शीला के कार्यक्रम में फेंका अंडा

New Delhi Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
नई दिल्ली। बिजली की बढ़ी कीमतों व महंगाई पर मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है। शुक्रवार को उनके मंच पर चप्पल फेंकने के बाद शनिवार को मुस्तफाबाद में शीला के स्वागत समारोह में मंच पर अंडा फेंका गया, जो मुख्यमंत्री के बगल में खड़े स्थानीय पार्षद के सिर पर जा लगा। वहीं महिलाओं ने शीला के काफिले को रोकने की कोशिश की।
अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने के संबंध में मुस्तफाबाद के संजय चौक पर पार्षद हाजी मोहम्मद ने मुख्यमंत्री का स्वागत समारोह आयोजित किया था। शीला दीक्षित का काफिला करीब 7.00 बजे इलाके में पहुंचा। आयोजन स्थल से पहले चांद बाग की पुलिया पर स्थानीय महिलाएं हाथ में काला झंडा लिए मौजूद थीं। भारी नारेबाजी के बीच मुख्यमंत्री का काफिला रोकने की कोशिश की गई। हालांकि पुलिस ने किसी तरह काफिले को मंच तक पहुंचाया।
शीला ने माइक संभाला ही था कि भीड़ में से किसी ने एक अंडा मंच की तरफ उछाल दिया। अंडा मुख्यमंत्री के बगल में खड़े पार्षद ताज मोहम्मद के सिर पर जा गिरा। इसके छींटे मुख्यमंत्री के हाथ पर भी पड़े। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने घेरा बना लिया। मुख्यमंत्री चंद मिनटों में अपना भाषण खत्म करके वापस लौट गईं। लेकिन महिलाओं ने वापसी में भी विरोध जारी रखा। काफिले को निकालने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। विरोध कर रही महिलाओं का कहना था कि इस बार हमारे घर का बिजली बिल चार गुना से ज्यादा आया है। इसका भुगतान संभव नहीं है। सरकार हम गरीबों के साथ पर नाइंसाफी कर रही है। गौरतलब है कि शुक्रवार को भी नंद नगरी के एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाने के साथ मंच पर चप्पल भी उछाला गया था।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: आपने आज तक नहीं देखा होगा ऐसा डांस! चौंक जाएंगे देखकर

सोशल मीडिया पर अक्सर आपको कई चीजें वायरल होते हुए मिल जाती हैं लेकिन फिर भी कई चीजें ऐसी होती हैं जो वायरल तो हो रही हैं लेकिन आप तक नहीं पहुंच पातीं।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls