लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Education ›   Assam: FIR against 12 people in Jorhat Police Station in JB College Ragging Case

असम : डिब्रूगढ़ के बाद अब जोरहाट में सामने आया रैगिंग का मामला, 12 छात्रों के खिलाफ एआईआर

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: देवेश शर्मा Updated Fri, 02 Dec 2022 08:48 PM IST
सार

असम के जोरहाट जिले के एक प्रमुख कॉलेज द्वारा एक जूनियर हॉस्टल कैदी द्वारा रैगिंग करने और शिकायत वापस लेने के लिए दबाव डालने के आरोप में 12 छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। 

Assam Ragging Case
Assam Ragging Case - फोटो : Agency
विज्ञापन

विस्तार

अमस में एक के बाद एक लगातार रैगिंग के मामले सामने आ रहे हैं। डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी में सामने आए दो रैगिंग मामलों पर विवाद अभी थमा नहीं है कि जोरहाट के एक कॉलेज में रैगिंग करने और उसे छिपाने के लिए दबाव बनाने का मामला सामने आया है। एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि असम के जोरहाट जिले के एक प्रमुख कॉलेज द्वारा एक जूनियर हॉस्टल कैदी द्वारा रैगिंग करने और शिकायत वापस लेने के लिए दबाव डालने के आरोप में 12 छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। 


उन्होंने कहा कि पुलिस ने जांच शुरू कर दी है, हालांकि अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। जगन्नाथ बरुआ (जेबी) कॉलेज के प्रिंसिपल ने पीड़ित छात्र के लिखित बयान के आधार पर गुरुवार को जोरहाट पुलिस स्टेशन में 12 आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। यह मामला डिब्रूगढ़ में कथित रैगिंग की दो घटनाओं के बाद सामने आया है। जेबी कॉलेज की घटना का ब्योरा देते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमें शिकायत गुरुवार शाम को मिली। इसे देखने के बाद हमने एआईआर दर्ज की।


एआईआर में संस्थान के आठ वर्तमान और एक पूर्व छात्रों को रैगिंग में शामिल होने के आरोप में नामजद किया गया है। कॉलेज के अधिकारियों से अपनी प्रारंभिक शिकायत वापस लेने के लिए छात्र पर कथित रूप से दबाव बनाने के लिए तीन अन्य व्यक्तियों का नाम लिया गया है। कॉलेज के अधिकारियों ने कहा कि तीन वर्षीय डिग्री कोर्स के पहले सेमेस्टर के छात्र ने सितंबर की शुरुआत में सैयद अब्दुल मलिक छात्रावास के अधिकारियों से शिकायत के की थी और उसने हॉस्टल छोड़ दिया। छात्र ने तीन दिन पहले फिर से अधिकारियों से शिकायत दी है, इसलिए एआईआर कराई गई है और एंटी-रैगिंग कमेटी को जांच सौंपी गई है। कमेटी सप्ताहभर में रिपोर्ट देगी। 

असम पुलिस रैगिंग के खिलाफ और सख्त होगी : डीजीपी

असम पुलिस के महानिदेशक (डीजीपी) भास्कर ज्योति महंत ने कहा है कि असम पुलिस रैगिंग के खिलाफ और सख्त होगी। रैगिंग को किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह प्रतिक्रिया मुख्यमंत्री डॉ.  हिमंत बिस्व सरमा ने असम पुलिस को रैगिंग के खिलाफ सख्त होने का निर्देश देने के बाद आई है। शुक्रवार को असम पुलिस के महानिदेशक (डीजीपी) भास्कर ज्योति महंत ने डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय रैगिंग की घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, सभ्य समाज में रैगिंग जैसी कुप्रथा का कोई स्थान नहीं है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। रैगिंग को बढ़ावा देने वाले महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय प्रबंधन के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई होगी।

विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00