हाईटेक कश्मीरी गेट बस अड्डे की सुविधा नव वर्ष से

New Delhi Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
नई दिल्ली। कश्मीरी गेट बस अड्डे को अपग्रेड करके शुरू करने का लक्ष्य फिर बदल दिया गया है। इस बार परिवहन मंत्री ने 1 जनवरी, 2013 उद्घाटन की डेडलाइन विभाग और एजेंसी को दी है। इससे पूर्व विभाग ने प्रथम चरण दिसंबर, 2011 में पूरा करने का लक्ष्य रखा था। मंत्री ने अब एयरपोर्ट की तर्ज पर यात्रियों के सामान के लिए ट्रॉली, सुंदरता बढ़ाने के लिए पेंटिंग, एसी वेटिंग एरिया में अच्छे फर्नीचर और मेन गेट के आसपास की गंदगी हटाने के निर्देश दिए हैं। निर्माण एजेंसी और परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि काम करीब-करीब खत्म है। फिनिशिंग चल रही है। जन उद्घोषणा सिस्टम को एलसीडी डिस्प्ले बोर्ड से एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन की तर्ज पर जोड़ा जाएगा। परिवहन मंत्री ने बताया कि बस अड्डे में कुछ दिक्कतें दिखाई दी हैं। अगर कोई बस खराब हो जाती है तो वर्कशॉप नहीं है, ज्यादा देर तक बसें खड़ी रहती हैं तो जुर्माना कम है, सुरक्षा के लिए पुलिस को मेन गेट पर होना चाहिए लेकिन अंदर है और मेन गेट का लुक भी अच्छा नहीं है। निरीक्षण करने के बाद विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि बस अड्डे में हरियाली बढ़ाएं, यात्री सुविधा के लिए ट्रॉली को शामिल करें और सूचना सिस्टम भी अच्छा करें। गेट के आसपास का लुक अच्छा हो इसके लिए साफ सफाई करें। विभाग को यह भी कहा है कि पार्किंग की अच्छी सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाए।
-------------------
बेशक काम लेट है, लेकिन विभाग को 1 जनवरी को उद्घाटन करने के लिए कहा गया है। विभाग के अधिकारियों ने नवंबर तक ही काम पूरा करने का आश्वासन दिया है।
-रमाकांत गोस्वामी, परिवहन मंत्री, दिल्ली
------------------
बस अड्डा बन जाएगा नो कुकिंग जोन
बस अड्डे को भविष्य में नो कुकिंग जोन बना दिया जाएगा। वेटिंग एरिया के चारों तरफ इंटरनेशनल फूड कोर्ट होगा जहां मैकडोनाल्ड या किसी अन्य कंपनी का खाना मिलेगा। छोटे दुकानदारों को शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है।
बिना टिकट नहीं जा सकेंगे प्लेटफार्म तक
ग्राउंड फ्लोर पर टिकटिंग एरिया होगा और बिना टिकट लिए लोग प्लेटफार्म तक नहीं जा सकेंगे। काउंटर, एसी वेटिंग एरिया, आरओ वाटर और वर्ल्ड क्लास सुविधा वाले जन सुविधा केंद्र भी बनकर तैयार हैं।
रिंग रोड के दूसरी तरफ से सीधे बस अड्डा
बस अड्डे में रिंग रोड से प्रवेश करने वाले यात्रियों को बसों के बीच से आवागमन नहीं करना पड़ेगा। पीडब्ल्यूडी के फुटओवर ब्रिज को कॉनकोर्स एरिया से जोड़ दिया जाएगा।
बस से उतरते ही मिलेगी लिफ्ट
यात्रियों को बस से उतरकर इधर-उधर नहीं घूमना पड़ेगा। जहां बस उतारेंगी, उसके पास में ही दो लिफ्ट लगी हैं। इससे यात्री फर्स्ट फ्लोर पर आ सकेंगे। यहीं वेटिंग एरिया बनाया गया है। बस से संबंधित सूचनाएं यहीं मिल जाएंगी।
125 करोड़ रुपये खर्च
प्रोजेक्ट पर 125 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। बस अड्डे में प्रवेश के साथ ऐसा लगेगा जैसे मेट्रो स्टेशन या एयरपोर्ट के लॉन्ज में आ गए हों। स्टील पैनलिंग के साथ ही वर्ष 1976 में बनी इस बिल्डिंग को रेट्रोफिटमेंट करके भूकंपरोधी बनाया गया है।

Spotlight

Related Videos

बुधवार को ये करें आपका दिन होगा मंगलमय

जानना चाहते हैं कि बुधवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र, दिन के किस पहर में करने हैं शुभ काम और कितने बजे होगा बुधवार का सूर्योदय? देखिए, पंचांग बुधवार 24 जनवरी 2018।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper