विज्ञापन
विज्ञापन

धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार बिल्डर मोंटी चड्ढा की जमानत अर्जी खारिज, न्यायिक हिरासत में भेजा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 13 Jun 2019 10:13 PM IST
मोंटी चड्ढा और उनके पिता दिवंगत पोंटी चड्ढा (फाइल फोटो)
मोंटी चड्ढा और उनके पिता दिवंगत पोंटी चड्ढा (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
दिल्ली की साकेत कोर्ट ने शराब कारोबारी पोंटी चड्ढा के बेटे मनप्रीत सिंह चड्ढा उर्फ मोंटी चड्ढा द्वारा धोखाधड़ी के मामले में जमानत याचिका खारिज कर दी है। इसके साथ ही मोंटी चड्ढा को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। बता दें दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने मोंटी को फ्लैट खरीदारों से धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया है। 
विज्ञापन
विज्ञापन
मोंटी पर निवेशकों को सस्ते मकान का झांसा देकर करीब 100 करोड़ की धोखाधड़ी करने का आरोप है। मोंटी थाईलैंड भागने की फिराक में था और एलओसी खुले होने के कारण उसे बुधवार रात इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया गया था। इस पूरी साजिश में उसकी कंपनी, उसके निदेशक व परिजन शामिल हैं। इन पर लोगों से टाउनशिप के नाम पर पैसा लेकर धोखाधड़ी करने का आरोप है। 

दूसरी ओर बचाव पक्ष ने कोर्ट के समक्ष कहा कि यह डेढ़ साल पुराना मामला है और पुलिस अब गिरफ्तारी कर रही है। इस मामले से मोंटी का कोई लेना देना नहीं है। इस केस की जांच डेढ़ साल से कर रही है। इसलिए आरोपी को जमानत प्रदान की जानी चाहिए। बचाव पक्ष ने जमानत याचिका दायर कर उसे जमानत देने का आग्रह किया था जिसे कोर्ट ने अस्वीकार कर दिया। 



पुलिस के मुताबिक मोंटी चड्ढा उप्पल-चड्ढा हाई-टेक डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड का निदेशक है। आर्थिक अपराध शाखा ने के. रमेश व कावेरी रमेश व अन्य लोगों की शिकायत पर मोंटी, उसकी कंपनी व अन्य लोगों के खिलाफ 24 जनवरी 2018 को एफआईआर दर्ज की थी।
 
गौरतलब हो देश के बड़े शराब कारोबारियों में शामिल पोंटी चड्ढा व छोटे भाई हरदीप सिंह चड्ढा तथा इनके समर्थकों के बीच मेहरोली के छतरपुर स्थित फार्म हाउस पर 17 नवंबर 2012 को गोलीबारी हुई थी। इस गोलीबारी में पोंटी व हरदीप की मौत हो गई थी। 

पिता की मौत के बाद मोंटी ने 19 साल की उम्र में पारिवारिक कारोबार वेव समूह के रिटेल व इंटरटेनमेंट बिजनेस को संभाल लिया था। नोएडा व एनसीआर स्थित सेंटर स्टेज मॉल, वेस्टेंड मॉल, वेव सिनेमा तथा वेव इंफ्राटेक पर वेव समूह का स्वामित्व है।

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

ज्योतिष विशेषज्ञ से पूछें सवाल - कैसा होगा करियर, कैसे चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार।
Astrology

ज्योतिष विशेषज्ञ से पूछें सवाल - कैसा होगा करियर, कैसे चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार।

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

India News

प्री मॉनसून बारिश से मौसम हुआ सुहाना, पहाड़ों पर अगले 24 घंटों में ओलावृष्टि की संभावना 

सोमवार रात दिल्ली के कई इलाकों में तेज और कई इलाकों में हल्की बारिश होने से मौसम खुशगवार हो गया।

18 जून 2019

विज्ञापन

टेंपो ड्राइवर ने दिखाई दरोगा को तलवार तो पुलिस ने कर दी सड़क पर पिटाई, नाबालिग को भी नहीं छोड़ा

दिल्ली में एक टेंपो ड्राइवर के साथ पुलिस की मारपीट का वीडियो वायरल हुआ तो हंगामा मच गया। आपको दिखाते हैं टेंपो ड्राइवर और पुलिसवालों के बीच हुई मारपीट का वो वीडियो जिसके बाद मामला काफी गरमाया गया है।

18 जून 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election