Hindi News ›   Education ›   Bachelors in Science Degree in the Philippines cannot be equated with the MBBS Degree in India Says NMC Guidelines

Medical Education from Philippines: एनएमसी की गाइडलाइन- फिलीपींस का बीएस कोर्स एमबीबीएस के समकक्ष नहीं

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: देवेश शर्मा Updated Mon, 28 Mar 2022 12:13 AM IST
सार

NMC Guidelines- BS course in Philippines can'ot be equated with India's MBBS: नेशनल मेडिकल कमीशन ने यह भी कहा कि नियमों के अनुसार, विदेशी चिकित्सा योग्यता या पाठ्यक्रम जो भारत में एमबीबीएस पाठ्यक्रम के समकक्ष नहीं हैं, उन्हें देश में चिकित्सा का अभ्यास करने के लिए पंजीकरण के लिए वैध योग्यता के रूप में नहीं माना जा सकता है।

नेशनल मेडिकल कमीशन (NMC)
नेशनल मेडिकल कमीशन (NMC) - फोटो : NMC
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

नेशनल मेडिकल कमीशन यानी राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (NMC) ने कहा है कि फिलीपींस के बैचलर ऑफ साइंस पाठ्यक्रम (Bachelors in Science) की तुलना भारत के एमबीबीएस (MBBS) पाठ्यक्रम से नहीं की जा सकती है। क्योंकि इसमें जीव विज्ञान के विषय कक्षा 11वीं और 12वीं के समान हैं। 


राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग ने यह भी कहा कि नियमों के अनुसार, विदेशी चिकित्सा योग्यता या पाठ्यक्रम जो भारत में एमबीबीएस पाठ्यक्रम के समकक्ष नहीं हैं, उन्हें देश में मेडिकल प्रैक्टिस करने हेतु पंजीकरण के लिए वैध योग्यता के तौर पर नहीं माना जा सकता। 

 

फिलीपींस में बीएस और एमडी दो अलग-अलग डिग्री

25 मार्च को जारी अधिसूचना में, राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग (एनएमसी) ने कहा कि उसने फिलीपींस में बीएस (विज्ञान में स्नातक) पाठ्यक्रम में पंजीकृत छात्रों के प्रतिनिधित्व पर विचार किया है, जो विदेशी चिकित्सा स्नातक लाइसेंस (एफएमजीएल) एक्ट-2021 के लागू होने से पहले प्रवेश ले चुके इंडियन मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए विशेष छूट की मांग कर रहे हैं। एनएमसी ने कहा कि फिलीपींस में बीएस और एमडी पाठ्यक्रम दो अलग-अलग डिग्री कार्यक्रम हैं।

बीएस को एमबीबीएस के समकक्ष नहीं मान सकते 

एनएमसी ने अधिसूचना दिशा-निर्देश में कहा कि फिलीपींस के बीएस यानी बैचलर ऑफ साइंस पाठ्यक्रम को एमबीबीएस पाठ्यक्रम के साथ समकक्ष/ शामिल नहीं किया जा सकता है। इसलिए, 18 नवंबर, 2021 जब एफएमजीएल संबंधी अधिसूचना प्रकाशित की गई थी, के बाद में या पहले से ही किसी भी विदेशी चिकित्सा पाठ्यक्रम में प्रवेश ले चुके हैं जोकि भारत में एमबीबीएस पाठ्यक्रम के समकक्ष नहीं है, को भारत में मेडिकल प्रैक्टिस पंजीकरण के लिए योग्यता के रूप में नहीं माना जा सकता है।  

फिलीपींस से एमडी कर रहे छात्रों को राहत संभव

एनएमसी ने आगे कहा कि एफएमजीएल एक्ट 2021 से पहले फिलीपींस में एमडी पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने वाले छात्रों के संबंध में विचार किया जा सकता है, हालांकि, यह पंजीकरण के लिए अन्य प्रचलित पात्रता मानदंडों को पूरा करने के अधीन होगा। आयोग ने कहा कि फिलीपींस में बीएस कोर्स प्री-मेडिकल कोर्स है, जिसके पूरा होने के बाद उम्मीदवारों को एमडी कोर्स (एमबीबीएस के समकक्ष) में प्रवेश लेने के लिए एनएमएटी परीक्षा में शामिल होना होता है, जो चार साल की अवधि का होता है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00