बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

20 और किसानों के खिलाफ लुकआउट नोटिस, 15 नई एफआईआर, पुलिस को विदेश भागने की आशंका

अमर उजाला नेटवर्क, दिल्ली Published by: दुष्यंत शर्मा Updated Wed, 03 Mar 2021 05:49 AM IST

सार

  • पुलिस को आशंका है कि कार्रवाई से बचने के लिए भाग सकते हैं विदेश
  • राकेश टिकैत और पन्नू समेत कई नेताओं को पूछताछ में शामिल होने के लिए दूसरा नोटिस
विज्ञापन
rakesh tikait
rakesh tikait - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली हिंसा मामले में 20 और किसानों के खिलाफ लुकआउट नोटिस (एलओसी) जारी किए गए हैं। इनमें ज्यादातर किसान नेता हैं। इससे पहले 40 किसानों के खिलाफ यह नोटिस जारी किया जा चुका है।
विज्ञापन


पुलिस को आशंका है कि ये लोग पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए विदेश भाग सकते हैं। एयरपोर्ट पर भी सतर्कता बढ़ा दी गई है। विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) ने बताया कि दिल्ली पुलिस की पूछताछ में शामिल होने के लिए किसान नेताओं को दूसरा नोटिस भेजा गया है। अभी ज्यादातर नेता पूछताछ में शामिल नहीं हुए हैं। इनमें भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत व सतनाम सिंह पन्नू आदि शामिल हैं।


अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हिंसा को लेकर 15 नई एफआईआर दर्ज की गई हैं। अब कुल एफआईआर की संख्या 59 हो गई है। इनमें से 14 की जांच दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा कर रही है। इनमें एफआईआर में कुल 158 आरोपी व किसानों को गिरफ्तार किया गया था। इनमें से 130 अभी जेल में हैं और बाकी को जमानत मिल चुकी है।

उन्होंने बताया कि हिंसा से संबंधित फोटो, वीडियो और ऑडियो देने के लिए आम लोगों से अपील की गई थी। लोगों ने 3000 फोटो, 2001 वीडियो और 73 ऑडियो भेजे हैं। ई-मेल और व्हाट्सएप के जरिए 1810 फोटो व वीडियो भेजे गए हैं। इनसे आरोपियों के चेहरे को विकसित किया जा रहा है, ताकि जल्द से जल्द पहचान हो सके। पुलिस ने लालकिले से करीब 10 हजार लोगों का डंप डाटा उठाया है। इन नंबरों से पता चला है कि सिंघु, गाजीपुर और टीकरी बॉर्डर से किसान पहुंचे थे।

पहले से तय था लालकिले पर झंडा फहराना
पुलिस के मुताबिक, जांच में सामने आ चुका है कि लालकिले पर झंडा फहराने की घटना को साजिश के तहत अंजाम दिया गया है। किसानों ने ये पहले से ही तय कर लिया था उन्हें लालकिले पर जाना है और वहां फतेह दिवस मनाने के लिए झंडा फहराना है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X