कोली पंधेर फिर दोषी करार-Cordination

Ghaziabad Bureau Updated Fri, 08 Dec 2017 12:58 AM IST
निठारी कांड: नौवें केस में भी कोली-पंधेर दोषी करार

गाजियाबाद। देश के बहुचर्चित निठारी कांड के नौवें केस में बृहस्पतिवार को सीबीआई की विशेष अदालत ने अभियुक्त सुरेंद्र कोली और मोनिंदर सिंह पंधेर को हत्या, रेप, अपहरण और सबूत मिटाने का दोषी माना। सीबीआई कोर्ट के विशेष न्यायाधीश पवन कुमार तिवारी की अदालत ने करीब 15 मिनट की सुनवाई के बाद दोनों को दोषी करार दे दिया।
सीबीआई के विशेष लोक अभियोजक जेपी शर्मा ने बताया कि अदालत में निठारी कांड के नौवें मामले में (19 वर्षीय युवती की हत्या) में अभियुक्त सुरेंद्र कोली और कोठी डी-5 नोएडा सेक्टर 31 के मालिक मोनिंदर सिंह पंधेर के मामले में फैसला सुनाया। उन्होंने बताया कि सुरेंद्र कोली को हत्या, अपहरण, रेप, और साक्ष्य मिटाने के लिए दोषी करार दिया गया। वहीं, पंधेर को हत्या, रेप में शामिल होने, सबूत मिटाने में सह अभियुक्त करार दिया गया। कोर्ट ने कहा कि कोली के अपराध में पंधेर ने सहयोग किया, इसलिए वह भी उतना ही दोषी है, जितना की कोली। शुक्रवार को अदालत में सजा पर बहस की जाएगी। दोनों को डासना जेल भेज दिया गया। इससे पहले कोली को आठ मामलों में फांसी की सजा मिल चुकी है। वहीं, मोनिंदर सिंह पंधेर को निठारी के दो केसों में दोषी ठहराया जा चुका है।
---
यह था मामला
पश्चिम बंगाल निवासी 19 वर्षीय युवती अपने मामा के साथ निठारी में रहकर घरों में मेड का काम करती थी। 12 अक्तूबर 2006 को नोएडा सेक्टर 20 थाने में उसके मामा ने तहरीर दी थी कि भांजी काम से घर नहीं लौटी। 30 दिसंबर 2006 को रिपोर्ट दर्ज हुई। निठारी की डी-5 कोठी में खुदाई के दौरान युवती के कपड़े व चप्पल व बरामद हुए थे। मृतका के दांत से डीएनए लेकर मां के डीएनए से मिलाकर पहचान हुई। सीबीआई ने 11 जनवरी 2007 को मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। दो जुलाई 2007 को सीबीआई ने चार्जशीट पेश की थी। मुकदमे में कुल 346 दिन कार्रवाई चली। सीबीआई ने 38 गवाह पेश किए जबकि बचाव पक्ष ने महज एक गवाह मोनिंदर सिंह पंधेर की कंपनी में प्रबंधक विशाल वर्मा को पेश किया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls