विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन

गोरखपुर

मंगलवार, 25 फरवरी 2020

गोरखपुर: चोरी में असफल हुए तो चोरों ने किया ऐसा गंदा काम, मकान मालिक ने कहा- हे भगवान...!

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के सिकरीगंज इलाके के ढेबरा बाजार में चोरी में असफल होने पर चोरों ने घर के सामने गंदगी फैला दी। उधर, सूचना मिलने पर पहले तो पुलिस ने इस मामले को हल्के में लिया, लेकिन वारदात का तरीका कच्छा बनियान गिरोह जैसा दिखने पर पुलिस सक्रिय हो गई।
 
एसपी साउथ विपुल कुमार श्रीवास्तव के निर्देश पर सिकरीगंज एसओ सोमवार को मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की। हालांकि पुलिस को शक है कि गांव के ही एक मानसिक रूप से अस्वस्थ शख्स ने घर के सामने गंदगी फैलाई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ढेबरा बाजार निवासी शुभम जायसवाल किराना व्यापारी हैं। रविवार की रात व्यापारी और उनके परिवार के लोग भोजन के बाद घर में सो गए। रात में कुछ लोग पहुंचे और मकान की दिवाल काटने का प्रयास किया। असफल होने पर चोरों ने दरवाजा तोड़ने का प्रयास किया।

अंदर से खटपट की आवाज होने पर चोरों को लगा कि घर के सदस्य जग गए हैं तो वे फरार हो गए। आरोप है कि इस दौरान चोरों ने घर के सामने गंदगी फैला दी। व्यापारी ने सोमवार की सुबह इसकी सूचना पुलिस को दी। पहले तो पुलिस ने इस घटना को हल्के में लिया। फिर एसपी साउथ के निर्देश पर एसओ सिकरीगंज मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की।

हालांकि सिकरीगंज एसओ जटाशंकर ने बताया कि जांच की गई है। व्यापारी के घर चोरी का प्रयास हुआ था। घर से कुछ दूर पर गंदगी फैलाने का काम गांव के ही एक मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति का लग रहा है। वह अक्सर गांव में घूमता रहता है।
... और पढ़ें

दिल्ली के भारतीय छात्र संसद में गोरखपुर के लाल ने किया कमाल, प्रदेश का किया प्रतिनिधित्व

दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित 10वें भारतीय छात्र संसद में युवा लेखक देवानंद राय ने प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए जिले तथा प्रदेश का राष्ट्रीय स्तर पर मान बढ़ाया है। देवानंद का चयन विभिन्न विषयों पर वीडियो भाषण तथा अंत में स्काइप इंटरव्यू के द्वारा हुआ।

इससे पहले भी देवानंद ने वर्ष 2019 में राष्ट्रीय युवा संसद में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए विज्ञान भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। वे हाल ही में युवा महोत्सव 2020 में देवरिया से यूथ आइकॉन के रूप में नामित हुए थे। युवा मामले तथा खेल मंत्रालय भारत सरकार और यूनेस्को के सहयोग से और एमआईटी स्कूल ऑफ  गवर्नमेंट के द्वारा आयोजित भारतीय छात्र संसद का उद्घाटन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने किया।

कार्यक्रम में देश भर से करीब 2000 से अधिक युवाओं ने भाग लिया है। चार दिनों तक कई सत्रों में चले आयोजन में केरल के राज्यपाल आरिफ  मोहम्मद, राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी, मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल शामिल रहे। कार्यक्रम का समापन पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने किया।
... और पढ़ें

चैंपियन ट्रॉफी टी-20: डीएएससीबी और एलसीयूपी को मिला सेमीफाइनल का टिकट

लक्ष्य स्पोर्ट्स एकेडमी की ओर से आयोजित ऑल इंडिया प्राइजमनी लक्ष्य चैंपियंस ट्रॉफी में सोमवार को खेले गए मैच में डीएएससीबी नई दिल्ली ने मेजबान लक्ष्य एकेडमी को छह विकेट से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। वहीं एक अन्य मुकाबले में एलसी यूपी की टीम ने हरदीप के शानदार पारी की बदौलत लगातार दूसरे मुकाबले में बिहार क्रिकेट संघ को आसानी से  150 रनों से हराकर सेमीफाइनल में पहुंच गई।
 
रेलवे क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए पहले मैच में बल्लेबाजी करते हुए लक्ष्य की टीम ने आठ विकेट के नुकसान पर 121 रनों का स्कोर खड़ा किया। सर्वाधिक 31 रन अंकुर मलिक और 22 रन कप्तान राहुल सिंह ने बनाए। इनके अलावा यशोवर्धन ने 13 और विजय ने 10 रन बनाए। डीएएससीबी की ओर से मोहम्मद आरिफ  और चरणजीत ने दो-दो, मित्रकांत यादव, हरप्रीत व पुनीत मेहरा ने एक-एक विकेट लिया।

डीएएससीबी की टीम ने 19वें ओवर में ही चार विकेट के नुकसान पर जीत का लक्ष्य हासिल कर लिया। टीम के लिए शलभ ने नाबाद 34 रन, पुनीत मेहरा ने 35 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज हरप्रीत ने 18 रन, यादवेंद्र सिंह यादव ने 28 रनों का योगदान किया। लक्ष्य की ओर से प्रिंस शाही, शिवम चौधरी, विजय यादव और अंकुर मलिक ने एक-एक विकेट हासिल किया।
... और पढ़ें

गोरखपुर: गरज-चमक के साथ देर रात से हो रही झमाझम बारिश, गिरे बड़े-बड़े ओले

बारिश के साथ गिरे ओले। बारिश के साथ गिरे ओले।

अमेरिका की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप देखेंगी गोरखपुर के शिक्षक का पाठ्यक्रम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप मंगलवार को दिल्ली सरकार के मोतीबाग स्थित सरकारी स्कूल का दौरा करेंगी। करीब एक घंटे के कार्यक्रम के दौरान वो हैप्पीनेस पाठ्यक्रम से बच्चों के तनाव और अवसाद को कैसे दूर करते हैं, इसे देखेंगी। इस पाठ्यक्रम को तैयार करने में पिपराइच के पूर्व माध्यमिक विद्यालय चिलबिलवां में सहायक अध्यापक पद पर कार्यरत श्रवण कुमार शुक्ल ने अहम भूमिका निभाई है।

वर्ष-2016 से शिक्षा में सार्वभौम मूल्यों की स्थापना के लिए उन्हें दिल्ली सरकार के विशेष बुलावे पर प्रदेश सरकार ने प्रतिनियुक्ति पर भेजा हुआ है। वर्ष-2009 में यूपी सरकार के आदेश पर श्रवण कुमार शुक्ल ने छह महीने का मूल्य शिक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम अभ्युदय संस्थान अछोटी, रायपुर में प्राप्त किया था। उसके बाद इन्हें कार्यक्रम के संचालन के लिए छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र में बुलाया गया।

वहां के शिक्षकों के संग पाठ्यक्रम के साथ मूल्य शिक्षा का कार्यक्रम कैसे किया जाए और एससीईआरटी के द्वारा जो पाठ्यक्रम बनाया जाए उस में कैसे सार्वभौम मानवीय मूल्यों को शामिल किया जाए इस पर काम किया। चार वर्षों के अथक प्रयास के बाद इसे दिल्ली के सरकारी स्कूल में लागू किया गया।
... और पढ़ें

खुशखबर: गोरखपुर के कारागार में बंदियों ने उगाई बंद गोभी, प्रदेश में आई अव्वल

मंडलीय कारागार में बंदियों द्वारा उगाई गई बंद गोभी पूरे प्रदेश में अव्वल रही है। 22 और 23 फरवरी को राजभवन में कृषि विभाग की ओर से लगाई गई शाक, सब्जी, फल और पुष्प प्रदर्शनी में प्रदेश की कई जेलों और विभागों के कृषि उत्पादों के स्टाल लगाए गए थे। इनमें गोरखपुर जेल की बंद गोभी सबसे ज्यादा पसंद की गई। इसके लिए राजभवन की ओर से गोरखपुर जेल प्रशासन को प्रशस्ति पत्र दिया गया है।

गोरखपुर कारागार में करीब 1750 बंदी वर्तमान समय में कैद हैं। उनसे खेती सहित अन्य श्रम कराया जाता है। बंदियों द्वारा जेल में ब्रोकली, फूलगोभी, बंद गोभी और आलू उगाया जाता है। जिसका उपयोग बंदियों के भोजन के लिए किया जाता है। हर वर्ष राजभवन में कृषि विभाग की ओर से प्रादेशिक फल, शाकभाजी व पुष्प प्रदर्शनी लगाई जाती है।

इस वर्ष गोरखपुर जेल प्रशासन की ओर से इस प्रदर्शनी में बंदियों द्वारा उगाई गई बंद गोभी का स्टाल लगाया गया था। जिसे लोगों द्वारा खूब पसंद किया गया। वर्ष 2019 में गोरखपुर जेल के बंदियों द्वारा उगाई गई ब्रोकली को पहला स्थान मिला था। वरिष्ठ जेल अधीक्षक डॉ. रामधनी ने बताया कि प्रदर्शनी में यहां की बंद गोभी का स्टाल लगाया गया था। जिसे प्रदेश में प्रथम स्थान मिला है। इसके लिए शील्ड और प्रशस्ति पत्र मिला है।
... और पढ़ें

BJP प्रदेश अध्यक्ष को हराकर शाकिर अली ने मनवाया था लोहा, मंत्री पद नहीं मिलने पर अखिलेश से हुए थे नाराज

भाजपा के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही को 2012 के विधानसभा चुनाव में पथरदेवा से पटखनी देकर पूर्व मंत्री शाकिर अली ने अपनी राजनीतिक कुशलता का लोहा मनवाया। हालांकि अखिलेश यादव की सरकार में उन्हें मंत्री पद नहीं मिला था। इसका मलाल उन्हें रहा और मंचों से बेबाकी से इसके लिए उस सरकार के दो मंत्रियों को दोषी बताते थे।

15 दिसंबर 1953 को करजहां के एक साधारण से परिवार में जन्मे शाकिर अली की प्रारंभिक शिक्षा गांव में हुई। अशोक इंटर कॉलेज बरपार में हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद वह वाराणसी के हरिश्चन्द्र इंटर कॉलेज से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की। वहीं बीएचयू  से स्नातक की उपाधि हासिल की। वर्ष 1989 में उन्होंने बहुजन समाज पार्टी से राजनीति में कदम रखा और इसी साल गौरीबाजार विधानसभा क्षेत्र से पहला चुनाव लड़े और पराजय का सामना करना पड़ा। 1991 में बसपा के ही टिकट पर दूसरी बार किस्मत आजमाई, लेकिन इस बार भी नजीता पहले जैसा ही रहा।

1993 में बसपा और सपा के गठबंधन के प्रत्याशी के रूप में तीसरी बार में उन्हें जीत मिली और प्रदेश सरकार में शिक्षामंत्री बने। दो जून 1995 को बसपा छोड़कर सपा का दामन थाम लिए। 1996 में सपा से चुनाव मैदान में उतरे और हार गए। 2000 में हुए उप चुनाव में फिर उनकी किस्मत ने साथ नहीं दिया और बेहद नजदीकी मुकाबले में बसपा प्रत्याशी जन्मेजय सिंह से मात्र 29 मत से चुनाव हार गए।

2002 के चुनाव में दूसरी बार उन्हें गौरीबाजार विधानसभा क्षेत्र की रहनुमाई का मौका मिला। 2004 में पार्टी की सरकार बनने पर लघु सिंचाई और मुस्लिम वफ्फ बोर्ड के कैबिनेट मंत्री बने। 2007 के चुनाव में उन्हें पराजय का सामना करना पड़ा। 2009 में पडरौना विधानसभा क्षेत्र के उप चुनाव में भी बसपा प्रत्याशी स्वामी प्रसाद मौर्य से शिकस्त खानी पड़ी।
... और पढ़ें

इस STF सीओ को मिल चुका है दो बार राष्ट्रपति से सम्मान, 50 खूंखारों को कर चुकें है मुठभेड़ में ढेर

बाएं पूर्व मंत्री शाकिर अली, दाएं जनाजे में उमड़ी भीड़।
गोरखपुर के एसटीएफ सीओ धर्मेश कुमार शाही (डीके शाही) के नेतृत्व में टीम ने बस्ती में डेढ़ लाख के इनामी बदमाश को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया है। इससे एक बार फिर चर्चा में डीके शाही का नाम आ गया है। वह लोगों के अमन-चैन में खलल डालने वाले तकरीबन 50 बदमाशों, आतंकवादियों, डकैतों को मुठभेड़ के दौरान ठिकाने लगा चुके हैं। इस वजह से जहां प्रदेश सरकार ने दो बार आउट ऑफ टर्न प्रमोशन दिया, वहीं, दो बार राष्ट्रपति के वीरता पुरस्कार से नवाजे गए।

देवरिया जिले के नौतन गांव के रहने वाले धर्मेश कुमार शाही (डीके शाही) ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एमए और लखनऊ विश्वविद्यालय से एलएलबी की पढ़ाई की। वर्ष 2001 में पुलिस में बतौर सब इंस्पेक्टर की नौकरी की शुरुआत की तो गोंडा जिले में तैनाती हुई। वहां से लखनऊ आए। पहली बार वर्ष 2004 में दो सिपाहियों की हत्या कर फरार चल रहे एक लाख के इनामी बदमाश देवेंद्र उर्फ सुल्तान को अमरोहा से गिरफ्तार कर चर्चा में आए।

वर्ष 2005 में जौनपुर के बदमाश राकेश प्रधान को हजरतगंज में सुभाष ठाकुर के गुर्गे धीरज सिंह, वर्ष 2006 में हरदोई के इनामी अपराधी चमन सिद्दीकी को लखनऊ में मार गिराया। इसके अलावा ग्वालियर के बदमाश सोनू, मोनू चौहान को लखनऊ में ठिकाने लगाया। वर्ष 2007 में बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश में आतंक का पर्याय बने पुष्पराज यादव को गोरखपुर में, दो सिपाहियों की हत्या करने के आरोपी संतोष पांडेय को रायबरेली, वर्ष 2008 में संतकबीर नगर में रामधनी शर्मा, वर्ष 2010 में मुंबई में आजमगढ़ के इनामी दिलीप यादव को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया।

बटलर राय को महराजगंज में, रिंकू सिंह और योगेंद्र को बाराबंकी में मार गिराया। प्रदेश सरकार ने जनवरी वर्ष 2010 में डीके शाही को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन दिया तो उनका उत्साह और बढ़ गया। इसके बाद कुशीनगर जंगल पार्टी के डकैत रूदल यादव को मुठभेड़ के दौरान कुशीनगर जिले में उस समय मार गिराया जब वह डकैती डालने कहीं जा रहा था।
... और पढ़ें

गोविवि: ऑनलाइन हो सकती है स्नातक की संयुक्त प्रवेश परीक्षा, संभावनाओं को तलाश रहा विश्वविद्यालय

गोरखपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में सत्र 2020-21 में स्नातक की कक्षाओं में दाखिले के लिए होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा इस वर्ष ऑनलाइन हो सकती है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा कराने की संभावनाओं को तलाशना शुरू कर दिया है। परीक्षाएं मई के अंत में हो सकती हैं। परीक्षा के आयोजन के लिए स्नातक में प्राचीन इतिहास, पुरातत्व एवं संस्कृति विभाग के प्रो. राजवंत राव तथा परास्नातक में ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा के लिए गणित एवं सांख्यिकी विभाग के आचार्य प्रो. विजय कुमार को समन्वयक बनाया गया है।

स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों के संगठनों ने पिछले वर्ष स्नातक के संयुक्त प्रवेश परीक्षा को लेकर विरोध जताया था और इस वर्ष महाविद्यालयों को प्रवेश लेने की छूट देने की मांग की थी। तर्क दिया था कि संयुक्त प्रवेश परीक्षा के चलते विलंब होता है और विद्यार्थी नहीं मिलते हैं। इसके बाद यह चर्चा थी कि इस वर्ष संयुक्त प्रवेश परीक्षा नहीं होगी। लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने अब परीक्षा और व्यवस्थाओं के लिए समन्वयक नियुक्त कर तस्वीर साफ कर दी है। प्रो. विजय कुमार को विश्वविद्यालय में बन रहे ऑनलाइन सेंटर की व्यवस्था की भी जिम्मेदारी सौंपी गई है। कुलसचिव ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।  

परास्नातक की परीक्षा ऑनलाइन होगी
विश्वविद्यालय में परास्नातक कक्षाओं में प्रवेश के लिए पिछले वर्ष की ही तरह ऑनलाइन परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। महाविद्यालय अपने यहां खुद प्रवेश लेेंगे।

रेट की परीक्षा नहीं होगी
विश्वविद्यालय में शोध पात्रता परीक्षा (रेट) की परीक्षा इस बार नहीं होगी। पिछले वर्ष छह साल के बाद ऑनलाइन परीक्षा हुई थी। 32 विषयों के लिए 1045 सीटों और कॉलेजों में संचालित 15 विषयों की 228 सीटों सहित 1273 सीटों के लिए प्रवेश परीक्षा हुई थी। इससे सभी विभागों में वैकेंसी नहीं है।

गोरखपुर विश्वविद्यालय कुलपति प्रो. वीके सिंह ने कहा कि पिछले वर्ष की भांति इस बार भी स्नातक संयुक्त प्रवेश परीक्षा कराई जाएगी। मई के आखिरी में अथवा जून के प्रथम सप्ताह में प्रवेश परीक्षा होगी। इस बार कोशिश की जा रही है कि परास्नातक की तरह ही स्नातक की परीक्षा भी ऑनलाइन हो। अगर आवेदन के हिसाब से ऑनलाइन सेंटर की व्यवस्था हो गई तो परीक्षा ऑनलाइन ही होगी।
 
... और पढ़ें

एक बेटे का सेहरा सजने से पहले उठ गई दो जवान बेटों की अर्थी, खुशी का माहौल गम में बदला

नरायनपुर मार्ग पर पांडेय माझा राजधर गांव के पास सड़क हादसे में दो सगे भाइयों की मौत हो गई। सोमवार को दोनो भाई रुद्रपुर से सामान लेकर बाइक से अपने गांव लौट रहे थे। सामने से आ रही ट्रैक्टर टाली से उनकी बाइक टकरा गई। ट्रैक्टर चालक अनियंत्रित होकर गाड़ी चला रहा था। सीधे टक्कर में बाइक ट्रैक्टर के अंदर घुस गई। बाइक सवार दोनों ने हेलमेट नहीं पहना था।

पांडेय माझा गांव निवासी वीर बहादुर के बेटे मुसाफिर उम्र 36 और दीपचंद उम्र 32 बाइक से रुद्रपुर में सामन खरीदने गए थे। उनके छोटे भाई की शादी होनी है। उनके परिवार में शादी की तैयारी चल रही है। शादी का सामान खरीदकर दोनों भाई दिन में करीब पांच बजे लौट रहे थे। वह गांव के करीब पहुंचे थे कि हंसनाथ कन्या इंटर कॉलेज के सामने उधर से आ रहे ट्रैक्टर चालक ने सामने से टक्कर मार दी।

टक्कर इतनी जोरदार थीं कि बाइक के पर खच्चे उड़ गए। बाइक ट्रैक्टर में घुस गई। दोनों बाइक से गिरकर सड़क पर छटपटा रहे थे कि राहगीरों ने एंबुलेंस बुलाकर उन्हें अस्पताल पहुंचाया। सीएचसी पहुंचने पर डाक्टरों ने दीपचंद को मृत घोषित कर दिया। गंभीर रूप से घायल मुसाफिर को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल पहुंचकर मुसाफिर ने भी दम तोड़ दिया।

एक बेटे का सेहरा सजने से पहले उठ गई दो जवान बेटों की अर्थी
पांडेय माझा के वीर बहादुर के घर 26 फरवरी को शहनाई बजने वाली थी। उनके छोटे बेटे देवराज की शादी की तैयारी चल रही थी। लेकिन नियति के खेल ने छोटे बेटे के सिर पर सेहरा सजने से पहले दो जवान बेटों की अर्थी उठा दी। सोमवार को नियति के इस क्रूर खेल में उन्होंने दो जवान बेटों को खो दिया। वहीं दो बहुओं की मांग सुनी हो गई तो दोनों के दो मासूम बच्चे यतीम हो गए। सड़क हादसे में गई दो सगे भाइयों की जान से पूरे गांव में मातम पसरा है।

शादी के खुशनुमा माहौल में अचानक मरघट जैसा सन्नाटा पसर गया। परिवार वालों की हृदयविदारक चीत्कार गूंजने लगी। कलेजे के टुकड़ों के मार्ग दुर्घटना में घायल होना जान उनकी मॉ गिरजा देवी बदहवास होकर रुद्रपुर सीएचसी पहुंच गई। वह एक बेटे की मौत की खबर जान बेहोश होकर गिर गई। दोनो भाईयों की पत्नियों का रोकर बुरा हाल हो रहा था। अस्पताल में पूरा परिवार छाती पीटकर चीख रहा था। उनकी चीत्कार से पूरा मंजर भयावह लगने लगा। लोगों ने घटना के दोषी ट्रैक्टर चालक पर नशे की हालत में अनियंत्रित होकर गाड़ी चलाने का आरोप लगाया। मौके से चालक फरार हो गया। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।
... और पढ़ें

गोरखपुर विश्वविद्यालय की परीक्षाएं आज से शुरू, निगरानी करेंगे छह उड़ाका दल

गोरखपुर विश्वविद्यालय एवं संबद्ध महाविद्यालयों की वार्षिक परीक्षाएं मंगलवार से शुरू होंगी। दो पालियों में होने वाली इस परीक्षा के लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। नकल कराने वाले महाविद्यालयों की मान्यता रद्द की जाएगी। सीसीटीवी कैमरे से वेबसाइट के जरिए नोडल केंद्र में हो रही परीक्षा का सजीव प्रसारण होगा। निगरानी के लिए छह उड़ाका दल के साथ ही एसटीएफ को भी लगाया गया है।

विश्वविद्यालय की परीक्षा में 2.40 लाख विद्यार्थी शामिल होंगे। इसमें 1.52 लाख छात्राएं और 88 हजार छात्र हैं। 262 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। मंडल में कॉपियों को जमा करने के लिए आठ केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि केंद्राध्यक्षों को निर्देश दिया गया है कि सीसीटीवी की रिकार्डिंग 60 दिनों तक सुरक्षित रखें। इसे कभी भी मांगा जा सकता है। संवेदनशील केंद्रों के शिक्षकों से लेकर पानी पिलाने वाले चपरासी तक पर निगरानी की जाएगी।

कुलपति प्रो. वीके सिंह ने कहा कि परीक्षा की शुचिता बनाए रखना सबसे महत्वपूर्ण है। इसके लिए कड़े उपाए किए गए हैं। परीक्षा सीसीटीवी की निगरानी में होगी। सभी कॉलेजों के कमरों में क्लोज सर्किट कैमरा लगाया गया है। अगर कहीं से भी सामूहिक नकल के प्रमाण मिलेंगे तो उस कॉलेज की मान्यता को रद्द कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

दवा कारोबारी की मौत: हत्या या खुदकुशी के जाल में फंसी पुलिस, अब हैंड वॉश रिपोर्ट से खुलेंगे कई राज

कोतवाली इलाके के नखास स्थित आवास में तीन गोली लगने से दवा कारोबारी सईद की मौत मामले की जांच पुलिस ने तेज कर दी है।  सोमवार को डीआईजी राजेश डी मोदक ने एफएसएल (फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी) के डायरेक्टर से बातचीत की है। पुलिस को उम्मीद है कि मंगलवार को हैंड वॉश रिपोर्ट आने से कई राज खुल जाएंगे।

उधर, डीआईजी ने घटनास्थल का मुआयना कर परिवार के लोगों से भी बातचीत की है। पुलिस शुरुआत में घटना को खुदकुशी बता रही थी लेकिन अब हत्या या खुदकुशी के बीच उलझ गई है। फोरेंसिक रिपोर्ट से पुलिस को उम्मीद है कि खुदकुशी है या हत्या, यह गुत्थी सुलझ जाएगी जिसके बाद उसी आधार पर जांच को आगे बढ़ाएगी।

दो गोली सीने और एक गोली सिर में लगने के बाद दवा कारोबारी की मौत की शुरुआती जांच में पुलिस ने खुदकुशी बता दिया, जो किसी के गले के लिए नहीं उतर रही थी। खुद डीआईजी राजेश डी मोदक को भी जब यह बात हजम नहीं हुई तो उन्होंने मामले में हस्तक्षेप कर एसपी सिटी डॉ. कौस्तुभ को मानीटरिंग का आदेश दिया।

फोरेंसिक टीम और एसपी सिटी के साथ डीआईजी की बैठक के बाद पुलिस ने हत्या के एंगल पर जांच शुरू की और मृतक के बेटे अनस और उसके दोस्तों से पूछताछ भी की। खबर है कि पुलिस के हाथ कुछ सुराग भी लगे हैं मगर वैज्ञानिक साक्ष्य का इंतजार किया जा रहा है कि बयान के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ कर उसकी पुष्टि की जा सके।
... और पढ़ें

देवरिया: आकाशीय बिजली गिरने से परीक्षार्थी की मौत, एक गंभीर रूप से घायल

रामपुर कारखाना के बरनई गांव में आकाशीय बिजली गिरने से परीक्षा देने जा रहे एक परीक्षार्थी की मौत हो गई। जबकि उसे छोड़ने जा रहा दूसरा साथी गंभीर रुप से झुलस गया। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजवाया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।

रामपुर कारखाना के खडाइच गांव के रहने वाले नत्थू यादव का बड़ा बेटा अभिषेक यादव 16, मंगलवार की सुबह बैतालपुर के लाला करमचंद थापर इंटर कॉलेज पर हाईस्कूल गड़ित विषय का परीक्षा देने गांव के ही अपने एक दोस्त के साथ बाइक से जा रहा था। वह कृषक इंटर कालेज बलटिकरा का छात्र था।

थानाक्षेत्र के बरनई गांव के समीप कुरना नाले पर बाइक चला रहा अमन 18, पुत्र स्व बेचू बाइक खड़ी कर पेशाब करने लगा। अभिषेक यादव मोबाइल पर किसी से बात करने लगा। इसी दौरान आकाश में हुई तेज चमक और गरज के साथ अभिषेक के ऊपर आकाशीय बिजली गिर गई।

अभिषेक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई जबकि कुछ दूर खड़ा अमन भी चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गया। घटनास्थल पर जुटे लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची रामपुर कारखाना पुकिस ने शव को कब्जे में लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। अमन को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजवाया गया।

अभिषेक यादव दो भाइयों में बड़ा था। उसकी मौत की खबर घर पहुंचते ही कोहराम मच गया। दरवाजे पर गांव के लोगों की भीड़ जुट गई। बेटे की मौत से पिता नत्थू, माता गुड्डी देवी और छोटे भाई हिमांशु का रो - रोकर बुरा हाल है। इस संबंध में इंस्पेक्टर जयंत सिंह ने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने से एक परीक्षार्थी की मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर है। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us