Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Delhi CM Arvind Kejriwal To Flag Off 150 Electric Bus News in Hindi

बड़ी खबर: आज 150 इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाएंगे सीएम केजरीवाल, तीन दिन मुफ्त यात्रा कर सकेंगे दिल्लीवासी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: आकाश दुबे Updated Tue, 24 May 2022 12:05 AM IST
सार

इलेक्ट्रिक बसों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरी झंडी दिखाकर आईपी डिपो से रवाना करेंगे। मुख्यमंत्री ने इससे पहले जनवरी में दो (प्रोटोटाइप) इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई थी। सभी बसें सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस, 10 पैनिक बटन, दिव्यांगों के लिए रैंप सहित तमाम आधुनिक सुविधाओं से युक्त हैं। 

इलेक्ट्रिक बसें
इलेक्ट्रिक बसें - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

दिल्लीवासियों को चिलचिलाती गर्मी में भी वातानुलित इलेक्ट्रिक बसों में सफर का मौका मिलेगा। मंगलवार को 150 ई बस सेवा की शुरुआत करेंगे। इतने बड़े स्तर पर देश के किसी शहर में एक साथ 150 बसें सड़कों पर उतारी जा रही हैं। पहले चरण में मुंडेला कलां और रोहिणी सेक्टर-37 डिपो से अलग अलग मार्गों पर बसें चलाई जाएंगी। इसके साथ ही राजघाट-2 डिपो सहित ई बसों के लिए तैयार तीन डिपो से बसों के परिचालन की शुरुआत होगी। 



11 साल तक दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) की बसों में सफर करने वालों के लिए यह बेहद खुशी का मौका होगा। चमचमाती, अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त बसों में यात्रियों को मौजूदा किराये में ही ई बसों में सफर का मौका मिलेगा। बसों का परिचालन शुरू करने से पहले डिपो में चार्जिंग, पार्किंग सहित तमाम बुनियादी सुविधाएं तैयार कर ली गई हैं ताकि परिचालन शुरू होने पर यात्रियों को आवागमन में किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। दिल्ली की सड़कों पर इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू करने के लिए चार्जिंग सुविधा सहित सभी तैयारियां तीनों डिपो में कर ली गई है। 


मुंडेला कलां को दिल्ली की पहली पूर्ण इलेक्ट्रिक बस डिपो के तौर पर विकसित किया गया है। यात्रियों की सुविधा के लिए पहले चरण में दिल्ली में 300 लो फ्लोर इलेक्ट्रिक बसें (एसी) परिवहन बेड़े में शामिल की जाएंगी। जनवरी में दिल्ली की पहली इलेक्ट्रिक बस सेवा का मुख्यमंत्री ने शुभारंभ किया था। इसके बाद नजफगढ़ और मोरी गेट के बीच दूसरी इलेक्ट्रिक बस का परिचालन किया जा रहा है। चरणों में दिल्ली की सड़कों पर जेबीएम और टाटा की ई बसें उतारी जाएंगी। ई-44 बस की सर्कुलर बस सेवा के बाद नजफगढ़-मोरी गेट के बीच भी एक बस का परिचालन किया जा रहा है। नई बसें फिलहाल कम दूरी के मार्गों पर चलेंगी और धीरे धीरे सभी रूटों पर ई बसों का परिचालन किया जाएगा।

आईपी डिपो से मुख्यमंत्री दिखाएंगे हरी झंडी
इलेक्ट्रिक बसों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरी झंडी दिखाकर आईपी डिपो से रवाना करेंगे। मुख्यमंत्री ने इससे पहले जनवरी में दो (प्रोटोटाइप) इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई थी। सभी बसें सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस, 10 पैनिक बटन, दिव्यांगों के लिए रैंप सहित तमाम आधुनिक सुविधाओं से युक्त हैं। इन बसों के रख रखाव के लिए मुंडेला कलां, राजघाट और रोहिणी सेक्टर-37 में तीन डिपो को पूरी तरह से इलेक्ट्रिक बस डिपो के रूप में तैयार किया गया हैं। आने वाले महीनो में और 150 बसों को शामिल किया जाएगा।

तीन दिनों तक ई बसों में कर सकते हैं मुफ्त यात्रा
हरी झंडी दिखाने के बाद से बसें दिल्ली के प्रमुख रूटों पर चलेंगी। इनमें रिंग रोड पर तीव्र मुद्रिका, रूट नं. 502 मोरी गेट-महरौली टर्मिनल, रूट नंबर ई-44 (आईपी डिपो-कनॉट प्लेस-सफदरजंग-साउथ एक्सटेंशन-आश्रम-जंगपुरा-इंडिया गेट के रूट पर चलेंगी। दिल्लीवासियों को इलेक्ट्रिक बसों में 24-26 मई के बीच यात्रा के लिए टिकट खरीदने की जरूरत नहीं होगी। बसों में दिल्ली सरकार तीन दिनों तक मुफ्त यात्रा की दिल्लीवासियों को तोहफा दे रही हैं। 

बगैर प्रदूषण और शोर, बेहद आरामदाय हैं ई बसें: गहलोत
परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि यह हमारे लिए बहुत बड़ा दिन है। दिल्ली सरकार हमेशा अपने लोगों को ग्रीनर मोड ट्रांसपोर्ट और ईवी पर स्विच करने के लिए प्रेरित करती रही है। हम दिल्लीवासियों में देखना चाहते हैं कि लोग जब ई बसों में यात्रा करें तो इसकी सुविधा और अपने अनुभवों को साझा करें। मैंने व्यक्तिगत रूप से इन बसों को चलावाया और यात्रा की। शून्य प्रदूषण और बगैर शोर के चलने वाली बसें यात्रियों के लिए भी बेहद आरामदायक हैं। 

चरणों में चलेंगी 300 बसें

ई बसों को चलाने के लिए कंपनियों के ही चालक होंगे। ओपेक्स मॉडल के तहत बसों का परिचालन किया जाएगा। इससे यात्रियों को सफर में सहूलियत होगी तो दिल्ली में पर्यावरण का खतरा भी कम होगा। 300 ई बसों में जेबीएम और टाटा की बसें हैं। दोनों का अलग अलग डिपो से परिचालन किया जाएगा। दोनों कंपनियों की एक-एक बस का चार महीने तक के प्रदर्शन को देखने के बाद दूसरी रूटों पर ई बसें चलाने का फैसला लिया गया।

10 रूटों पर चलेंगी बसें
बसों के परिचालन के लिए डिपो में सभी बुनियादी इंतजाम कर लिए गए हैं। इसके लिए 32 फास्ट चार्जर होंगे जबकि रोहिणी सेक्टर-37 में भी 25 फास्ट चार्जर लगाए जा चुके हैं। इस डिपो में 48 फास्ट ई चार्जर लगाए जाने हैं। शुरुआत में ई-44, 957, 901, रिंग रोड(दोनों तरफ से-प्लस और माइनस) 10 मार्गों पर बसों का परिचालन किया जाएगा। इसके बाद 150 और नई बसें मुंडेला कलां से जाफरपुर, आयुर्वेदिक अस्पताल(खेड़ा डाबर), आजादपुर, नेहरु प्लेस, कश्मीरी गेट, मोती नगर, पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन सहित अन्य मार्गों पर भी यात्रियों को सेवाएं देंगी।

मुंडेला कलां, रोहिणी सेक्टर-37 और राजघाट-2 में ई डिपो की सुविधा, डिपो का भी उदघाटन आज
इलेक्ट्रिक बसों के लिए तीन डिपो में सभी बुनियादी सुविधाएं भी तैयार की गई हैं। इनमें मुंडेला कलां से 50, रोहिणी सेक्टर-37 से 100 बसें अलग अलग मार्गों पर चलेंगी। राजघाट-2 डिपो से भी ई बसों के परिचालन के लिए चार्जिंग स्टेशन बनाए गए हैं। रोहिणी सेक्टर-37 में 48 जबकि मुंडेला कलां में 32 चार्जिंग स्टेशन बनाए गए हैं। इसके अलावा तीनों डिपो में ई चार्जिंग, पिट और बसों की पार्किंग के लिए भी सुविधा भी विकसित की गई हैं। यात्रा के दौरान बसों में किसी तरह की दिक्कत न आए, इसके लिए भी शुरुआती दौर में दोनों कंपनियों के अधिकारियों सहित तकनीकी जानकार भी मौजूद रहेंगे। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00