विज्ञापन

जामिया में अब संस्कृत पढ़ने का मिलेगा मौका

सीमा शर्मा/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 30 Jan 2017 12:52 AM IST
jamia millia
jamia millia - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें
जामिया मिल्लिया इस्लामिया में शैक्षणिक सत्र 2017-18 से स्नातक में संस्कृत भाषा विषय के रूप में पढ़ाई जाएगी। जामिया देश का पहला मुस्लिम विश्वविद्यालय होगा, जहां स्नातक के रेगुलर प्रोग्राम में संस्कृत को विषय के रूप में पढ़ाने के लिए जोड़ा जा रहा है। वहीं, आवेदन प्रक्रिया में पहली बार अंग्रेजी के साथ हिंदी भाषा भी फॉर्म में होगी, ताकि छात्र आसानी से उसे भर सकें।
विज्ञापन
जामिया में अब छात्र स्नातक में विषय के रूप में संस्कृत भी पढ़ सकेंगे। च्वॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम के तहत सभी अन्य विषयों की तरह संस्कृत की भी पढ़ाई होगी। विश्वविद्यालय की योजना स्नातक के साथ स्नातकोत्तर में भी संस्कृत को विषय के रूप में शुरू करने की थी, लेकिन शिक्षक न मिल पाने के चलते इस वर्ष स्नातक में ही शुरुआत की जा रही है।

ऑनलाइन आवेदन में हिंदी में भी जानकारी
विभिन्न डिग्री और डिप्लोमा पाठ्यक्रम में दाखिले के लिए छात्रों को ऑनलाइन आवदेन करनेे में अब कोई दिक्कत नहीं होगी। क्योंकि आवेदन फॉर्म में अब अंग्रेजी के साथ हिंदी में भी जानकारी होगी, ताकि छात्र आसानी से आवेदन पढ़कर उसे भर सकें। छात्रों को घर बैठे रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ऑनलाइन आवेदन, एडमिट कार्ड, प्रवेश परीक्षा रिजल्ट, काउंसलिंग आदि की जानकारी मिल जाएगी। ऑनलाइन आवदेन में छात्र को उसके ब्लड ग्रुप की भी जानकारी देनी होगी।


ध्यान से करें आवेदन, नहीं मिलेगा सुधार का मौका
जामिया की सलाह है कि छात्र ऑनलाइन आवेदन ध्यान से भरें, क्योंकि फिर उसमें सुधार का मौका नहीं मिलेगा। ऑनलाइन आवेदन के साथ छात्रों को किसी भी प्रकार के प्रमाण पत्र अपलोड करने की जरूरत नहीं है। छात्रों को आवेदन में अपने पसंद का प्रवेश परीक्षा सेंटर भरने का मौका भी दिया जा रहा है। डिग्री प्रोग्राम के सभी कोर्स में कुल सीटों में से दो फीसदी सीटें कश्मीरी छात्रों के लिए आरक्षित होंगी। आवेदन प्रक्रिया में छात्र को अपने पिता के नाम के साथ मां का नाम लिखना भी अनिवार्य होगा। 


संस्कृत सबसे प्राचीन भाषा, इसीलिए जोड़ा जा रहा
जामिया में हिंदी, उर्दू, फारसी और अरबी भाषा की पढ़ाई होती है। भारतीय भाषाओं में संस्कृत सबसे प्राचीन है, इसीलिए पहली बार स्नातक में संस्कृत को विषय के रूप में जोड़ा जा रहा है। संस्कृत भाषा में शिक्षकों के पद भरते ही अगले सत्र में स्नातकोत्तर में भी संस्कृत भाषा एक विषय के रूप में पढ़ाई जाएगी।
- प्रो. तलत अहमद, कुलपति, जामिया मिल्लिया इस्लामिया।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Shimla

फीमेल हेल्थ वर्कर भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित, 622 पास

आयोग हमीरपुर ने प्रदेश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में फीमेल हेल्थ वर्कर के पदों को भरने के लिए करवाई लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है।

7 दिसंबर 2018

विज्ञापन

मुकेश अंबानी ने फैंस को दिया जोर का झटका, मेहमानों को भी दिए आदेश

देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा की भी शादी होने जा रही है । 12 दिसंबर को ईशा अंबानी, आनंद पीरामल के साथ सात फेरे लेंगी। ईशा की प्रीवेडिंग सेरेमनी शुरू हो चुकी है। शनिवार को ईशा की संगीत सेरेमनी हुई।

9 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election