डॉक्टरों की ही मोबाइल उड़ाता था फर्जी डॉक्टर

New Delhi Updated Sun, 12 Aug 2012 12:00 PM IST
नई दिल्ली। एम्स और सफदरजंग अस्पताल में डॉक्टरों के ड्यूटी रूम से मोबाइल और महंगा सामान उड़ाने के आरोप में पुलिस ने फर्जी डॉक्टर अमनदीप सिंह (23) और रिसीवर जितेंद्र उर्फ जीतू (22) को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अस्पताल से चोरी किए गए डॉक्टरों के 21 मोबाइल बरामद किए हैं। अमनदीप डॉक्टर का कोट पहन गले में स्टेथोस्कोप लटकाकर अस्पताल में घूमता था।
दक्षिण जिला डीसीपी छाया शर्मा के अनुसार, सफदरजंग अस्पताल के बर्न एंड प्लास्टिक विभाग में तैनात डॉक्टर विजय मिश्रा ने मोबाइल चोरी की शिकायत सफदरजंग थाने में दर्ज कराई थी। डॉक्टर मिश्रा ने बर्न विभाग में जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर अमन पर संदेह व्यक्त किया। शिकायतकर्ता ने बताया कि अस्पताल में अमन नाम का कोई डॉक्टर नहीं है। जांच के दौरान पुलिस ने टैगोर गार्डन निवासी अमनदीप सिंह और वेलकम निवासी जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता लगा कि 12वीं पास अमनदीप डॉक्टर बनना चाहता था। परिवार की माली हालत के चलते आगे नहीं पढ़ सका। इसके बाद नेहरू प्लेस स्थित एक प्राइवेट कंपनी में काम करने लगा। इसकी तनख्वाह कम थी और शौक महंगे थे। इसके बाद चोरी करने लगा और दो बार गिरफ्तार भी हुआ। दिसंबर, 2011 में जेल से आया था। तभी यह सफदरजंग अस्पताल गया और चोरी का ये नया आइडिया मिला।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मेरठ में LIVE मर्डर, महिला के सीने में उतारी 8 गोलियां

मेरठ से एक वृद्ध महिला के मर्डर की लाइव तस्वीरें सामने आई हैं। सोरखा गांव में तीन बदमाशों ने घर मंह घुसकर मां-बेटे की हत्या कर दी। ये घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है, इसमें तीन लोग महिला पर गोली चलाते हुए साफ देते जा सकते हैं। देखिए पूरा वीडियो।

24 जनवरी 2018