विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020
Puja

चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

नोएडा जिला अस्पताल के 5 से ज्यादा कर्मचारी संक्रमित, फिर सील होगा अस्पताल

नोएडा के जिला अस्पताल में 5 से ज्यादा कर्मचारी संक्रमित
नोएडा के जिला अस्पताल से खबर है कि 5 से ज्यादा कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। हालांकि संख्या की अभी पूरी तरह से पुष्टि नहीं हुई है। इसी के चलते माना जा रहा है कि अस्पताल दोबारा सील हो सकता है। संक्रमण के चलते पहले भी अस्पताल सील हुआ था।

बुलंदशहर में 19 और संक्रमित मिले, आंकड़ा हुआ 157
बुलंदशहर में कोरोना संक्रमितों के सामने आने का सिलसिला जारी है। लगातार सामने आ रहे मामलों के चलते कहा जा रहा है कि अब सिकंदराबाद ओर खुर्जा में कोरोना चेन बनती जा रही है। खुर्जा के अरनिया ब्लॉक, क्योली मुनी, दस्तूरा, डिबाई, बुलंदशहर और सिकंदराबाद क्षेत्र में पूर्व में मिले संक्रमित के संपर्क में आने पर 19 में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इस तरह अब जनपद में संक्रमितों की कुल संख्या 157 हो गई है। इसमें से 95 ठीक हो चुके हैं, दो की मौत हो गई है और 60 सक्रिय मरीजों का इलाज चल रहा है।

दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर लगा दो किमी लंबा जाम
दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर दो किलोमीटर लंबा जाम लग गया है। इससे गाजियाबाद जाने वालों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। लोगों काफी देर से जाम में फंसे हुए हैं। यह जाम दिल्ली बॉर्डर पर चेकिंग के चलते लगा है।

दिल्ली में कोरोना से चौथे पुलिसकर्मी की मौत
दिल्ली में कोरोना से आज चौथे पुलिसकर्मी की मौत की खबर है। यह जवान सफदरजंग अस्पताल में भर्ती था, जहां उसकी मौत हो गई।

दिल्ली की तमाम सीमाओं पर लगा लंबा जाम
अन्य राज्यों से लगी दिल्ली की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं, जिसके बाद आज कई जगह पर लंबा जाम लग रहा है। लोगों का पास चेक करने के बाद ही उन्हें दिल्ली में प्रवेश दिया जा रहा है। हालांकि कुछ सीमाओं पर हर वाहन की जांच नहीं हो रही है।
... और पढ़ें
दिल्ली बॉर्डर सील होने के चलते सीमाओं पर लगा जाम दिल्ली बॉर्डर सील होने के चलते सीमाओं पर लगा जाम

दिल्ली: शाहीन बाग में दोबारा धरना शुरू होने की खबर पर मचा हड़कंप, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

नागरिकता कानून के खिलाफ शाहीन बाग में महिलाएं दोबारा धरने पर बैठने जा रही हैं, यह सूचना मिलते ही पुराने धरनास्थल पर भारी मात्रा में पुलिसबल तैनात कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि शाहीन बाग में गुपचुप तरीके से दोबारा धरना शुरू करने की तैयारी चल रही है। यहां पर फिलहाल तकरीबन 100 पुलिसवालों ने मोर्चा संभाल लिया है। 

जानकारी के अनुसार कुछ महिलाएं यहां इकट्ठा भी हो गई थीं। जिन्हें पुलिस ने समझा-बुझाकर वापस भेज दिया। मौके पर ज्वाइंट सीपी देवेश श्रीवास्तव भी मौजूद हैं।

किसी भी असुविधा से बचने के लिए पुलिस ने शाहीन बाग के साथ ही जामिया और उसके आसपास भी सुरक्षा बल तैनात कर दिए हैं। इसके साथ ही खुफिया विभाग को भी अलर्ट कर दिया गया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शाहीन बाग में बीते कुछ दिनों से सीमित संख्या में लोग इकट्ठा हो रहे थे। यह लोग बैठकें भी कर रहे थे लेकिन धरने पर नहीं बैठ रहे थे। आज जब धरने पर बैठने की खबर मिली तो तुरंत पुलिस वहां पहुंची।
... और पढ़ें

दिल्ली के तीनों निगमों में 113 कर्मचारी संक्रमित, छह की मौत, सरकार ने मदद की गुहार

कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे दिल्ली के तीनों नगर निगम के कर्मचारी मैदान में डटे हुए हैं। यही कारण है कि तीनों नगर निगमों में 113 कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं और छह कर्मचारियों मौत हो गई है। सबसे अधिक कोरोना के मामले उत्तरी निगम में हैं। यहां 78 कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं और दो कर्मचारी दम तोड़ चुके हैं। इनमें एक शिक्षिका और एक कनिष्ठ अभियंता शामिल हैं। 

इसके अलावा 90 से अधिक कर्मचारी होम क्वारंटीन हैं। दक्षिणी निगम में अभी तक 14 कर्मचारियों को कोरोना हो चुका है। यहां दो सफाई कर्मचारी की भी मौत हो चुकी है। पूर्वी निगम में अब तक सात कर्मचारियों को कोरोना हो चुका है। इसके अलावा दो कर्मचारियों की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। इसमें दोनों ही सफाई कर्मचारी थे।

उत्तरी निगम में आधे से अधिक स्वास्थ्य कर्मी पॉजिटिव
उत्तरी दिल्ली नगर निगम में संक्रमित कुल कर्मचारियों में 40 स्वास्थ्य कर्मी हैं। इसमें भी आधे कर्मचारी यानी 20 कर्मचारी अकेले केवल हिंदूराव अस्पताल के हैं। इसके अलावा 38 कर्मचारी फील्ड स्टाफ के हैं। इसमें सफाई कर्मचारी से लेकर निगम के शिक्षक भी शामिल हैं।

साफ-सफाई और राशन वितरण की है अहम जिम्मेदारी
नगर निगमों में इस समय सफाई कर्मचारी से लेकर स्वास्थ्यकर्मी और शिक्षक भी अहम भूमिका निभा रहे हैं। इसमें सफाई कर्मचारी जहां कंटेनमेंट जोन से लेकर बफर जोन में भी सफाई करने के काम संभाल रहे हैं। वहीं, स्वास्थ्यकर्मी अस्पताल में मरीजों की देखभाल कर रहे हैं। इसके अलावा निगम के शिक्षकों को जरूरतमंदों को राशन बांटने के लिए वितरण केंद्रों पर तैनात किया गया है। यही वजह है कि निगम के यह तीनों वर्ग के कर्मचारी कोरोना से अछूते नहीं हैं।

हमारे कर्मचारी अपनी सेवा देने का भरसक प्रयास कर रहे हैं। यही वजह है कि वह अधिक संक्रमित हैं। दिल्ली सरकार को हमारी मदद करनी चाहिए, जो भी हमारा पैसा बकाया है वह देना चाहिए, ताकि कर्मचारियों को समय पर वेतन दिया जा सके।
-अवतार सिंह, महापौर-उत्तरी दिल्ली नगर निगम
... और पढ़ें

दिल्ली हिंसा: ताहिर हुसैन के पास थे 100 कारतूस, पुलिस का दावा-रिश्तेदार गुलफान ने...

delhi violence

दिल्ली बॉर्डर सील करने के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सरकार सरकार द्वारा दिल्ली के सभी बॉर्डरों को एक सप्ताह तक सील किए जाने के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। यह याचिका वकील कुशाग्र कुमार की ओर से दायर की गई है। 

याचिका में याची ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा बॉर्डरों को एक सप्ताह के लिए सील करने का फैसला अतार्किक, तर्कहीन, अनुचित और असंवैधानिक है। याचिका में दावा किया गया है कि इस याचिका में संविधान के अनुच्छेद 14, 19 और 21 का उल्लंघन है। 

याचिका में कहा गया कि इस आदेश से दिल्ली एनसीआर में रह रहे लोगों को आवाजाही के अधिकार का हनन हो रहा है। साथ याचिका में कहा गया कि दिल्ली के कई अस्पताल केन्द्र सरकार के अधीन है और इन अस्पतालों में इलाज करवाने के लिए यूपी और हरियाणा से आने वाले लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लग गया है, जबकि इन अस्पतालों का खर्च केन्द्र सरकार वहन करती है। 

इसके साथ ही बॉर्डर सील होने से दिल्ली एनसीआर में रहने वाले उन लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जो दिल्ली में काम करते हैं।
... और पढ़ें

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 से निपटने के लिए किया पैनल का गठन, अस्पतालों की सुविधा और तैयारी करेंगे सुदृढ़

दिल्ली एम्स के 286 कर्मचारी कोरोना की चपेट में, 193 परिजन भी संक्रमित

कोरोना वायरस को लेकर देश का सबसे बड़ा चिकित्सीय संस्थान सीधे तौर पर प्रभावित हुआ है। अभी तक दिल्ली एम्स के 286 कर्मचारी कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। जबकि इन कर्मचारियों के 193 परिजन भी कोरोना वायरस से पॉजिटिव मिल चुके हैं। 

चार दिन तक पहले तक एम्स से जुड़े कुल 479 संक्रमित केस मिले हैं जिनमें दो फैकल्टी, 17 रेजीडेंट, 38 नर्स, 74 सुरक्षा गार्ड, 74 हॉस्पिटल अटेंडेंट और 54 सफाई कर्मचारी शामिल हैं। 

इनके अलावा छह एमएलटी, एक आरटी, छह ओटी और एक एक्सरे तकनीशियन भी कोरोना वायरस से संक्रमित मिल चुका है। 12 डीईओ और एक पीसीसी के अलावा 193 लोग एम्स के कर्मचारियों के परिजन हैं और वह कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। 

इससे पहले एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया भी कह चुके हैं कि एम्स में स्वास्थ्य कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिल रही है। हालांकि इनमें से कुछ ही कर्मचारी हैं जो कोविड वार्ड में ड्यूटी दे रहे थे और वायरस की चपेट में आए हैं। 

जबकि बाकी सभी कर्मचारी बाहर से संक्रमित होकर अस्पताल आए हैं। उन्होंने बताया कि यह कर्मचारी भी दिल्ली के कई इलाकों में रहते हैं। वायरस का आउटब्रेक होने से कर्मचारी भी उसकी चपेट में आ रहे हैं। साथ ही इनके परिजन भी कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन