विज्ञापन

जेएनयू में बाबर का पुतला जलाया, जय श्रीराम के लगे नारे

ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Fri, 07 Dec 2018 12:00 AM IST
Babur effigy
Babur effigy - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय कैंपस में हिंदू संगठनों की रथ यात्रा के बाद बाबर व बाबरी मस्जिद का पुतला जलाया गया। साबरमती ढाबे के बाहर पुतला जलाते हुए जय श्रीराम के नारे भी लगे। रथ यात्रा व पुतला दहन के बाद राजनीति गरमा गई है। वामपंथी संगठनों ने विश्वविद्यालय प्रबंधन समेत बीजेपी पर कैंपस को भगवा करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि आखिर रथ यात्रा विश्वविद्यालय प्रबंधन की इजाजत के बिना कैंपस में कैसे पहुंची। वहीं, वामपंथी संगठन विश्वविद्यालय प्रबंधन से पूरे मामले पर जवाब मांग रहे हैं।
विज्ञापन
जेएनयू कैंपस में बृहस्पतिवार शाम को साबरमती ढाबे के बाहर गांधी-आंबेडकर व कलामवादी हिंदू छात्र संगठन के पदाधिकारी राघवेंद्र मिश्रा की अध्यक्षता में बाबर और बाबरी मस्जिद का पुतला जलाया गया। पुतला जलाते हुए जल्द से जल्द अयोध्या में राम मंदिर बनवाने की मांग रखी। इस दौरान जय श्रीराम के नारे भी लगाए।

वहीं, रथ यात्रा मामले पर राजनीति गरमाई रही। छात्रसंघ ने विश्वविद्यालय प्रबंधन के उस बयान को नकार दिया, जिसमें कहा गया था कि वीडियो पुरानी है। कैंपस में कोई रथ यात्रा नहीं निकाली गई है। छात्रसंघ ने विश्वविद्यालय के गेट पर आने-जाने वाले वाहन चालकों के हाजिरी रजिस्टर की फोटो वायरल कर दी। जेएनयू रजिस्टर में वाहन चालकों का नाम व आने-जाने का समय भी चिह्नित है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

सुब्रह्मण्यम स्वामी आज छात्रों को करेंगे संबोधित

विज्ञापन

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Dehradun

समूह ‘ग’ की परीक्षा देने वाले इन अभ्यर्थियों का चयन होगा निरस्त, पढ़ लें कहीं आपका भी तो नहीं... 

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के समूह ‘ग’ पदों की भर्ती को लेकर बदलाव किया गया है।

15 दिसंबर 2018

विज्ञापन

हारी बाजी को जीत कर ये बने मुकद्दर के सिंकदर

राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस के तीन दिग्गज नेता तमाम चुनौतियों को पछाड़ कर बन गए बाजीगर

14 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree