इंडीपिंडी ने किया फैशन कूटूर इवेंट का सफल आयोजन

ब्यूरो/अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 06 Oct 2016 05:13 PM IST
विज्ञापन
successful Kutur fashion event by Indipindi

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
फैशन में कल्चर के रंग घुलते ही उसमें एक नयापन सा आ जाता है, एक ऐसा रंग उभर कर आता है जिसे कहीं और ढूंढना या भूल पाना मुमकिन नहीं होता है। उसी थीम पर काम करते हुए इंडीपिंडी ने इंटरनेशनल और लोकल कल्चर का फ्यूजन फैशन तैयार किया है। साड़ी हो, स्कर्ट हो या क्लच, कुछ सर्वश्रेष्ठ डिजाइनर्स के साथ मिलकर उसने स्टेट-ऑफ-द-आर्ट प्रोडक्ट्स लॉन्च किए हैं। 
विज्ञापन

इवेंट के दौरान मुख्य तौर पर एएएफटी के निदेशक संदीप मारवाह मौजूद रहे, जिन्होंने नवोदित डिजाइनर्स को 'मेक इन इंडिया' कॉन्सेप्ट पर काम करने के लिए काफी प्रोत्साहित किया।
इवेंट में डॉ. शालिनी शर्मा भी प्रमुख तौर पर मौजूद रहीं। उन्होंने आगंतुकों के जीवन से जुड़ी समस्याओं का न्यूमरोलॉजी व पामिस्ट्री के माध्यम से निदान किया। जैसा कि नाम से जाहिर है, इंडीपिंडी कुछ ऐसे भारतीय डिजाइनर्स का समूह है जो कि देश भर में भ्रमण कर अपने डिजाइंस को शोकेस करते हैं। वे रूरल व लोकल कल्चर और फैशन को एक ऐसा विविध रूप देते हैं कि उनकी चमक व प्रसिद्घि अंतर्राष्ट्ररीय स्तर तक पहुंच जाती है।
स्वाति मेहरोत्रा, शू डिजाइनर एंड रिटेलर - लेबल स्वाति मोडो के नाम से इंटरनेशनल शू मार्केट में इन्होंने अपनी खास पहचान बनाई है। आज के ट्रेंड को ध्यान में रखते हुए ये अपने यूनीक डिजाइंस तैयार करती हैं। आशिमा शर्मा - इनकी खासियत है कि ये अपने कलेक्शन को लोगों के साइज व पसंद के अनुसार कस्टमाइज कर देती हैं, जिससे कि हर कोई हर तरह के आउटफिट को सहजता से पहन सके। साक्षी तंवर के 'रेशम' में शादी व त्योहारों को ध्यान में रखते हुए विशेष पारंपरिेक कलेक्शन को प्रदर्शित किया गया। नैना के विशिष्ट' ज्यूलरी कलेक्शन में भारतीय नोमैड्स की छाप नजर आती है। 'इनथिंग्स' में लाइफस्टाइल और इंटीरियर से जुड़े प्रोडक्ट्स की अपनी पहचान है। 'लेबल रिचेन' दिल्ली के बाहर बेस्ड एक ऑर्गेनिक फैशन लेबल है जो अपने कलेक्शन में ईको और स्किन फ्रेंड्ली डाई का प्रयोग करता है। लाइफस्टाइल ब्लॉग 'दिल्ली की लड़कियां' इस इवेंट में इंडीपिंडी का ब्लॉग पार्टनर रहा।

इंडीपिंडी क्या
इंडियन और पिंड से मिलकर बना ब्रैंड नेम इंडीपिंडी, जिसका मतलब है भारतीय गांव। इस नाम में ही इस ब्रैंड के कलेक्शन की खासियत भी छुपी हुई है। यह भारत के लोकल और कल्चरल फैशन को आज के अनुरूप ढालकर इंटरनेशनल स्तर तक का बना देता है। इस ग्रुप के डिजाइनर्स भारतीय सभ्यता को पश्चिमी टच देकर उसे क्लासी बना देते हैं। इसकी स्थापना ललित खन्नावालिया और उदित वत्स ने 2016 में की थी, यह दिल्ली का एक ऐसा फैशन स्टोर है जहां फुटवेयर, आउटफिट्स और ज्यूलरी से लेकर स्त्रियों की जरूरत व पसंद का ध्यान रखते हुए हर सामान मिलता है।

इंडीपिंडी का मुख्य उद्देश्य है, अपने डिजाइनर्स को इंटरनेशनल एक्सपोजर दिलाने में मदद करना, जिससे कि उनके बिजनेस के साथ ही भारतीय सभ्यता को भी लोग जान और समझ सकें। इस ब्रैंड नेम को दूर-दूर तक पहुंचाने के लिए इंडीपिंडी के डिजाइनर्स प्रयासरत हैं और इसके लिए वे एक से बढ़कर एक डिजाइंस लॉन्च करते रहते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us