को समझकर सफाई करवाते तो लोगों का गुस्सा न फूटता। उधर, अफसर भी गुस्साए लोगों को शांत करने के लिए उनके साथ हर उन गंदे नालों व नालियों का मुआयना करते रहे, जिन्हें लोग अफसरों को दिखाना चाहते थे। अफसरों ने बहुत जल्द दिन में सारी सफाई करवाने का आश्वासन देकर उन्हें शांत किया।

नालों के ऊपर लोगों ने खुद ही थड़े बना रखे हैं, ऐसे में सफाई कैसे हो सकती है। अब जब थड़े तोड़ने शुरू किए, तो फिर जनता भड़क गई। निगम के पुराने अफसरों के कार्यकाल में ये थड़े बने हैं, वह इसमें अब क्या कर सकते हैं।
-एके जैन, ईओ, नगर निगम-

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

आजादी का क्रेडिट बापू को देने पर खट्टर के मंत्री को है ये ऐतराज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से अपने बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं।

20 नवंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper