लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi CM Arvind Kejriwal praises Punjab government

Delhi: केजरीवाल का दावा- जहां होगी आप की सरकार, वहां के संविदा कर्मी होंगे पक्के

पीटीआई, नई दिल्ली Published by: विजय पुंडीर Updated Sun, 11 Sep 2022 03:52 AM IST
सार

केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने 8,736 शिक्षकों की सेवाओं को स्थायी किया है। यह दूसरों के लिए भी एक उदाहरण साबित होगा। 

अरविंद केजरीवाल
अरविंद केजरीवाल - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को दावा किया कि जहां भी आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनेगी, वहां कच्चे कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा। उन्होंने पंजाब का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां की सरकार ने 8736 कच्चे शिक्षकों को पक्का कर देशभर की राज्य सरकारों को आइना दिखाया है। पूरे देश में पहली बार आप की सरकार ने पंजाब में इतनी संख्या में कच्चे कर्मियों को पक्का किया है। कई हजार और कच्चे कर्मचारी हैं, उनको भी पक्का किया जाएगा।



आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कच्चे कर्मचारियों के शोषण को खत्म करने का अब समय आ गया है। पंजाब से निकली यह हवा अब पूरे देश में फैलेगी। उन्होंने केंद्र समेत सभी राज्य सरकारों से पंजाब सरकार की तरह कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने की अपील की। उन्होंने कहा कि देश में जहां भी आप की सरकार बनेगी, वहां कच्चे कर्मचारियों को पक्का कर उनको हक दिलाएंगे।


पंजाब के सभी कच्चे कर्मचारियों को किया जाएगा पक्का
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि पंजाब में आप की सरकार ने 8736 शिक्षकों को पक्का किया है। पंजाब में और भी कई हजार कच्चे कर्मचारी हैं। सरकार उस पर भी काम कर रही है। जितने भी कच्चे कर्मचारी हैं, उन सभी को पक्का किया जाएगा। कर्मचारियों को पक्का करने में थोड़ा समय इसलिए लग रहा है ताकि कानूनी रूप से ऐसा किया जाए। क्योंकि, यदि कोई कर्मचारियों को कोर्ट में चुनौती दे तो वो टिक जाएं।

केजरीवाल ने कहा कि इनमें कई ऐसे कच्चे कर्मचारी हैं, जो पिछले 10 से 15 साल से धरने-प्रदर्शन कर रहे थे और दुखी थे। कर्मचारी धरने-प्रदर्शन करके तंग आ गए थे। उनकी उम्र भी अधिक हो गई थी। इसलिए उनको उम्र में छूट भी दी जा रही है। यह पूरे देश के लिए एक बहुत बड़ी बात है। पूरे देश में जगह-जगह राज्य सरकारें और केंद्र सरकार सरकारी नौकरियां एक के बाद एक खत्म करती जा रही हैं। जब भारतीय अर्थव्यवस्था बढ़ रही है और हर राज्य की अर्थव्यवस्था बढ़ रही है। 

पूरे देश में जाएगा संदेश 
मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में लगभग 60 हजार शिक्षक काम करते हैं। दिल्ली में सरकार अतिथि शिक्षकों को पक्का करने के लिए विधानसभा में बिल भी लाई, लेकिन केंद्र सरकार ने उस बिल को मंजूरी नहीं दी। दिल्ली आधा राज्य है, ऐसे में बहुत सारी शक्तियां सरकार के पास नहीं है। सरकार चाह कर भी अतिथि शिक्षकों को पक्का नहीं कर सकी, लेकिन पंजाब से चिंगारी निकली है कि यह संदेश पूरे देश में जाएगा।

दिल्ली में शिक्षकों को पक्का करना तो दूर वेतन तक नहीं बढ़ा : भाजपा
संविदा कर्मियों को पक्का करने के मुख्यमंत्री अरविंद अरविंद केजरीवाल के एलान पर भाजपा ने सवाल किया है। भाजपा का आरोप है कि आप शिक्षा मॉडल का सिर्फ ढोल पीट रही है। पंजाब में ठीक उसी तरह से शिक्षकों को पक्का करने का काम किया गया है, जिस तरह से दिल्ली में मनीष सिसोदिया ने 15000 शिक्षकों को पक्का किया था। मुख्यमंत्री लोगों को सिर्फ गुमराह कर रहे हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा है कि बीते आठ साल से आप सत्ता में है। लेकिन शिक्षकों को वेतन लेने के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाना पड़ता है। दीनदयाल उपाध्याय कॉलेज के शिक्षकों के वेतन में कटौती ने अध्यापकों के प्रति केजरीवाल की रणनीति साफ कर दी है। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00