महारैली के रेले में फंसी रही राजधानी

New Delhi Updated Mon, 05 Nov 2012 12:00 PM IST
नई दिल्ली। कांग्रेस की रामलीला मैदान में आयोजित महारैली के लिए पहुंचे समर्थकों के रेले से रविवार को दिल्लीवासी जाम में फंसे रहे। ट्रैफिक पुलिस की योजना ध्वस्त होती नजर आई। सुबह से लेकर दोपहर करीब तीन बजे तक सड़कों पर वाहन चालक जाम से जूझ रहे थे। भीड़, कारें और सड़कों पर बसों की पार्किंग से लगे जाम से वाहन जहां-तहां खड़े रहे। बुरे हालात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि रिंग रोड पर एक किलोमीटर के सफर को पूरा करने में एक घंटे से ज्यादा का समय लग रहा था।
जाम के कारण डीटीसी बसों के ट्रिप मिस हुए, सेंट्रल दिल्ली के अस्पतालों में पहुंचने के लिए मरीज परेशान हुए तो जाम में फंसकर लोगों को छुट्टी खराब हो गई। कई लोग पुरानी दिल्ली दीपावली की खरीदारी के लिए जाना चाहते थे, लेकिन जाम ने उनका रास्ता रोक लिया। रैली के समर्थक पांच किमी से पैदल रामलीला मैदान की तरफ आ रहे थे। दिल्ली पुलिस और देश की खुफिया एजेंसियों की भारी भीड़ पहुंचने की रिपोर्ट के बावजूद ट्रैफिक पुलिस के इंतजाम का दावा भी खोखला नजर आया। चौराहों पर खड़े ट्रैफिक पुलिसकर्मी जाम और वाहनों की रेले के आगे लाचार नजर आए। इसका नतीजा यह रहा कि बिना किसी योजना के डीटीसी बसों और वाहनों का डायवर्जन इधर-उधर करने से बस चालक समेत निजी वाहन चालक दिल्ली में भटकते रहे।
रैली की भीड़ से सबसे ज्यादा प्रभावित सेंट्रल दिल्ली की सड़कें रही। इसके अलावा रिंग रोड, दिल्ली गेट-आईएसबीटी जाने वाली रोड, बाराखंभा रोड, आईटीओ चुंगी रोड, विकास मार्ग पर जाम लगा रहा। बदइंतजामी के चलते इससे लिंक होने वाली सड़कें भी दोपहर बाद जाम में उलझ गईं। लक्ष्मी नगर से आईटीओ आने वाली सड़क पर करीब दो किलोमीटर लंबा जाम लग गया। इसी तरह रामचरण अग्रवाल चौक से लक्ष्मी नगर जाने वाली सड़क पर लंबा जाम लग गया। रिंग रोड पर इंद्रप्रस्थ की ओर से आने व जाने वाली दोनों सड़कें जाम थीं। रैली के लिए बाहर आई बसें मुख्य सड़कों पर ही खड़ी कर दी गई थीं। इससे वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगा रहा।
समागम के कारण आउटर रिंग रोड पर रेंगे वाहन
संत निरंकारी मिशन का 65वें वार्षिक संत समागम के चलते आउटर रिंग रोड से गुजरने वालों को भारी जाम का सामना करना पड़ा। मुकरबा चौक से वजीराबाद क्रासिंग के बीच आउटर रिंग रोड का ट्रैफिक हैवी रहा। इससे वाहन रेंगते हुए आगे बढ़ रहे थे। जाम से सबसे ज्यादा परेशानी जहांगीरपुरी, मुकुंदपुर, संत नगर एक्स., भलस्वा डेयरी, बुराड़ी से आने वाले लोगों हुई, क्योंकि यहां पर डायवर्जन के ज्यादा विकल्प नहीं है। पुलिस का कहना है कि पांच नवंबर को अंतिम दिन होने से यहां जाम और बढ़ सकता है। इससे लोग या तो रिंग रोड या जीटी रोड का इस्तेमाल करे। अगर नहीं कर सकते हैं तो घर से समय लेकर निकलें।
तीन एंबुलेंस भी जाम में फसीं
रामलीला मैदान के आसपास बने दिल्ली सरकार के लोकनायक, जीबी पंत, गुरु नानक आई सेंटर और कस्तूरबा गांधी अस्पताल के मरीजों और उनके तीमारदारों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रैली की वजह से लगे जाम में राजघाट, दिल्ली गेट और शांति वन के आसपास एंबुलेंस भी फंसी रहीं। कैट्स के मुताबिक, सुबह 11 बजे राजघाट, साढ़े ग्यारह बजे दिल्ली गेट व साढ़े दस बजे के करीब शांति वन के पास जाम से एंबुलेंस के फंसे होने की सूचना मिली थी। हालांकि, कुछ देर बाद ट्रैफिक पुलिस के सहयोग से एंबुलेंस को रास्ता दिया गया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

साल 2018 के पहले स्टेज शो में ही सपना चौधरी ने लगाई 'आग', देखिए

साल 2018 में भी सपना चौधरी का जलवा बरकरार है। आज हम आपको उनकी साल 2018 की पहली स्टेज परफॉर्मेंस दिखाने जा रहे हैं। सपना ने 2018 का पहले स्टेज शो मध्य प्रदेश के मुरैना में किया। यहां उन्होंने अपने कई गानों पर डांस कर लोगों का दिल जीता।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper