दर्द बताने के लिए कलम का सहारा

नई दिल्ली/ब्यूरो Updated Wed, 19 Dec 2012 01:40 PM IST
gangrape victim is expressing herself through writing
फीजियोथेरेपी का कोर्स करने के बाद युवती ने यही सोचा होगा कि जरूरतमंदों के हाथ-पैर और शरीर को फिट रखने में उनकी मदद करूंगी। लेकिन दरिंदों ने उसके शरीर की इतनी बुरी हालत कर दी कि अब उसे अपना ही दर्द बयां करने के लिए कलम का सहारा लेना पड़ रहा है।

सफदरजंग अस्पताल की आईसीयू में भर्ती दुष्कर्म की शिकार युवती की हालत इतनी दयनीय है कि वह कुछ बोल नहीं पा रही है। लिहाजा अपना दर्द बयां करने के लिए पेन और कागज का सहारा ले रही है। जब उसका दर्द असहनीय हो जाता है तब वह कलम से कागज पर लिख कर डॉक्टर को बताती है कि उसे बहुत दर्द हो रहा है। इसके बाद डॉक्टर उसे दर्द की दवा देते हैं। पैर हिलाना या आगे-पीछे करने के बारे में भी वह कलम से लिखकर बताती है।

उसकी आंखें खुली हैं और दिमाग भी काम कर रहा है, लेकिन शरीर में हरकत नहीं है। डॉक्टरों ने बताया कि वह अभी बैठ नहीं सकती। आने वाले कुछ दिनों में वह खतरे से बाहर नहीं आ सकती है। चिकित्सकों ने बताया कि उसके पेट और गुप्त अंगों में गंभीर चोट है। किसी धारदार हथियार से भी हमला किया गया है। पीड़िता का इलाज कर रहीं वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अरुणा बत्रा का कहना है कि ऐसा केस उनके जीवन में कभी नहीं आया।

चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बी.डी.अथणी ने बताया कि पीड़िता की मां को कुछ-कुछ देर पर आईसीयू में जाने दिया जाता है। कई बार पीड़िता खुद मां को याद करती है तो कई बार मां की इच्छा के अनुसार भी उन्हें आईसीयू में जाने दिया जाता है। घटना से आहत युवती की मां कई बार रो पड़ती हैं। आईसीयू में पीड़िता के सामने उनकी आंखों में आंसू न आए इसका भी ख्याल रखा जाता है। पीड़िता से सिर्फ मां को मिलने की इजाजत दी गई है। पुलिस अथवा परिवार के अन्य सदस्य को मिलने की इजाजत नहीं है।

Spotlight

Most Read

Unnao

ट्रक में भिड़ी कार, एक की मौत

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर शाहपुर तोंदा गांव के सामने ट्रक के अचानक ब्रेक लेने से पीछे आ रही तेज रफ्तार कार पीछे घुस गई। हादसे में चालक की मौत हो गई। साथी गंभीर रूप से घायल हो गया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

रविवार के दिन मौज-मस्ती के बीच इन चीजों से रहें दूर

जानना चाहते हैं कि रविवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र, दिन के किस पहर में करने हैं शुभ काम और कितने बजे होगा सोमवार का सूर्योदय? देखिए, पंचांग गुरुवार 21 जनवरी 2018।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper