पल्लेदार मोहल्ले की हालत पतली

Ambala Updated Sat, 22 Sep 2012 12:00 PM IST
अंबाला। छावनी स्थित पल्लेदार मोहल्ले के बाशिंदों को सड़क टूटी होने के कारण समस्याओेें का सामना करना पड़ रहा है। गंदगी व टूटी हुई सड़क से लोगों की दुकानदारी भी प्रभावित हो रही है। स्थानीय निवासियों का कहना है कि क्षेत्र की समस्या से निगम अधिकारियों को भी अवगत कराया गया है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।
समस्या के बारे में डीसी अंबाला को भी अवगत कराया गया है। स्थानीय लोगों का कहना है कि जब नगर निगम बनने की घोषणा हुई थी, तो लोगों में बहुत उत्साह था कि अब विस्तार को गति मिलेगी और ट्विन सिटी का नक्शा बदल जाएगा। मगर यहां तो नगर निगम बनने के बाद भी हालत बदतर हो गई है।

----------------
क्षेत्र में समस्याओं का अंबार लगा है। सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे हो रखे हैं। गड्ढे में बारिश का पानी भरा रहता है। गड्ढों की वजह से दुर्घटना हो सकती है। स्कूल में जाने वाले बच्चों को भी दिक्कत आती है।
-अनिल कुमार

----------------------
सड़क टूटी होने से दुकानदारों की दुकानदारी प्रभावित हो रही है। दुकानाें के आगे बारिश का पानी भरा रहता है। जब भी कोई गाड़ी या वाहन निकलता है, तो दुकानों में अंदर तक बारिश का पानी आ जाता है। इससे ग्राहक व दुकान के कपड़े गंदे हो जाते हैं।
-ओपी लांबा

----------------------
पल्लेदार मोहल्ले में गंदगी का अंबार लगा है। सभी नालियां गंदगी से अटी हैं। गंदगी के कारण गंदा पानी सड़कों पर आ जाता है। गंदगी में मच्छर-मक्खियां पनप रही हैं। पहले तो नगर परिषद थी, विकास के लिए फंड आता था, अब तो राजनीति हावी हो गई है और छावनी के साथ विकास कार्यों के मामले में सौतेला व्यवहार बरता जा रहा है।
- भारत डांग
----------------------
स्ट्रीट लाइट खराब होने के कारण क्रास रोड-10 में अंधेरा पसरा रहता है। रात को क्षेत्र में कई हादसे भी हो चुके हैं। लोगों को क्षेत्र में चोरी होने और हादसे का डर सताता रहता है।
- त्रिलोचन सिंह

----------------------
टूटी हुई सड़क लोगों के लिए चिंता का सबब बन चुकी है। लोगों की दुकानों के सामने भी कीचड़ हो गया है। कीचड़ क ो देखकर ग्राहक भी दुकान पर नहीं चढ़ता है।
- कंवलजीत सिंह

-------------------
क्षेत्र में बिजली की समस्या गहराती जा रही है। बिजली निगम शेडयूल के अनुसार भी बिजली नहीं दे रहा है। बिजली कट से लोगों के रोजमर्रा के काम भी नहीं हो पा रहे हैं। बिजली के उपकरण भी महज शो पीस बनकर रह गए हैं।
- सुरेश कुमार

क्षेत्रवासियों की तमाम समस्याएं वाजिब हैं। वे खुद नगर निगम में लोगों की समस्याओं के समाधान का कई बार रोना रो चुके हैं, मगर जब वहां उनकी सुनवाई नहीं होती तो जनता की क्या सुनवाई होगी।

-गगन डांग, निवर्तमान पार्षद

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

MP निकाय चुनाव: कांग्रेस और भाजपा ने जीतीं 9-9 सीटें, एक पर निर्दलीय विजयी

मध्य प्रदेश में 19 नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष पद पर हुए चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला।

20 जनवरी 2018

Related Videos

आजादी का क्रेडिट बापू को देने पर खट्टर के मंत्री को है ये ऐतराज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से अपने बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं।

20 नवंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper