ऑनर किलिंग मामले में एक परिवार के पांच दोषी

New Delhi Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
नई दिल्ली । स्वरूप नगर में 2010 में हुई ऑनर किलिंग में रोहिणी जिला अदालत ने एक ही परिवार के पांच लोगों को दोषी करार दिया है। दोषियों ने नाबालिग प्रेमी जोड़े को पीटने और प्रताड़ित करने के बाद करंट लगाकर हत्या कर दी थी। दोषियों की सजा पर पांच अक्टूबर को बहस होगी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश रमेश कुमार ने योगेश और आशा की हत्या के मामले में सूरज, माया, ओमप्रकाश, खुशबू और संजीव को दोषी करार दिया।
मामले के अनुसार, योगेश और आशा एक दूसरे से प्रेम करते थे। दोनों शादी की मंशा को परिजनों के सामने जाहिर कर चुके थे। आशा का परिवार फल और सब्जी बेचने का काम करता था उसे लड़के की जाति पर ऐतराज था। इसके चलते जून 2010 में आशा के पिता सूरज, मां माया, चाचा ओमप्रकाश, पत्नी खुशबू और उनके बेटे संजीव ने मिलकर पहले प्रेमी जोड़े को पीटा और फिर प्रताड़ित करने के बाद करंट लगाकर मौत के घाट उतार दिया था। बहस के दौरान अभियोजन पक्ष ने कहा कि यह ऑनर किलिंग का मामला है, जिससे हमारे समाज की दकियानूसी सोच जाहिर होती है। यह अपने आप में एक विरला मामला है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

दावोस पीएम मोदी की तारीफ में सुपरस्टार शाहरुख खान ने पढ़े कसीदे

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018