विज्ञापन
विज्ञापन
अपनी जन्मकुंडली से जानें कब बन रहे हैं सरकारी नौकरी के योग
Astrology

अपनी जन्मकुंडली से जानें कब बन रहे हैं सरकारी नौकरी के योग

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

करा लें नवीनीकरण नहीं तो निरस्त हो जाएगा असलहे का लाइसेंस, जानिए क्या है बड़ी वजह

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को देखते हुए पुलिस गोरखपुर जिले के सभी लाइसेंसधारी असलहों का सत्यापन करेगी। नवीनीकरण न होने और आपराधिक मुकदमे दर्ज होने पर लाइसेंस को निरस्त करने की रिपोर्ट पुलिस की ओर से भेजी जाएगी। एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने इस संबंध में सभी पुलिस वालों को आदेश जारी कर दिया है।

जांच के दौरान यह भी देखना होगा कि किस पते पर लाइसेंस है और वर्तमान में उसका इस्तेमाल कौन कर रहा है? अगर लाइसेंस दूसरे पते पर मिले या फिर दूसरे के हाथों में हुए तो ऐसे लोगों के लाइसेंस को भी निरस्त कराया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक, त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को देखते हुए पुलिस ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। उत्पाती लोगों को पाबंद करने के साथ ही अब असलहों के लाइसेंस का सत्यापन शुरू कर दिया गया है। जिले में करीब 22 हजार असलहा लाइसेंस हैं, सभी का सत्यापन करना है।

एसएसपी ने साफ कर दिया है कि इसमें किसी भी तरह की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। थानेदार की जिम्मेदारी होगी कि वह अपने इलाके के लाइसेंस की जांच कराए। असलहा किसके नाम पर है और उसका इस्तेमाल कहीं दूसरा कोई तो नहीं कर रहा है, यह भी देखना होगा।
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर। प्रतीकात्मक तस्वीर।

12 अप्रैल को होगा गोरखपुर विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेंगी अध्यक्षता

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय का 39वां दीक्षांत समारोह 12 अप्रैल को दीक्षा भवन में होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलाधिपति राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेंगी। वह सत्र 2019-20 की स्नातक और स्नातकोत्तर परीक्षाओं में सर्वोच्च अंक हासिल करने वाले मेधावियों को मेडल प्रदान करेंगी। दीक्षांत भाषण के लिए मुख्य अतिथि भी जल्द ही तय कर लिए जाएंगे।

यह निर्णय बुधवार को कुलपति प्रो राजेश सिंह की अध्यक्षता में दीक्षांत समारोह के संयोजक और सह संयोजकों की बैठक में हुआ। प्रशासनिक भवन के कमेटी हाल में हुई बैठक में तय हुआ कि प्रत्येक वर्ष की भांति दीक्षांत सप्ताह का आयोजन होगा।

इसके अंतर्गत विशेष व्यख्यान, कवि सम्मेलन और सांस्कृतिक संध्या का आयोजित पांच अप्रैल से शुरू होगा। दीक्षांत समारोह के लोगो के लिए विश्वविद्यालय और संबद्ध कॉलेजों के बीच प्रतियोगिता का आयोजन होगा। उत्कृष्ट डिजाइन बनाने वाले विद्यार्थी को पुरस्कृत करने के साथ साथ दीक्षांत समारोह के लोगो के रूप में शामिल किया जाएगा।
 
अब तय होंगी समितियां
दीक्षांत समारोह के आयोजन की घोषणा के बाद अब जल्द ही समितियां तय होंगी।
समितियों में शामिल लोगों को जिम्मेदारियां बांटी जाएंगी।
... और पढ़ें

एक मार्च से चल सकती हैं गोरखपुर से चार पैसेंजर ट्रेनें, जानिए क्या है पूर्वोत्तर रेलवे की खास योजना

कोविड काल से ही खड़ी पैसेंजर ट्रेनों को अब पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने चलाने की तैयारी कर ली है। एक मार्च से ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। प्रमुख मुख्य परिचालन प्रबंधक ने पूर्वोत्तर रेलवे के सभी मंडल के सीनियर डीसीएम को पत्र लिखकर प्रस्तावित तिथि से अवगत कराया है। साथ ही ट्रेनों को चलाने के लिए रेल कोच की मरम्मत कराकर तैयार रखने का भी निर्देश दिया है।

योजना के मुताबिक कुल 32 पैसेंजर ट्रेनें चलाई जाएगी। इनमें लखनऊ मंडल से सात, वाराणसी मंडल से 23 और इज्जतनगर मंडल से 22 ट्रेनें शामिल हैं। रेल प्रशासन ने गोरखपुर से बढ़नी होकर सीतापुर, गोरखपुर से भटनी, गोरखपुर से बस्ती और गोरखपुर से गोंडा तक पैसेंजर ट्रेन का पूरा शेड्यूल तैयार कर लिया है।

रेलवे बोर्ड से इन तीनों को चलाने का संकेत भी मिल चुका है अब रेल प्रशासन को लिखित आदेश का इंतजार है।
... और पढ़ें

सोशल मीडिया पर हथियारों का नुमाइश करना पड़ेगा महंगा, खानी पड़ेगी जेल की हवा

असलहे का शौक अगर सोशल मीडिया पर नजर आया तो उस शौकीन का जेल जाना तय है। दरअसल, बिना लाइसेंस के किसी का असलहा धारण करना, आर्म्स एक्ट के तहत जुर्म है। इसी तरह लाइसेंस धारक होने के बावजूद आपके हथियार का गलत इस्तेमाल होता है तो यह भी कानूनन जुर्म है। हाल में हथियारों के नुमाइश करने वाले कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के मद्देजनर, गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने पुलिस को ऐसे हर मामलों में सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

एसएसपी ने पुलिस को सोशल मीडिया की निगरानी कर ऐसे मामले सामने आने पर तत्काल केस दर्ज कर संबंधित को जेल भिजवाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही एसएसपी ने लोगों से अपील भी की है कि असलहे का प्रदर्शन न करें। अभिभावक अपने बच्चों पर ध्यान दें। पकड़े जाने पर कानूनी कार्रवाई की वजह से आरोपी और उसके परिवार को परेशान होना पड़ेगा।
... और पढ़ें

नेपाल में संसद सभा की बहाली के बाद जश्न का माहौल, नेकपा कार्यकर्ताओं ने निकाली रैली

प्रतीकात्मक तस्वीर
नेपाल में संसद सभा बहाली के बाद बुधवार को नेपाल के नारायण घाट में नेकपा कार्यकर्ताओं ने विजय रैली निकाल जश्न मनाया। इसके साथ ही सीमावर्ती क्षेत्र रूपनदेही, नवलपरासी, कपिलवस्तु, दांग, पोखरा, नारायण घाट, बीरगंज और काठमांडू में प्रचंड और माधव नेपाल समर्थित नेकपा कार्यकर्ताओं ने संसद बहाली पर जश्न मनाया।

नेपाल के उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को अपने ऐतिहासिक फैसले में तय समय से पहले चुनाव की तैयारियों में जुटे प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को झटका देते हुए संसद बहाली के आदेश दिया। कोर्ट ने संसद की भंग की गई प्रतिनिधि सभा को बहाल करने का आदेश दिया।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा संसद की बहाली का स्वागत करने के लिए कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल (सीपीएन) के प्रचंड-नेपाल गुट द्वारा आयोजित विजय रैली शुरू हो गई है। विजय रैली बुधवार दोपहर बाद काठमांडू के शांतिवाटिका में शुरू हुई। इसके बाद नारायण घाट, रूपनदेही , पोखरा, नवलपरासी, सहित कई जिलों में लोग सड़क पर उतरकर प्रचंड के पक्ष में नारे लगाते रहे।

नारायण घाट नगर प्रभारी कृष्ण प्रसाद ग्यवाली ने बताया कि यह न्याय की जीत है। देश पर जानबूझकर कर चुनाव थोपा जा रहा था। उन्होंने बताया कि 275 सदस्यों वाले संसद के निचले सदन को भंग करने के सरकार के फैसले पर  कोर्ट ने रोक लगा दिया है। अदालत ने निचले सदन को भंग किए जाने को 'असंवैधानिक' करार देते हुए सरकार को अगले 13 दिनों के अंदर सदन का सत्र बुलाने का आदेश दिया है। नेकपा संसद सभा भंग होने के बाद से ही जनता के साथ ही और न्याय मिला।
... और पढ़ें

यूपी के इस चिड़ियाघर में बसेगा तितलियों का खूबसूरत संसार, सुरक्षित प्रजनन के लिए उनका घर बनकर तैयार

एक्सक्लूसिव: नगर निगम के नियम नहीं माने तो देना होगा जुर्माना, निगम प्रशासन ने जताई ये संभावना

गोरखपुर नगर निगम की ओर से निर्धारित नियमों का पालन नहीं करने वाले लोगों से जुर्माना वसूला जाएगा। नगर निगम ने इस बार के अपने बजट में अर्थदंड के रूप में 45 लाख रुपये आय की संभावना जताई है। वहीं उम्मीद यह भी है कि निगम को स्मार्ट सिटी फंड के रूप में राज्य सरकार से 50 करोड़ रुपये मिलेंगे।

इस बार नगर निगम ने 473 करोड़ रुपये आय का बजट पेश किया है। इसमें आय की एक संभावना जुर्माने के रूप में होने वाली रकम भी है। दरअसल, प्रतिबंधित पॉलिथीन के इस्तेमाल, अतिक्रमण, सड़क पर गंदगी बिखेरने, सड़क किनारे गिट्टी, बालू आदि रखकर बेचने आदि पर जुर्माने का प्रावधान है। इसी को ध्यान में रखते हुए नगर निगम ने इस मद में पिछले साल के मुकाबले 10 प्रतिशत अधिक आय की संभावना जताई है।

हालांकि बजट में सबसे ज्यादा आय की संभावना शासकीय अनुदानों से प्राप्त होने की संभावना जताई गई है। इसमें प्रमुख रूप से राज्य वित्त आयोग से अनुदान के रूप में 140 करोड़, केंद्रीय राहत आपदा अनुदान से 50 लाख रुपये, केंद्रीय वित्त आयोग अनुदान से 60 करोड़ रुपये, स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत 50 करोड़ रुपये आय की संभावना है। वहीं विज्ञापन से कर के रूप में 2.80 करोड़ रुपये, नगर निगम के भवनों, दुकानों से 2.50 करोड़ रुपये आय की संभावना जताई गई है।
... और पढ़ें

गोरखपुर: जाम की समस्या पर शहरवासियों ने दिया खास सुझाव, बोले- 'ठेले वालों को सड़क से दूर करें'

गोरखपुर शहर के ट्रांसपोर्ट नगर से राजघाट पुल तक रोजाना लगने वाले जाम की प्रमुख वजह सड़क पर ठेले वालों का कब्जा है। शहरवासियों ने सुझाव दिए हैं कि अगर ठेले वालों को सड़क से दूर कर व्यवस्थित कर दिया जाए तो जाम से निजात मिल जाएगी।
 
लोगों का कहना है कि ट्रांसपोर्ट नगर से राजघाट पुल तक सड़क पर अतिक्रमण होने की वजह से ही जाम लगता है। चौराहे के आसपास और सड़क पर ही ठेले वाले दुकान लगा देते हैं। ठेलों पर सामान खरीदने के लिए ग्राहक अपने वाहन सड़क पर रोक देते हैं, इससे जाम लग जाता है।

इसी तरह राजघाट पुल से पहले हार्बर्ट बंधे की ओर कटे मार्ग पर लोग गाड़ी अचानक मोड़ देते हैं। वहां पर जब पुलिस मौजूद होती है तब तक तो गनीमत रहती है, नहीं तो जाम लग जाता है। यही हाल ट्रांसपोर्ट नगर चौराहे पर भी है।

ठेले वालों को चौराहे से दूर किया जाए
अशोक कुमार ने कहा कि ट्रांसपोर्ट नगर से लेकर राजघाट पुल तक जाम की बड़ी वजह है कि ठेले वाले बिल्कुल सड़क पर आ जाते हैं। जिस वजह से लोग खरीदारी करने को रुकते हैं और जाम लग जाता है। ठेले वालों को थोड़ा पीछे या दूसरी जगहों पर भेजा जाए तो जाम से निजात मिल सकती है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X