रोड निर्माण में बिजली निगम का दखल

Ambala Updated Fri, 02 Nov 2012 12:00 PM IST
यमुनानगर। शहर और ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले बीकेडी रोड के निर्माण कार्य को ब्रेक लग गया है। 36 करोड़ की लागत से बन रहे बुड़िया-खदरी-देवधर (बीकेडी) रोड के निर्माण कार्य में सड़क के किनारे खड़े बिजली निगम के 170 पोल बाधा बन गए हैं। पीडब्ल्यूडी विभाग ने इन पोल की शिफ्टिंग के लिए बिजली निगम को पेमेंट भी कर दी है लेकिन छह महीने बीत जाने के बाद भी पोल हटाए नहीं गए हैं। इससे सड़क निर्माण का कार्य बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। इस रोड का निर्माण अगस्त, 2011 में शुरू हुआ था लेकिन अभी तक करीब 40 प्रतिशत काम ही पूरा हो पाया है। सड़क को चौड़ा करने के लिए सड़क के किनारे लगे बिजली के खंभों को हटाया जाना जरूरी था। इसके लिए पीडब्ल्यूडी विभाग ने बिजली निगम के अधिकारियों को पत्र लिखा। बिजली निगम ने खंभों को हटाने में करीब पांच लाख रुपये का खर्च बताया। पीडब्ल्यूडी विभाग ने खर्च राशि बिजली निगम में जमा करवा दी। यह राशि जमा कराने के छह महीने बाद भी पोल नहीं हटाए गए हैं।
बुड़िया-खदरी-देवधर (बीकेडी) रोड क्षेत्र के 35 से अधिक गांवों को शहर से जोड़ता है। करीब 15 साल तक यह सड़क बुरी तरह से क्षतिग्रस्त रही। सड़क निर्माण के लिए लोगों ने दर्जनों बार अधिकारियों को ज्ञापन दिए और मुख्यमंत्री तक से गुहार लगाई। इस सड़क के बनने से सीधे तौर पर 80 हजार लोग लाभान्वित होंगे।

तीन महीने बचे हैं
बीकेडी रोड के निर्माण का ठेका न्यू इंडिया कंस्ट्रक्शन कंपनी को दिया गया है। अगस्त 2011 में सड़क का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। काम पूरा करने की समयसीमा 18 माह है, जिसमें से 15 माह पूरे हो चुके हैं। अभी तक केवल बुडिया से देवधर तक मिट्टी डालने का ही काम पूरा हो पाया है। कंपनी छह माह से बिजली के खंभे हटने का इंतजार कर रही है। बुडिया चौक से गांव फतेहगढ़ तक 66 खंभे हटाए जाने हैं जबकि फतेहगढ़ से देवधर तक 104 बिजली के खंभों को हटाया जाएगा।
36 फुट चौड़ी की जाएगी सड़क
बीकेडी रोड की लंबाई करीब 20 किलोमीटर है। इसे पुरानी सड़क की सतह से एक मीटर ऊंचा किया जा रहा है। सड़क की चौड़ाई 36 फुट की जा रही है। सड़क चौड़ीकरण के कार्य में पहले पेड़ बाधा बने थे। इन पेड़ों को काटने में भी काफी समय लग गया। अब पेड़ कट चुके हैं तो बिजली के खंभे सड़क निर्माण में बाधा बन गए हैं।
अब मिट्टी से स्वागत
शहजादपुर के सरपंच रतन लाल, कनालसी सरपंच पीरूराम, प्रदीप कुमार, सतवंत कु मार और बुड़िया निवासी अलीजान तथा अश्वनी कुमार का कहना है कि क्षेत्रवासियों को रोड का निर्माण शुरू होने से पहले गहरे गड्ढों से होकर निकलना पड़ता था। अब निर्माण शुरू होने के बाद मिट्टी और धूल के बीच से होकर निकलना पड़ रहा है।

इन गांवाें को शहर से जोड़ती है बीकेडी रोड
बुड़िया, चनेटी, भगवानगढ़, दयालगढ़, शहजादपुर, मेहर माजरा, कनालसी, भोगपुर, फतेहगढ़, खदरी, जयरामपुर, रामपुर खादर, हल्दरी, माडों, चको, हसनपुर, दड़वा, ईस्माईलपुर, लाकड़, भिलपुरा, नंदगढ़, ब्राह्मण माजरा, लौहारीवाला, देवधर समेत 35 से अधिक गांव इस रोड से जुडे़ हैं जो शहर आने के लिए इसी मार्ग का प्रयोग करते हैं।

वर्जन
बीकेडी रोड के निर्माण में बिजली निगम के खंभे बाधा बने हैं। पोल शिफ्टिंग के लिए छह महीने पहले बिजली निगम अधिकारियों को पेमेंट की जा चुकी है। इस बारे में कई बार बिजली विभाग के आला अधिकारियों को अवगत भी कराया गया।
सत्यपाल सिरोहा, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी विभाग यमुनानगर

Spotlight

Most Read

Lucknow

ब्राइटलैंड स्कूल दो दिन के लिए बंद, छात्रा हुई जुवेनाइल कोर्ट में पेश

राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में छात्र को चाकू मारने की घटना के बाद बच्चों में बसे खौफ को दूर करने के लिए स्कूल को दो दिनों के लिए बंद कर दिया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

आजादी का क्रेडिट बापू को देने पर खट्टर के मंत्री को है ये ऐतराज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से अपने बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं।

20 नवंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper