शरजील ने जाहिर किए अपने खतरनाक मंसूबे, भारत को चाहता है इस्लामिक देश बनाना

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: पूजा त्रिपाठी Updated Thu, 30 Jan 2020 12:49 PM IST
शरजील इमाम (फाइल फोटो)
शरजील इमाम (फाइल फोटो) - फोटो : Facebook
विज्ञापन
ख़बर सुनें
शाहीन बाग में प्रदर्शन के कथित समन्वयक और देशद्रोह के आरोपी जेएनयू के शोधार्थी शरजील इमाम पांच दिन की पुलिस रिमांड पर है और पूछताछ के दौरान उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। सूत्रों के हवाले से सबसे बड़ी बात जो निकलकर सामने आई है वो यह है कि उसे अपनी गिरफ्तारी का कोई पछतावा नहीं है।
विज्ञापन


पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ ये खुलासा हुआ है कि वह अत्यधिक कट्टरपंथी है और यह बात मानता है कि भारत को एक इस्लामिक देश होना चाहिए। उसने ये बात भी कबूल की है कि उसके वीडियो के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है, जो उसने अलग-अलग जगहों पर दी है।


इसके साथ ही शरजील ने ये भी कहा है कि उसे गिरफ्तारी का कोई पछतावा नहीं है। पुलिस इस वक्त उसके इस्लामिक यूथ फेडरेशन और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया से कोई ताल्लुक हैं या नहीं इसका पता लगा रही है। पुलिस ने उसके सभी वीडियो फॉरेंसिक लैब भेज दिए है और उसके सोशल मीडिया अकाउंट की जांच भी कर रही है।

बुधवार को अदालत ने पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा

गौरतलब है कि शरजील को बुधवार को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाना था। देश को तोड़ने की साजिश के आरोपी को सख्त सजा की मांग लेकर वकीलों के प्रदर्शन की आशंका और तनावपूर्ण माहौल के कारण बाद में उसे कड़ी सुरक्षा के बीच साकेत कोर्ट के मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट के निवास पर पेश किया गया।

पुलिस ने शरजील को पांच दिन की रिमांड पर लिया है। पूछताछ के दौरान शाहीन बाग में प्रदर्शन और देशभर में राष्ट्रविरोधी तत्वों से उसके तार जुड़ने के राज खुलने की संभावना है।

पटियाला हाउस कोर्ट में वकीलों ने शरजील को गद्दार बताते हुए नारे लगाए थे। पोस्टर लगाकर उसे सख्त सजा देने की मांग की गई थी। भारी विरोध और तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए भारी पुलिस बल और सीआरपीएफ की तैनाती की गई थी।

शरजील के खिलाफ उत्तर प्रदेश, दिल्ली, असम और अन्य राज्यों में भी देशद्रोह सहित संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं। बिहार के जहानाबाद से मंगलवार को गिरफ्तारी के बाद पुलिस बुधवार को उसे पटना से दिल्ली लाई है।

शरजील के खिलाफ दर्ज किया जाए देशद्रोह का मामला

फरीदाबाद में क्रिएटिव लॉयर्स फ्रंट संस्था के बैनर तले कार्यकर्ता व अधिवक्ताओं ने जेएनयू के छात्र शरजील इमाम के खिलाफ सेंट्रल थाने में शिकायत दी है। उस पर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर देश में अराजकता पैदा करने का प्रयास करने, भड़काऊ भाषण देने व अवैध तरीके से रेल मार्ग में अवरोध पैदा कर सेना का रास्ता रोकने के आरोप में देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की गई है।

संस्था के बैनर तले अधिवक्ताओं ने चेतावनी दी है कि पुलिस ने आरोपी शरजील इमाम के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज नहीं किया तो वह कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। उधर, सेंट्रल थाना पुलिस ने शिकायत लेकर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर मामला दर्ज करने का आश्वासन दिया है। क्रिएटिव लॉयर्स फ्रंट के अधिवक्ता मनोज शर्मा ने बताया कि चिकन नेक नामक मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में रेलमार्ग को बाधित कर सेना का रास्ता रोक कर असम को स्थायी व अस्थायी रूप से देश के अन्य हिस्सों से अलग करने का प्रयास किया गया है।

यह देश को नुकसान पहुंचाने की साजिश है। इस पर देशद्रोह का मामला दर्ज कर कार्रवाई की जानी चाहिए। इस मौके पर राजू त्यागी, अवधेश शर्मा, मनमीत कौर, अरविंद छावरी, योगेश दत्त शर्मा, हेमराज कपासिया, किशन शर्मा, आमिर खान, अनिल कुमारी, भुवनेश वशिष्ठ, सचिन वत्स, अनीश, विजय हरदीप आदि मौजूद रहे। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00