बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
धन - धान्य प्राप्ति हेतु बगलामुखी जयंती पर कराएं सामूहिक 36000 मंत्रों का जाप
Myjyotish

धन - धान्य प्राप्ति हेतु बगलामुखी जयंती पर कराएं सामूहिक 36000 मंत्रों का जाप

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

दिल्लीः ऑनलाइन क्लास न कर पाने वाले बच्चों के लिए कांस्टेबल बने सहारा, मंदिर में ले रहे क्लास

दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल कोरोना काल में जरूरतमंद बच्चों के लिए मदद का बड़ा हाथ बनकर सामने आया है। कांस्टेबल ने कोरोनाकाल के दौरान गरीब और जरूरतमंद...

20 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

गाजियाबाद: महाराष्ट्र पुलिस पर हमला, जवानों को पीटा, गाड़ी भी तोड़ डाली, हत्या के मामले में दबिश देने आई थी टीम

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में महाराष्ट्र पुलिस पर हमला करने का मामला सामने आया है। घटना की सूचना मिलते ही गाजियाबाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ एनएसए के तहत पुलिस कार्रवाई कर रही है। 

जानकारी के अनुसार, गाजियाबाद के नंदग्राम थाना इलाके के दीनदयाल पुरी में हत्या के मामले में संदिग्ध आरोपी की तलाश में आई महाराष्ट्र पुलिस पर सोमवार रात आरोपी व उसके साथियों ने हमला कर दिया। इस दौरान पुलिस की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त कर दी गई। 

आरोपियों ने पुलिसकर्मियों के साथ भी मारपीट की। मामले में महाराष्ट्र पुणे के थाना फरासखाना के प्रभारी अभिजीत पाटिल ने छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जिस पर कार्रवाई करते हुए गाजियाबाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई करेगी।
 
... और पढ़ें
महाराष्ट्र पुलिस पर हमला महाराष्ट्र पुलिस पर हमला

यूपी : लॉकडाउन के दौरान किस शहर में कितने बजे तक खुली रहेंगी शराब की दुकानें, जानें किन नियमों का करना होगा पालन

यूपी समेत पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है और संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश में 17 मई तक लॉकडाउन लगा हुआ है। जिसके चलते पिछले कई दिनों से शराब की दुकानें बंद हैं, लेकिन अब कई जिलों के डीएम ने आदेश जारी कर दुकानें खुलवा दी है। 

नोएडा, गाजियाबाद और वाराणसी समेत कई अन्य जिलों में मंगलवार से ही शराब और बीयर की दुकानें खुल गई हैं। शराब की दुकानें खुलते ही लॉकडाउन तोड़ लोगों की भीड़ उमड़ गई। सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा है। लॉकडाउन उल्लंघन का चालान काटने वाली पुलिस ठेके पर लोगों की कतार लगवाती नजर आ रही है।

यहां इतने बजे तक खुली रहेंगी दुकानें
1. वाराणसी- सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक खुली रहेंगी दुकानें  
2. नोएडा- सुबह 10 बजे से 7 बजे तक खुलेगी दुकान
3. गाजियाबाद - सुबह 10 बजे से 7 बजे तक खुली रहेंगी दुकानें  
4. अलीगढ़- सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक खुलेगी दुकान
5. आगरा- सुबह 10 बजे से 7 बजे तक खुली रहेंगी दुकानें  

शराब खरीदते वक्त इन नियमों का करना होगा पालन
1. कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से करना होगा पालन 
2. सभी दुकानदारों को मास्क पहनना अनिवार्य 
3. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बेची जाएगी शराब और बीयर
4. सभी दुकानों पर होगी सैनिटाइजर की व्यवस्था 
5. शराब दुकानों पर कैंटीन को नहीं खोला जाएगा
6. दुकानों के बाहर 6 फीट की दूरी पर बनाना होगा गोला, हर एक गोले में ही होगा खड़ा

यहां उमड़ी भीड़, लॉकडाउन की उड़ीं धज्जियां
नोएडा, गाजियाबाद में शराब की दुकान खुलते ही लोगों की भारी भीड़ ठेके पर उमड़ गई। सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल नहीं रखा। लोग मास्क लगाकर दुकानों पर शराब लेने पहुंचने लगे। एक व्यक्ति कई बोतल खरीद रहे हैं। रामपुर में शराब के ठेके खुलते ही लंबी कतार लग गई। कोरोना कर्फ्यू में बाहर निकलने पर चालान काटने वाली पुलिस लोगों की कतार लगवाती नजर आई। अलीगढ़ में लोग दुकानों पर थैले लेकर पहुंच रहे हैं। मनचाहा ब्रांड नहीं मिलने पर जो भी मिला उसकी बोतल, हाफ, क्वार्टर ग्राहकों ने खरीद लिए। 
... और पढ़ें

सागर हत्याकांड: सुशील पहलवान ने भागकर बढ़ाईं अपनी मुश्किलें, पुलिस से बचने के लिए चल सकता है यह पैंतरा

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवानों के दो गुटों के बीच बवाल के मामले में फरार चल रहे दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार का छह दिन बाद भी पुलिस कोई सुराग नहीं लगा सकी है। सूत्रों का कहना है कि कानूनी सलाह लेने के बाद सुशील जल्द ही मामले में अग्रिम जमानत की याचिका दायर कर सकता है। सुशील को अच्छी तरह पता है कि पुलिस के पास उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। इसलि सुशील अपने बचाव में हर संभव प्रयास कर रहा है।

मामले की छानबीन कर रहे एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि छत्रसाल स्टेडियम में हुए झगड़े के बाद पुलिस की टीम को उम्मीद थी कि सुशील पुलिस की पूछताछ में शामिल हो जाएगा। ऐसा होता तो शायद सुशील की मुश्किलें कम होती। लेकिन भागकर सुशील अपनी मुश्किलें बढ़ा रहा है। पुलिस ने सुशील के खिलाफ घायल अमित, सोनू, रविंद्र और भगत सिंह के बयान दर्ज किए हैं। सभी ने सुशील व उसके बाकी पहलवानों के खिलाफ बयान दिए हैं। वहीं प्रिंस दलाल के मोबाइल से मिली वीडियो फुटेज भी सुशील के खिलाफ अहम सबूत है। ऐसे में सुशील और उसके साथियों के खिलाफ शिकंजा सख्त होता जा रहा है। 
... और पढ़ें

मीनाक्षी लेखी का गंभीर आरोप : मोहल्ला क्लीनिक की तरह ऑक्सीजन का भी फ्रॉड कर रहे केजरीवाल

दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर के कहर के बीच भाजपा और आप के आरोप-प्रत्यारोप भी तेज हो गए हैं। भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले एक साल के दौरान दिल्ली में एक भी आईसीयू बेड नहीं जोड़ा गया है। 

उन्होंने कहा कि दिल्ली में केवल प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष द्वारा भेजे गए वेंटिलेटर हैं। केजरीवाल सरकार ने केवल ऑक्सीजन पर एक से डेढ़ करोड़ रुपये खर्च किए। शायद वही ऑक्सीजन सिलिंडर उनके विधायकों से बरामद किए जा रहे हैं। 
 

सांसद लेखी ने कहा कि लगातार विज्ञापन आ रहा है कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली में यूनिवर्सल वैक्सीनेशन उपलब्ध कराने वाले हैं। अब तक ना तो ग्लोबल टेंडर किया है और ना कहीं से वैक्सीन का प्रावधान किया है। उन्होंने केजरीवाल से कहा कि हिम्मत है तो टेंडर की कॉपी दिखाओ। लोगों को धोखा देना ही आज इनकी रणनीति रह गई है। 

उन्होंने कहा कि जब भी ऑक्सीजन के ऑडिट की बात आती है तो ये ऐसे विषयों से भागना चाहते हैं। वे ऑक्सीजन और पैसों के ऑडिट की बात नहीं करते हैं, क्योंकि वे जानते हैं कि दिल्ली के साथ मोहल्ला क्लीनिक की तरह ऑक्सीजन का भी फ्रॉड कर रहे हैं। 
 
... और पढ़ें

डिमांड : केजरीवाल ने की वैक्सीन का फॉर्मूला सार्वजनिक करने की मांग, कहा- दूसरी कंपनियां भी बनाएं टीका

 मीनाक्षी लेखी
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटिल प्रेस ब्रिफ्रिंग की। इस दौरान उन्होंने कहा कि तीन लाख से ज्यादा लोगों को रोज वैक्सीन देंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वैक्सीन बनाने का फार्मूला सार्वजनिक हो और सभी कंपनी को मिले। उन्होंने कहा कि भारत सरकार दूसरी कंपनी को भी वैक्सीन बनाने का आदेश दे। दिल्ली वैक्सीन की कमी से जूझ रही है। 

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामले अब कम होने लगे हैं। आप लोगों के सहयोग से लॉकडाउन भी सफल रहा। कल ही जीटीबी अस्पताल के सामने 500 आईसीयू का अस्पताल शुरू हुआ है। अब दिल्ली में आईसीयू और ऑक्सीजन बेड्स की कमी नहीं है।
 

उन्होंने कहा कि अभी रोजाना 1.25 लाख लोगों को वैक्सीन लगा रहे हैं। जल्द ही रोजाना 3 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण शुरू करेंगे। हमारा लक्ष्य अगले 3 महीने के अंदर दिल्ली के सभी लोगों का टीकाकरण करना है। लेकिन हम टीके की कमी का सामना कर रहे हैं। 




मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि अभी सिर्फ 2 कंपनियां ही टीके का उत्पादन कर रही हैं। वे एक महीने में केवल 6-7 करोड़ वैक्सीन का उत्पादन कर रहे हैं। इस तरह, हर किसी को टीका लगाने के लिए 2 वर्ष से अधिक का समय लगेगा। तब तक कई लहरें आ चुकी होंगी। युद्धस्तर पर वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाना होगा। 

जब तक हर भारतीय को वैक्सीन नहीं लग जाती तबतक यह जंग नहीं जीती जा सकती। मैं आज एक सुझाव देना चाहता हूं कि वैक्सीन बनाने का काम केवल दो कंपनियां न करें, कई कंपनियों को वैक्सीन बनाने में लगाया जाए। 

सत्येंद्र जैन बोले- खत्म हो गई कोरोना की पीक
वहीं स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि रविवार को भी 66,000 टेस्ट हुए थे। प्रतिदिन करीब 80,000 टेस्ट हो रहे हैं। ऐसा लग रहा है कि दूसरी लहर की पीक अब धीरे धीरे कम हो रही है। दिल्ली में कोरोना के 23,000 के करीब बेड हैं, जिसमें 3,500 के करीब बेड खाली हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट 36 प्रतिशत से घटकर 19 प्रतिशत के करीब आ गई है। प्रतिदिन अधिकतम 28,000 करीब मामले आए थे अब ये कम होकर 12,500 के पास आ गए हैं। 
... और पढ़ें

दिल्ली: हाईकोर्ट ने केजरीवाल सरकार से किए तीखे सवाल, नवनीत कालरा के खिलाफ कार्रवाई पर रोक लगाने से इनकार

दिल्ली में कोरोना महामारी से निपटने और ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर हाईकोर्ट में आज भी सुनवाई हुई। इस दौरान उच्च न्यायालय ने केजरीवाल सरकार से कई तीखे सवाल किए। साथ ही दिल्ली सरकार से कोरोना से निजात पाने के लिए किए गए कामों के बारे में पूछा। कहा कि द्वारका में बने इंदिरागांधी अस्पताल में कोविड का एक भी मरीज भर्ती नहीं हुआ है।

अदालत का नवनीत कालरा के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई पर रोक लगाने से इनकार
दिल्ली की एक अदालत ने ‘खान चाचा’ रेस्तरां से ऑक्सीजन सांद्रकों की जब्ती के मामले में कारोबारी नवनीत कालरा के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई पर रोक लगाने से सोमवार को इंकार कर दिया।

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा कालरा की तलाश कर रही है। वहीं, कालरा ने साकेत अदालत में आवेदन दायर कर इस मामले में अग्रिम जमानत का अनुरोध किया है। विशेष न्यायाधीश सुमित दास ने जांच अधिकारी को याचिका पर मंगलवार तक जवाब देने को कहा है।

अदालत ने कहा, दिल्ली पुलिस की दंडात्मक कार्रवाई पर रोक नहीं लगेगी। न्यायाधीश मंगलवार दोपहर में मामले पर सुनवाई करेंगे। कार्यवाही के दौरान लोक अभियोजक अतुल श्रीवास्तव ने अग्रिम जमानत याचिका का विरोध किया।

सरकारी वकील बोले ये अपराध शाखा का मामला है
सरकारी वकील ने अदालत से कहा, यह क्राइम ब्रांच का मामला है। क्या यह इसके लिए उचित अदालत है। दक्षिणी दिल्ली के एक फार्महाउस और कालरा के एक रेस्तरां से गुरुवार को 419 ऑक्सीजन सांद्रक बरामद किए गए थे।

छापे के दौरान चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था। निजी कंपनी ने चीन से इन ऑक्सीजन सांद्रकों का आयात किया था। पुलिस के मुताबिक कालरा छापेमारी के बाद से फरार है और उसका मोबाइल भी बंद है। पुलिस ने शनिवार को मामला अपराध शाखा के पास स्थानांतरित कर दिया था।
... और पढ़ें

यूपी: नोएडा-गाजियाबाद में खुलीं शराब की दुकानें, लॉकडाउन तोड़ उमड़ पड़ी लोगों की भीड़

यूपी समेत पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है और संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश में लॉकडाउन लगा हुआ है। लेकिन इस बीच नोएडा में शराब की दुकान खोलने का निर्देश दिया है। गौतमबुद्ध नगर जिले में सभी शराब और बीयर की दुकानों को मंगलवार से खोलने का आदेश जारी कर दिया है। 

शराब की दुकानें खुलते ही लॉकडाउन तोड़ लोगों की भीड़ उमड़ गई। सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा है। लॉकडाउन उल्लंघन का चालान काटने वाली पुलिस ठेके पर लोगों की कतार लगवाती नजर आई। जैसे ही नोएडा-गाजियाबाद समेत कई जिलों में शराब की दुकानें खुलीं, लोगों की वहां भारी भीड़ जमा होने लगी। लोग मास्क लगाकर दुकानों पर शराब लेने पहुंच रहे हैं। एक व्यक्ति कई बोतल खरीद रहे हैं।

वहीं महामारी के बीच हापुड़ और वाराणसी में भी आज शराब की दुकानें खुल गईं। आधिकारिक आदेशों के अनुसार वाराणसी में सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक दुकानें खुली रहेंगी। रामपुर में शराब के ठेके खुलते ही लंबी कतार लग गई। कोरोना कर्फ्यू में बाहर निकलने पर चालान काटने वाली पुलिस लोगों की कतार लगवाती नजर आई।



आदेश के अनुसार, शराब और बीयर की दुकान सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेंगी। शराब खरीदते वक्त कोरोना गाइडलाइन्स का पालन पूरी तरह से किया जाएगा। वहीं, नोएडा के अलावा गाजियाबाद में भी मंगलवार से ही शराब की दुकानें खुल रही हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए प्रशासन ने दुकानों के बाहर 6 फीट की दूरी पर गोला बनाने के लिए कहा है। दुकानों पर कैंटीन को नहीं खोला जाएगा। यूपी के अन्य कुछ जिलों में बुधवार से शराब की दुकानें खुल सकती हैं।
... और पढ़ें

2-डीजी: फेफड़े का संक्रमण ठीक करने में मददगार है डीआरडीओ की यह दवा, तीन दिन में स्वस्थ होने लगते हैं मरीज

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। फरवरी से भारत में आई वायरस की दूसरी लहर में संक्रमितों के साथ मौत के आंकड़े भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच शनिवार को कोरोना संक्रमितों के लिए एक बेहद राहत वाली खबर आई है। ड्रग्स कंट्रोलर ने रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा बनाई कोरोना की एक दवा को आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है। परीक्षणों में विशेषज्ञों को इस दवा के प्रयोग के सफल परिणाम देखने को मिले हैं। आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

यह दवा पाउडर के रूप में पैकेट में आती है, इसे पानी में घोलकर पीना होता है। इस दवा को डीआरडीओ की प्रतिष्ठित प्रयोगशाला नामिकीय औषिध तथा संबद्ध विज्ञान संस्थान (आईएनएमएएस) ने हैदराबाद के डॉ.रेड्डी लेबोरेटरी के साथ मिलकर विकसित किया है। इस संबंध में जारी एक बयान के मुताबिक पिछले साल शुरुआत में कोरोना महामारी शुरू होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से तैयारियां करने का आह्वान किया गया, जिसके बाद डीआरडीओ ने इस दवा पर काम शुरू किया था।

संकट के समय में वरदान मानी जा रही इस दवा को तैयार करने के पीछे तीन वैज्ञानिकों का दिमाग रहा है। ये हैं डॉ. सुधीर चांदना, डॉ. अनंत नारायण भट्ट और डॉ. अनिल मिश्रा। वरिष्ठ विज्ञानी डा. सुधीर चांदना और डॉ. अनंत भट्ट ने कहा है कि 2-डीजी दवा कोरोना मरीजों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित और असरदार है। चांदना ने कहा, दो चरणों में किए गए अपने शोध में हमने पाया कि यदि 2-डीजी ड्रग सामान्य दवाओं के साथ मरीजों को दी जाती है, तो ऐसे में मरीज को इस दवा का 30 फीसदी अधिक लाभ पहुंचेगा।

इसकी मदद से कोरोना मरीज दो से तीन दिन में ही स्वस्थ होने लगते हैं। कोरोना वायरस के हमले से कमजोर हुए फेफड़े को यह दवा मजबूत करने में मदद करती है। उन्होंने कहा, इस दवा का उत्पादन भी शुरू कर दिया गया है और हर राज्य में संभवत इसकी सप्लाई भी की जाएगी।
... और पढ़ें

राहत : जीटीबी के रामलीला मैदान में 500 बेड का आईसीयू अस्पताल तैयार, लोकनायक के सामने वाला दो-तीन में होंगे शुरू 

दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर से चरमराई स्वास्थ्य व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए पूर्वी दिल्ली के जीटीबी एन्क्लेव स्थित रामलीला मैदान में अस्थायी कोविड अस्पताल तैयार हो चुका है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को इसका उद्घाटन किया।  

सीएम केजरीवाल ने सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और राजेंद्र पाल गौतम के साथ जीटीबी एन्क्लेव और लोक नायक अस्पताल के सामने रामलीला मैदान में बन रहे अस्थायी कोविड अस्पताल का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया था। उन्होंने बताया कि जीटीबी एन्क्लेव के रामलीला ग्राउंड में 500 आइसीयू बेड का अस्थायी अस्पताल तैयार हो चुका है। इसे जीटीबी अस्पताल से जोड़ा गया है। 

साथ ही उन्होंने बताया कोरोना की दूसरी लहर के दौरान आइसीयू बेड की बहुत ज्यादा किल्लत रही। इसे देखते हुए यह अस्पताल तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि लोक नायक अस्पताल के सामने रामलीला मैदान में तैयार हो रहा 500 बेड का अस्थायी अस्पताल अस्पताल दो से तीन दिन में शुरू हो जाएगा। इन दोनों अस्पतालों के शुरू होने के बाद दिल्ली में आइसीयू बेड की कमी नहीं रहे रहेगी। अब संक्रमित मरीजों के इलाज में दिक्कत नहीं होगी। 

वैक्सीन फॉर्मूला सार्वजनिक हो
वहीं, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटिल प्रेस ब्रिफ्रिंग के दौरान कहा कि हर रोज तीन लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन देंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वैक्सीन बनाने का फार्मूला सार्वजनिक हो और सभी कंपनी को मिले। उन्होंने कहा कि भारत सरकार दूसरी कंपनी को भी वैक्सीन बनाने का आदेश दे। दिल्ली वैक्सीन की कमी से जूझ रही है। 

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामले अब कम होने लगे हैं। आप लोगों के सहयोग से लॉकडाउन भी सफल रहा। कल ही जीटीबी अस्पताल के सामने 500 आईसीयू का अस्पताल शुरू हुआ है। अब दिल्ली में आईसीयू और ऑक्सीजन बेड्स की कमी नहीं है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X