लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Gorakhpur ›   Youth caught again converting to religion in Gorakhpur

Religion Change: फिर धर्म परिवर्तन कराते पकड़ा गया युवक, पिपराइच थाने में इस तरह का तीसरा मामला

अमर उजाला नेटवर्क, गोरखपुर Published by: शाहरुख खान Updated Wed, 28 Sep 2022 09:57 AM IST
सार

गोरखपुर में धर्म परिवर्तन कराते हुए एक युवक पकड़ा गया है। 12 सितंबर को तीन आरोपियों को पुलिस ने जेल भेजा था। तब अखिलेश पर कार्रवाई नहीं की गई थी। पुलिस ने आरोपी अखिलेश को गिरफ्तार कर जेल भिजवा दिया है।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

गोरखपुर के पिपराइच इलाके के महुअंवा खुर्द गांव में मंगलवार को प्रलोभन देकर लोगों को ईसाई बनाने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि मंगलवार को धर्म सभा आयोजित कर ये लोग धर्म परिवर्तन करा रहे थे। पकड़े गए आरोपी अखिलेश का नाम पिछली बार भी सामने आया था, लेकिन पुलिस ने तीन लोगों को जेल भेजा था और अखिलेश को छोड़ दिया था। 


पुलिस ने प्रधान ऋषिकेश की तहरीर पर केस दर्ज कर आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेजा गया। प्रधान की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धर्म परिवर्तन, जालसाजी, मेडिकल काउंसिल एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पकड़े गए आरोपी की पहचान में महराजी निवासी अखिलेश प्रसाद के रूप में हुई है। 


प्रधान ने तहरीर में लिखा है कि गांव का अखिलेश प्रसाद कुछ दिन से गांव में खासकर अनुसूचित जाति के लोगों को रुपये, आराम की जिंदगी, मिशनरी स्कूलों में दाखिला, रोजगार जैसे लुभावने प्रलोभन देकर मनोवैज्ञानिक रूप से धर्म परिवर्तन करने का दबाव बना रहा है। 

जो लोग उनके बहकावे में नहीं आ रहे हैं, उनको यह लोग कैंसर, पेट दर्द, कान बहना, गले में दर्द जैसी बीमारी बताकर सेवा भाव का नाटक रच रहे हैं। ताकि, वह धर्म परिवर्तन कर लें। पुलिस ने प्रधान के इसी आरोप के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।

पिपराइच थाने में इस तरह का तीसरा मामला

धर्म परिवर्तन का आरोप तो अक्सर लगता है, लेकिन पुलिस की जांच में यह बात साबित नहीं हो पाती है। पिपराइच थाने में इस तरह का यह तीसरा मामला सामने आया है। पुलिस ने छह महीने पहले भी इस तरह का केस दर्ज किया था। तब बाहर से आकर लोगों ने पिपराइच में डेरा डाला था। 

इसके बाद 12 सितंबर को पुलिस ने तीन आरोपियों को जेल भेजा था। अब एक बार फिर इस तरह का मामला सामने आया है, जिसमें पुलिस ने केस दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि मौके से पुलिस को धार्मिक पुस्तकें भी मिली हैं।

पुलिस ने तहरीर के आधार पर धर्म परिवर्तन कराने, जालसाजी और मेडिकल काउंसिल एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।
- मनोज अवस्थी, एसपी नार्थ
 
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00