विज्ञापन
विज्ञापन

छात्रों के उज्जवल भविष्य के लिए राह बनाता HIT देहरादून

Advertorial Updated Tue, 25 Jun 2019 05:14 PM IST
Himalayan institute of technology
Himalayan institute of technology - फोटो : Himalayan institute of technology
ख़बर सुनें
12 वीं पास करने के बाद छात्रों के सामने सबसे बड़ी समस्या होती है कि वह किस क्षेत्र में अपना करियर बनायें। उससे भी ज्यादा जरूरी है कि वह जिस भी क्षेत्र को करियर बनाने के लिए चुनते हैं, उसके लिए एक अच्छे संस्थान का चुनाव करें। आज के आधुनिक युग से जुड़ने व उसे समझने के लिए उनके विषय के अनुरूप जरूरी लैब्स मौजूद हों। छात्र के कौशल को पूरी तरह से उभारने में एक अच्छे संस्थान की अहम भूमिका होती है।
विज्ञापन
हिमालयन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी- एचआईटी की स्थापना वर्ष 2001 में की गई थी। संस्थान ने अपनी कड़ी मेहनत व लगन से अपना नाम कॉरपोरेट, अकादमिक एवं प्रोफेशनल क्षेत्र में शिखर तक पहुंचाया है। संस्थान अपनी सफलता का श्रेय अपने छात्रों को देता है। संस्थान अपने छात्रों को उच्च शिक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध है, जो कि आज के कॉरपोरेट जगत की मांग है। संस्थान में छात्रों के लिए सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हैं। यहां छात्रों के लिए प्लेसमेंट सेल भी है, जो उनके लिए रोजगार के अवसर खोजता है। वर्तमान में संस्थान में 20 से ज्यादा कोर्सेस संचालित किये जा रहे हैं।

बीएससी एग्रीकल्चर

आज एग्रीकल्चर विषय छात्रों के लिए सोने की खान की तरह साबित हो रहा है, जिसमें रोजगार की अपार संभावनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही हैं। एचआईटी में एग्रीकल्चर के विभिन्न प्रकार के बैचलर और मास्टर्स प्रोग्राम चलाये जा रहे हैं, जैसे- बीएससी एग्रीकल्चर, बीएससी फॉरेस्ट्री, एमएससी एग्रोनॉमी व अन्य। एचआईटी में इन कोर्सेस को चलाने के लिए सभी सुविधाएं एवं लैब उपलब्ध हैं, जैसे- स्वैल साइंस लैब, एग्रोनॉमी लैब, हॉर्टीकल्चर, एन्टामोलॉजी लैब एवं प्लांट पैथोलॉजी लैब। संस्थान के एग्रीकल्चर के कोर्सों को आईसीएआर के अनुरूप ही बनाया गया है। यह कोर्स करने के पश्चात् एचआईटी के छात्र विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में कार्यरत हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

करियर के लिए सही शिक्षण संस्थान का चयन है एक चुनौती, सच और दावों की पड़ताल करना जरूरी
Dolphin PG Dehradun

करियर के लिए सही शिक्षण संस्थान का चयन है एक चुनौती, सच और दावों की पड़ताल करना जरूरी

तुरंत पायें अपनी सभी धन, प्यार, नौकरी, व्यापार आदि समस्याओं का समाधान सिर्फ 99 /-  में
Astrology

तुरंत पायें अपनी सभी धन, प्यार, नौकरी, व्यापार आदि समस्याओं का समाधान सिर्फ 99 /- में

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Education

...तो साल में दो बार होगी बोर्ड परीक्षा, 10वीं-12वीं की तरह इन कक्षाओं में भी बोर्ड एग्जाम 

स्कूलों में स्टूडेंट्स को तीसरी, पांचवीं और आठवीं कक्षा के लिए भी बोर्ड परीक्षा देनी पड़ सकती है। यह प्रवाधान

17 जुलाई 2019

विज्ञापन

ऋचा भारती ने किया सजा के तौर पर कुरान बांटने से इनकार

सोशल मीडिया पर एक धर्म विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाली झारखंड की 19 वर्षीय ऋचा भारती ने रांची की अदालत के फैसले से असंतुष्टता जाहिर की है।

17 जुलाई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree