Legacy of ITM: आईटीएम देहरादून ने स्थापित किया नया कीर्तिमान, लॉकडाउन में भी दिए हाथों-हाथ प्लेसमेंट

Media Solution Initiative Published by: देवेश शर्मा Updated Thu, 09 Sep 2021 06:48 PM IST

सार

Legacy of ITM Dehradun: इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट देहरादून ने शिक्षा और रोजगार के हर क्षेत्र में स्थापित किया एक नया कीर्तिमान, लॉक-डाउन के दौरान सफल ऑनलाइन पढ़ाई के साथ-साथ, प्लेसमेंट भी दिया हाथों-हाथ। 

ITM : इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, देहरादून
ITM : इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, देहरादून - फोटो : ITM dehradun
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आईटीएम देहरादून के संस्थापक और चेयरमैन निशांत थपलियाल बताते है की आईटीएम का उद्देश्य स्किल गैप को कम करना और ऐसे कुशल व योग्य युवाओं को तैयार करना है जो कि देश की अर्थव्यवस्था में अपना योगदान दे सकें। आज आईटीएम सिर्फ देहरादून या उत्तरखंड ही नहीं बल्कि देश के अग्रणी शिक्षण संस्थानों में से एक है। 
विज्ञापन

आईटीएम देहरादून की विरासत
आईटीएम ने अपने विश्व स्तरीय इंफ्रास्ट्रक्चर, ग्लोबल एक्सपोजर, बेहतरीन शिक्षा व पर्सनालिटी डेवलपमेंट के साथ आईटीएम छात्रों को एक इंडस्ट्री स्तर का प्रोफेशनल बनाती है, जिससे प्रतिष्ठित वैश्विक कंपनियों में अपना करियर बनाने का सपना साकार करना अब बहुत ही आसान हो गया है। जिसके चलते टाइम्स ने हाल में किये गये सर्वे के बाद देश भर के बिजनेस स्कूलों की जो सूची जारी की है, उसके मुताबिक आईटीएम देश के 100 बी स्कूल में चयनित हुआ है। पिछले दो दशकों में देहरादून में इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट यानी आईटीएम कॉलेज को शिक्षा के क्षेत्र में कदम रखने के बाद प्रोफेशनल एजुकेशन के क्षेत्र में काफी बड़ा बदलाव आया है। आईटीएम ने स्टूडेंट्स के लिए नए रास्ते खोल दिए हैं।


डाइनामिक लर्निंग एनवायरमेंट
आईटीएम इंफ्रास्ट्रक्चर के आधार पर देहरादून के अग्रणी इंस्टीटूट्स में से एक है । यहां पर आधुनिक सुविधा से लैस स्मार्ट क्लासरूम, उच्चस्तरीय सॉफ्टवेयर से युक्त कंप्यूटर लैब, कैफेटेरिया, एनीमेशन डिजाइन स्टूडियो, मास- मीडिया विद्यार्थियों के लिए स्मार्ट-मीडिया ब्राडकास्टिंग स्टूडियो, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लैब, डिजिटल लाइब्रेरी, स्मार्ट इजी टू यूज़ मोबाइल ऍप, जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसके अलावा विद्यार्थियों की को-करिकुलर एक्टीविटी जैसे वैल्यू एडेड कोर्स, कॉन्फ्रेंस, वर्कशॉप, एफडीपी आदि सुचारू रूप से चलते रहते हैं।

एडमिशन की अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे  - https://www.itmddn.com/

हमारा एकेडेमिक्स- पैशन से प्रोफेशन तक
आईटीएम का मकसद सिर्फ सिर्फ किताबी ज्ञान व क्लास रूम तक सीमित रहने वाला ज्ञान प्रदान करना नहीं है, आईटीएम अच्छी शिक्षा के साथ साथ अपने विद्यार्थियों को हैंड्स ऑन ट्रेनिंग भी जानकारी प्रदान करता है। जिसकी वजह से छात्रों को लाइव प्रोजेक्ट, गेस्ट लेक्चर, इंटर्नशिप, वर्कशॉप व एक्सपेरीमेंट के रूप में ढेरों मौके प्रदान किए जाते हैं।
किसी भी इंडस्ट्री के लिए छात्रों को तैयार करने हेतु पढ़ाई के समय ही उन्हें इंडस्ट्री की आवश्यकताओं से अवगत कराना बेहद आवश्यक है । जिसके लिए आईटीएम ने कई बड़ी इंडस्ट्री से समझौते स्थापित कर रखे हैं। छात्रों को आज के समय की मांग को समझने में सहायता करते हुए इंडस्ट्री की मुश्किलों को समाप्त करना आईटीएम का प्रमुख उद्देश्य है। 
दिसम्बर 2020 तक 500 से ज्यादा छात्रों का कई मल्टीनेशनल कंपनियों जैसे टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस, आईबीएम, बाईजूस, विप्रो, टेक महिन्द्रा, टीसीएस, रेडियो- एफ.एम, इंडिगो एयर लाइन्स, एड-प्रो आदि में प्लेसमेंट हो चुका है। 2020 में छात्रों का औसत प्लेसमेंट पैकेज 4.60 लाख प्रतिवर्ष और अधिकतम 10.50 लाख प्रतिवर्ष था।


ग्लोबल प्लेटफॉर्म के साथ साथ सबसे अच्छा प्लेसमेंट की ऑपर्चुनिटी उपलब्ध कराना 

इस वर्ष आईटीएम में कैंपस प्लेसमेंट के लिए यहां 65 से भी अधिक कंपनियां आईं। इन कंपनियों में टेक महिन्द्रा, एमेजॉन, बाइजू, इंडियो एयरलाइंस, विप्रो, टीसीएस, इंफोसिस, उत्तराखंड टूरिज्म, इम्पावर स्कूल आफ एनीमेशन, आईडीएफसी बैंक आदि प्रमुख हैं। 
संस्थान के अनुसार कैंपस प्लेसमेंट में 4 लाख 18 हजार रुपये से लेकर दस लाख रुपये के सालाना पैकेज पर छात्रों की नियुक्ति की गई। संस्थान की छात्रा को 10.50 लाख का पैकेज मिला। संस्थान का दावा है कि पिछले चार साल में आईटीएम के एक हजार से भी अधिक बच्चों को कैंपस प्लेसमेंट मिला है।
कई कंपनियों ने तो यहां की शिक्षा पद्धति की मीडिया के सामने तारीफ भी की है। इसके अलावा आईटीएम ने कई प्रसिद्ध शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक संस्थानों के साथ MOU साइन किए हैं, जिसका उद्देश्य यहां के छात्रों को स्किल आधारित शिक्षा प्रदान करना व रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। 


आईटीएम स्पोर्ट्स अचीवमेंट्स
आईटीएम की अपनी स्पोर्ट्स अकादमी है जिसमे लगभग सारी स्पोर्ट्स फैसिलिटी जैसे उपलब्ध हैं। जिसमे कुशल प्रशिक्षक की देख रेख में आईटीएम ने उत्तराखंड में अपने चैंपियन होने लोहा मनवाया है। आईटीएम अपने छात्रों की पढ़ाई व खेल कूद का एक संतुलन बनाए रखने को कटिबद्ध है। छात्रों के सर्वांगीण विकास हेतु स्पोर्ट्स एक्टिविटी बेहद आवश्यक है।

1. हमारे दिव्यांश जोशी अंडर-19 वर्ल्ड कप खेल कर आईटीएम को गौरवान्वित किया है।
2. हमारे Msc IT के कुणाल चंदेला दिल्ली के लिए रणजी ट्राफी खेल कर आईटीएम के खेल प्रशिक्षण की लीडरशिप को एक नया आयाम दिया है।
3. तीन बार HNB गढ़वाल यूनिवर्सिटी बॉयज क्रिकेट विजेता वर्ष 2014, 2016 और 2019।
4. देहरादून डिस्ट्रिक्ट चैंपियन।
5. विनर ऑफ नवनीत खंडूरी क्रिकेट टूर्नामेंट-2016।
6. विनर ऑफ देव भूमि क्रिकेट टूर्नामेंट -2014।
7. विनर ऑफ RIT क्रिकेट टूर्नामेंट -2019।
8. विनर ऑफ श्रीदेव सुमन बॉयज किरकेट टूर्नामेंट -2019।
9. बैडमिंटन में पुलकित राठी 3 टाइम्स चैंपियन ऑफ़ HNB गढ़वाल टूर्नामेंट।
10. अमृत पाल 3 टाइम्स विनर इन बैडमिंटन HNB यूनिवर्सिटी।
11. हमारी विद्यार्थी हीमा ने वर्ष 2019 HNB गढ़वाल यूनिवर्सिटी की महिला बैडमिंटन की विजेता है।
12. वर्ष 2019 में आईटीएम ने HNB एथलेटिक खेल का आयोजक है।
 
छात्रों का सम्पूर्ण विकास
बाजार की मांग के अनुरूप संस्थान के छात्रों को तैयार करने के लिए आईटीएम ने एक शुरूआत की है। यहां किसी भी कोर्स में दाखिला लेने वाले छात्र-छात्राओं को अंग्रेजी सिखायी जाती है और व्यक्तित्व विकास यानी पर्सनेल्टिी डेवलपमेंट भी किया जाता है। अंग्रेजी और पर्सनेल्टी डेवलपमेंट पूरी तरह से निशुल्क है। इसके अलावा आईटीएम में व्यक्तित्व विकास के लिए चार क्लब भी बनाए गये हैं। इसमें स्पोर्ट्स क्लब, इंनवारमेंट, कल्चरल और लिंगवल क्लब शामिल हैं।

आईटीएम ने खोला उत्तराखंड का पहला स्किल डेवलपमेंट सेंटर
आईटीएम ने अपने छात्रों को स्किल्ड बनाने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। संस्थान राष्ट्रीय कौशल विकास निगम यानी एनएसडीसी का पार्टनर है। इसके तहत छात्रों को पढ़ाई के साथ ही रोजगारपरक शिक्षा दी जाती है। आईटीएम अपने छात्रों को डिग्री या डिप्लोमा कोर्स के साथ ही स्किल्ड और व्यवसायिक बनाने का निशुल्क प्रशिक्षिण देता है। इसमें बैंकिंग और फाइनेंस, मीडिया और इंटरटेनमेंट, हास्पिटिलिटी, आईटीईएस, रिटेल मैनेजमेंट आदि का प्रक्षिशण दिया जाता है ताकि बाजार की जरूरत के मुताबिक छात्रों को तैयार किया जा सके।
आईटीएम देहरादून अपने छात्र-छात्राओं को कौशलपरक शिक्षा के क्षेत्र में दक्ष करने के लिए अपने शैक्षिक पाठ्यक्रम में आधुनिक टेक्निक और प्रोसेस को समाहित किया है। यहां के छात्र-छात्राओं को निरंतर नेशनल और मल्टी नेशनल कंपनियों के अधिकारी आकर अपने अनुभव और कौशल से अवगत कराते रहते हैं। इसके लिए आईटीएम में वर्षभर सेमिनार
आयोजित की जाती हैं। प्रैक्टीकल जानकारी के लिए कंपनियों की कार्यप्रणाली को सामने देखने के लिए शैक्षिक भ्रमण आयोजित किये जाते हैं। आवश्यकता पड़ने पर मल्टीनेशनल कंपनियों में प्रशिक्षण के लिए भी भेजा जाता है।

आईटीएम में कोर्स
बीबीए, बीसीए, बीएससी (आईटी), एमएससी (आईटी), बीएससी (एनीमेशन), बी लिव, एम.लिव, बी. कॉम विद कंप्यूटराइज्ड अकाउंटिंग, बी.ए- मास कम्युनिकेशन, एम. कॉम, बीएचएम, डीएचएम।

एडमिशन की अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे  - https://www.itmddn.com/

 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00