26/11 की बरसी पर लोगों की राय

Ambala Updated Mon, 26 Nov 2012 12:00 PM IST
अंबाला। 26/11 के गुनहगार को फांसी देने के सरकार के फैसले का जहां अंबाला के लोगों ने स्वागत किया है, वहीं उनका कहना है कि आवाम अब आतंकवाद को कतई बरदाश्त नहीं करेगी। इसके लिए लोगों ने सरकार से मांग की है कि देश गुनहगार कसाब को जो सजा दी गई है, उसी सख्ती पर सरकार कायम रहे, तभी देश से आतंकवाद मिटेगा। 26/11 की बरसी पर जहां लोगों ने भावुक मन से इस आतंकवाद के खेल में मरने वाले 166 लोगों को श्रद्धांजलि दी, वहीं आतंकवाद के खिलाफ लोगों को भी आवाज बुलंद करने की बात कही।

26/11 में जिसने अपनी जान गवाई, उनकी क्षतिपूर्ति तो कभी नहीं हो सकती। हां, कसाब को फांसी देकर सरकार ने जो राहत देशवासियों को दी है, उसी सख्ती पर सरकार को कायम रहना होगा। आतंकियों को डर का अहसास करवाना बहुत जरूरी है। तभी शायद आवाम भी आतंकवाद से महफूज महसूस कर सके।
-अनीता मेहता, प्राचार्य, एसए जैन सीनियर मॉडल स्कूल, सिटी
---

26/11 अतीत का एक ऐसा काला स्वप्न है, जिसे देखकर हर इंसान आज भी सिहर उठता है। लेकिन सरकार ने कसाब को फांसी देकर आंतकियों को ये दिखा दिया है कि अब ये देश आतंकवाद कतई बरदाश्त नहीं करेगा। लेकिन अब जरूरी है कि आतंकियों के खिलाफ सरकार का रवैया सख्त रहना चाहिए।
-बीडी थापर, समाज सेवी, नेशनल अवेरयनेस फोरम-
---

मुंबई हादसा आतंकवादियों के बुलंद हौसलों का एक परिणाम था। मगर देश ने कसाब को फांसी देकर आतंकियों को करारा जवाब दिया है। मगर उसके बाद भी आतंकी संगठन भारत में दहशत फैलाने की धमकी दे रहे हैं। इसलिए भारत को चाहिए कि अब दहशतगर्दों का जवाब सख्ती से ही देना चाहिए।
-शिव निवास तिवारी, शिक्षक, डीएवी स्कूल कैंट-
---

देश के लोगों ने आतंकवाद की वजह से बहुत कुछ खोया है। कुछ जख्म ऐसे हैं, जिन्हें कभी नहीं भरा जा सकता। आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता, वैसे भी वे अपनी हरकतें छोड़ना भी नहीं चाहते। इसलिए अब देश को आतंकवाद के खिलाफ पूरी तरह सख्त बने रहना चाहिए, जैसी सख्ती कसाब को फांसी देने में दिखाई गई है, सांसद हमले का आतंकी अफजल गुरू को भी उसी तरह फांसी पर टांगना चाहिए।
-डिंपल मित्तल, समाज सेविका व निवर्तमान पार्षद, कैंट-
---

मुंबई के गुनाहगार कसाब को फांसी पर टांगकर भारत ने उस दिशा में कदम बढ़ाया है, जिस दिशा में अमेरिका आतंकवाद मिटाने के खिलाफ कदम बढ़ा चुका है। लेकिन अब जरूरत है कि जिस तरह अमेरिका ने आतंकवाद को अपने देश से पूरी तरह खत्म करने का संकल्प ले लिया है, भारत सरकार भी भारत को इन दहशतगर्दों से मुक्त करवाने का बीड़ा ले, उसके लिए भले ही कई सख्त कदम क्यों न उठाने पड़े। पर देश की आवाम को आतंकवाद से छुटकारा मिलना चाहिए।
-उमेश बिट्टू, सदस्य, कैंटोनमेंट बोर्ड-

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

आजादी का क्रेडिट बापू को देने पर खट्टर के मंत्री को है ये ऐतराज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से अपने बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं।

20 नवंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper