विज्ञापन

प्रत्याशी की घोषणा होते ही अंदरूनी कलह शुरू

Noida Bureauनोएडा ब्यूरो Updated Sun, 17 Mar 2019 10:38 PM IST
ख़बर सुनें
अलीगढ़ सहित अन्य के लिए
विज्ञापन
विज्ञापन
--------------------------

हेडिंग: प्रत्याशी की घोषणा होते ही कांग्रेस में अंदरूनी कलह
सबहेड : अरविंद सिंह चौहान को प्रत्याशी बनाने पर खुलकर सामने आई नाराजगी
अमर उजाला ब्यूरो
नोएडा। हर बार प्रत्याशी की घोषणा करने में पीछे रहने वाली कांग्रेस ने इस बार बाजी तो मार ली, लेकिन पार्टी में अंदरूनी कलह भी शुरू हो गई है। गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट से डॉ. अरविंद सिंह चौहान को प्रत्याशी बनाए जाने पर नाराजगी खुलकर सामने आने लगी है। दो बार दादरी से विधानसभा चुनाव लड़ चुके रघुराज सिंह ने अपनी फेसबुक वॉल के जरिये गंभीर आरोप लगाकर सियासी गलियारे में हलचल मचा दी है। वहीं, जिला महानगर कांग्रेस के पदाधिकारियों का कहना है कि लगातार बैठकों में कैडर बेस कार्यकर्ता को टिकट देने की सिफारिश की गई, लेकिन फैसला लिए जाने से पहले पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से पूछा तक नहीं गया।
-------------
रघुराज सिंह का आरोप : सिंधिया और राणा की कृपा से मिला टिकट
फेसबुक वॉल के जरिये टिकट बेचे जाने का आरोप लगाते हुए रघुराज ने कहा कि ‘गौतमबुद्ध नगर लोकसभा में कांग्रेस का टिकट सिंधिया व राणा गोस्वामी ने बेच दिया। सोनिया गांधी व राहुल गांधी को बदनाम करने की एक साजिश रची गई है। इन उम्मीदवार को किसने रिकमेंड किया, इनका बायोडाटा क्या है, इनकी कांग्रेस में क्या पृष्ठभूमि है। इनके पिता बसपा में मंत्री रहे हैं। अब भाजपा में हैं। फिर भी इनको टिकट देना धनबल का करिश्मा नहीं तो और क्या है?’ इसकी जांच की जाए। इसके बाद रघुराज ने एक अन्य पोस्ट से प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर पर भी आरोप लगाए हैं।
-------------------------
सोशल मीडिया पर कार्यकर्ताओं नाराजगी कुछ यूं: -
‘आजकल माखन की ही राजनीति रह गई है। लिस्ट से पता चला कि किसका नाम जोरों पर था। गौतमबुद्ध नगर का पैराशूट से उतरा कांग्रेस प्रत्याशी। अब माखन लगाना बंद।’
--------------
‘लाठी खाए कार्यकर्ता, जेल जाए कार्यकर्ता, मुकदमा झेले कार्यकर्ता और जब टिकट हो तो पैराशूटिंग वाला चाहिए। ये कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मनोबल को गिराने का काम हुआ है।’

‘आखिर कांग्रेस ने पहले चुनाव में भगौड़े प्रत्याशी से सबक नहीं लिया। कहीं फिर से किरकिरी न हो जाए। क्या कोई मजबूत कांग्रेसी चुनाव लड़ने लायक नहीं था।’
------------------------------
हेडिंग: पिता-पुत्र का मतभेद आया सामने
अलीगढ़ से लोकसभा टिकट के दावेदार पिता जयवीर उम्मीदों को झटका
अमर उजाला ब्यूरो
नोएडा। डॉ. अरविंद सिंह चौहान को कांग्रेस से लोकसभा प्रत्याशी बनाते ही पिता-पुत्र का दो साल से चला आ रहा विवाद सामने आ गया है। हालांकि, दो साल पहले डॉ. अरविंद की शादी के कुछ दिनों बाद ही पिता के साथ मतभेद उभर आए थे। उसी समय पिता ठाकुर जयवीर सिंह ने उन्हें नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के चांसलर पद से मुक्त कर दिया था। शनिवार देर रात जैसे ही कांग्रेस ने सूची जारी की उसके बाद ही पिता-पुत्र के बीच लंबे समय से चले आ रहे मतभेद का खुलासा हो गया।
जयवीर सिंह अलीगढ़ संसदीय क्षेत्र से खुद भाजपा से लोकसभा की मजबूत दावेदारी किए हुए थे। पुत्र अरविंद सिंह की कांग्रेस से टिकट घोषित होते उनके प्रयास को झटका लगा है। हालांकि, ठाकुर जयवीर सिंह की ओर से सोशल मीडिया पर स्पष्ट किया गया है कि दो साल पहले ही उनके अरविंद सिंह से मतभेद हैं। इस पूरे घटनाक्रम के बाद अलीगढ़ संसदीय सीट के लिए अन्य दावेदार मजबूती से जुट गए हैं।
---------------------
चौहान बनकर अजमा रहे भाग्य
अलीगढ़ संसदीय क्षेत्र से 2014 के चुनाव में बसपा प्रत्याशी होने के दौरान अरविंद कुमार सिंह लिखते थे। अब सिंह की जगह चौहान लिखना शुरू कर दिया है। हालांकि, इनके पिता ठाकुर जयवीर सिंह हैं और मां पूर्व सांसद राजकुमारी चौहान हैं। इस बार वह उपनाम चौहान लिखकर अपना भाग्य आजमा रहे हैं। पिता-पुत्र के बीच नाराजगी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि डॉ. अरविंद ने अपनी वेबसाइट पर मां राजकुमारी चौहान के नाम का जिक्र तो किया है, लेकिन पिता के नाम का जिक्र नहीं है।
---------------------
तीन महीने से हो रही थी तैयारी
गौतमबुद्ध नगर लोकसभा चुनाव में भाग्य आजमाने की तैयारी में अरविंद सिंह तीन महीने से जुटे हुए हैं। उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया के नजदीकियों की मदद टिकट हासिल करने में सफलता पाई।
----------------------
मोदी के प्रति पूरी तरह समर्पित हूं
मेरा संपूर्ण परिवार भाजपा एवं पीएम मोदी के प्रति पूरी तरह समर्पित है। अरविंद कुमार सिंह का दो वर्ष से उनके विवाह उपरांत ही हमारी विचारधारा के प्रति विद्रोह प्रकट होने लगा था और वे परिवार से अलग रहने लगे। जब मैंने भाजपा की सदस्यता ली तो उस दौरान भी हमसे अलग थे और सदस्यता नहीं ली। इसके बाद नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी से उन्हें चांसलर पद से कार्यमुक्त किया था। कांग्रेस ने मेरे परिवार के राजनीतिक मतभेदों का फायदा उठाया। कूटनीतिक चाल चली है, जबकि मैं भाजपा के एक समर्पित कार्यकर्ता के रूप में कटिबद्ध हूं।
-ठाकुर जयवीर सिंह, पूर्व मंत्री
------------
मेरी अपनी विचारधारा है। मेरे पिता अपनी पार्टी के प्रति समर्पित हैं और मैं अपनी पार्टी के प्रति। गौतमबुद्ध नगर से चुनाव की दावेदारी काफी समय से है। मैं ग्रेटर नोएडा में ही रहता हूं और यहीं से मैंने शिक्षा ग्रहण की है। संगठन में किसी भी तरह का कोई मतभेद नहीं है। मजबूती के साथ चुनाव लड़ा जाएगा।
- डॉ. अरविंद सिंह चौहान, कांग्रेस प्रत्याशी
----------------------

प्रोफाइल
-----------
नाम: डॉ. अरविंद सिंह चौहान
पिता: ठाकुर जयवीर सिंह
माता: राजकुमारी चौहान
स्कूली शिक्षा: समरविल स्कूल नोएडा
उच्च शिक्षा: एमिटी यूनिवर्सिटी एवं यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स, इंग्लैंड

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Lucknow

चीन से आयात स्टील पर पकड़ी पांच करोड़ की टैक्स चोरी, मालिक गिरफ्तार

डीआरआई ने नोएडा की फर्म स्टील्ज आईएनसी पर कार्रवाई कर मालिक को किया गिरफ्तार

25 मार्च 2019

विज्ञापन

नोएडा में मेट्रो के सामने कूदकर 22 वर्षीय युवती ने की आत्महत्या

नोएडा सेक्टर-16 मेट्रो स्टेशन पर बड़ा हादसा, 22 साल की युवती ने मेट्रो के सामने कूदकर की आत्महत्या। घटनास्थल पर पुलिस मौजूद है और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

22 मार्च 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election