उपराज्यपाल को भी पसंद है अन्ना-केजरीवाल स्टाइल

New Delhi Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
नई दिल्ली। दिल्ली के उपराज्यपाल तेजेंद्र खन्ना को भ्रष्टाचार मुक्त भारत का सपना देखने वाले अन्ना हजारे और अरविंद केजरीवाल का स्टाइल बेहद पसंद है। वे मानते हैं कि हम सभी भ्रष्टाचार के खिलाफ एक साथ आवाज उठाएं तो अन्ना और केजरीवाल को आंदोलन करने की आवश्यकता ही नहीं होगी।
बतौर मुख्य अतिथि उपराज्यपाल ने इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के 9वें दीक्षांत समारोह में छात्रों को डिग्री प्रदान की। उन्होंने कहा कि कॉलेज में छात्रों को गुणवत्ता शिक्षा के साथ-साथ ईमानदारी और भ्रष्टाचार मुक्त समाज की स्थापना में सहयोग देने का भी शिक्षा देनी चाहिए, ताकि जब वे अपना करियर शुरू करें, तब उनके दिल और दिमाग में इन उसूलों की खास जगह हो। उन्होंने कहा कि कॉलेज में छात्र ऐसे पौधे के रूप में होते हैं, जिन्हें किसी भी दिशा में मोड़ा जा सकता है। उपराज्यपाल ने मंच से छात्रों को अन्ना हजारे और केजरीवाल की मुहिम को जीवन में अपनाने की भी सलाह दी। इस पर दर्शकदीर्घा में बैठे अतिथियों ने तालियों से समर्थन किया। उन्होंने छात्रों से हमेशा अलर्ट रहने का आग्रह करते हुए कहा कि जिन स्कूलों और कॉलेजों के आप छात्र हैं, अगर वहां किसी तरह का भ्रष्टाचार या पाठ्यक्रम और मैनेजमेंट में कमी दिखती है तो उसकी शिकायत के साथ-साथ अपने हक के लिए आवाज उठाएं। इसकी शिकायत विश्वविद्यालय मैनेजमेंट से करें, ताकि कमियों को दूर किया जा सके।

----------------------
15945 छात्रों को मिली डिग्री
द्वारका स्थित आईपीयू कैंपस में सोमवार को आयोजित समारोह में उपराज्यपाल तेजेंद्र खन्ना ने 15945 छात्रों को डिग्री प्रदान की। इनमें से 3004 को मास्टर डिग्री, 12,704 को बैचलर डिग्री, 95 को एमबीबीएस, 71 को एमडी/एमएस, 12 को डीएम/एमसीएच और 38 छात्रों को आईएएमआर की डिग्री से सम्मानित किया गया। समारोह में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 67 होनहार छात्रों को गोल्ड मेडल देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा कक्षा में 90 फीसदी से अधिक हाजिरी और पढ़ाई में अव्वल रहने पर 15 छात्रों को अवार्ड देकर सम्मानित किया गया। समारोह में 21 पीएचडी छात्रों की डिग्री की भी घोषणा की गई। हालांकि उन्हें समारोह में सम्मानित नहीं किया गया। कुलपति प्रो. बंदोपाध्याय के अनुसार, इस दीक्षांत समारोह में जिन छात्रों को डिग्री दी गई हैं, उनके आधार पर रिजल्ट की सफलता फीसदी पिछले वर्षों की तुलना में बढ़ी है। इस प्रकार अब आईपीयू का आंकड़ा 93.29 फीसदी पहुंच गया है, जिसमें से सबसे अधिक प्रथम श्रेणी के छात्रों की संख्या है, जोकि लगभग 71 फीसदी है।

Spotlight

Most Read

Ballia

अभाविप ने फूंका केरल सरकार का पुतला

कार्यकर्ता की हत्‍या के विरोध में फूटा गुस्सा

21 जनवरी 2018

Related Videos

राजधानी में बेखौफ बदमाश, दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला का कत्ल

यूपी में बदमाशों का कहर जारी है। ग्रामीण क्षेत्रों को तो छोड़ ही दीजिए, राजधानी में भी लोग सुरक्षित नहीं हैं। शनिवार दोपहर बदमाशों ने लखनऊ में हार्डवेयर कारोबारी की पत्नी की दिनदहाड़े घर में घुस कर हत्या कर दी।

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper