बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

लॉक हुआ आनंद विहार: कर्फ्यू लागू होने के बाद भी जारी रहा मजदूरों का पलायन, बस ऑपरेटरों ने जमकर काटी चांदी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Vikas Kumar Updated Tue, 20 Apr 2021 06:34 AM IST

सार

दिल्ली में दोपहर बाद शुरू हुआ प्रवासी मजदूरों का पलायन रात्रि कर्फ्यू लागू होने के बाद भी जारी रहा। आनंद विहार, सराय काले खां सहित सभी बस अड्डों और अलग-अलग इलाकों से निजी बसों में प्रवासी कामगार अपने घर को वापस लौटते हुए दिखाई दिए। 
विज्ञापन
आनंद विहार बस अड्डे पर प्रवासी मजूदरों की भीड़
आनंद विहार बस अड्डे पर प्रवासी मजूदरों की भीड़ - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन का एलान करते वक्त प्रवासी कामगारों से राजधानी न छोड़ने की अपील की थी, लेकिन अंतरराज्यीय बस अड्डों समेत दूसरी जगहों से उनके पलायन का सिलसिला तेज हो गया है। दोपहर बाद शुरू हुआ लोगों का पलायन देर रात कर्फ्यू लागू होने के बाद भी जारी रहा। आनंद विहार, सराय काले खां सहित सभी बस अड्डों और अलग-अलग इलाकों से निजी बसों में प्रवासी कामगार अपने घर को वापस लौटते हुए दिखाई दिए। 
विज्ञापन


आनंद विहार से कौशांबी बस अड्डे को जोड़ने वाले फुटओवर ब्रिज पर भीड़ इतनी बढ़ गई कि हालात को काबू करने के लिए सुरक्षाकर्मियों को उतरना पड़ा। पुल पर पूरे दिन जनसैलाब ऐसा था, जैसे उन्हें लॉकडाउन जल्दी न खुलने की उम्मीद हो। इस दौरान तमाम जगहों पर उन्होंने कोरोना से बचाव के नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाईं। आनंद विहार बस अड्डे पर उत्तर प्रदेश की ओर जाने वाली बसों में सवार होने के लिए हजारों लोग मौजूद थे। दोपहर बाद के हालात डरावने थे। 


आनंद विहार आईएसबीटी से यूपी के शहरों में जाने वालों को कौशांबी फुटओवर ब्रिज पर भेजा गया था। यहां कुछ ही मिनटों में भीड़ इतनी बढ़ गई कि धक्का-मुक्की शुरू हो गई। इस दौरान कोरोना से बचाव के नियमों की कौन कहे, कई लोगों को शारीरिक चोटों से बचने के प्रयास करते देखा गया। आनंद विहार बस अड्डे से लोकल और यूपी के लिए बसों की आवाजाही बंद होने के बाद यात्रियों के लिए फुटओवर ब्रिज का इस्तेमाल मजबूरी थी। यहां लोगों की पुलिसकर्मियों और सिविल डिफेंस कर्मियों से जगह-जगह बहस भी हुई।

इस दौरान निजी बस ऑपरेटरों ने जमकर चांदी काटी। उनके एजेंट पूरे इलाके में सक्रिय हो गए और बिहार के पटना, मुजफ्फरपुर, उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर, प्रतापगढ़ और गोरखपुर आदि शहरों के लिए सीट देने के दावे करके बुकिंग करने लगे। बस में घुसने पर जिसे जहां मौका मिला, बैठ गया। न तो बसों के अंदर सामाजिक दूरी थी, न ही बाहर।

सीएम ने कहा, छोटा है लॉकडाउन
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह समझना मुश्किल नहीं कि लॉकडाउन के दौरान लोगों के रोजगार खत्म हो जाते हैं। कमाई खत्म होने से गरीब तबके के लिए मुश्किल हालात होते हैं। दिहाड़ी मजदूरों के लिए समस्या और ज्यादा है। प्रवासी मजदूरों से अपील है कि यह छोटा-सा केवल 6 दिन का लॉकडाउन है। आप दिल्ली छोड़कर मत जाइएगा। आने-जाने में आपका इतना समय, पैसा और काफी ऊर्जा खत्म हो जाएगी। आप दिल्ली में ही रहिए। मुझे उम्मीद है कि यह छोटा लॉकडाउन है और छोटा ही रहेगा। शायद बढ़ाने की जरूरत न पड़े।

सराय काले खां पर भी जमा थी भीड़
सराय काले खां बस अड्डे के सामने से मध्य प्रदेश के छत्तरपुर, दमोह, ग्वालियर और छत्तीसगढ़ आदि के लिए बसें रवाना हुईं। यहां ज्यादातर बसें सीटें फुल होने के बाद ही रवाना हुईं। इस दौरान बच्चे, महिलाएं और बुजुर्ग नियमों की अनदेखी पर मजबूर रहे। छत्तरपुर जा रहे एक युवक ने बताया कि वह नौकरी कर रहा था। अब लॉकडाउन में क्या करेगा।

लॉकडाउन बढ़ने का भी दिखा डर 
दिल्ली से अधिकतर यात्री अपना सामान भी साथ लेकर जा रहे हैं। इसलिए बसों में जगह तत्काल फुल हो रही थी। कई यात्रियों ने बातचीत में बताया कि उन्हें इस बात की चिंता सता रही है कि लॉकडाउन अब जाने कितने दिनों के लिए लागू कर दिया जाए।

पुलिस आयुक्त ने भी दिल्ली न छोड़ने की अपील
पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने प्रवासी कामगारों से अपील की कि वे दिल्ली न छोड़ें। उन्होंने कहा कि काम छूटने के कारण प्रवासी मजदूर लौटना चाह रहे हैं। उनसे अपील है कि दिल्ली न छोड़ें। सब मिलकर उनकी मदद करेंगे।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

लॉकडाउन की घोषणा होते ही लोग घरों सें बाहर निकले, लगा जाम

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X