चारधाम यात्रा शुरू: पहले दिन धामों में पहुंचे इतने भक्त, विधिविधान के साथ खुले हेमकुंड साहिब के कपाट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बदरीनाथ Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal Updated Sat, 18 Sep 2021 06:26 PM IST

सार

Uttarakhand Char Dham Yatra 2021: गुरुवार को उत्तराखंड हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा शुरू करने के आदेश जारी कर दिए थे। जिसके बाद शुक्रवार देर रात यात्रा के संबंध में एसओपी जारी की गई। शुक्रवार को ही परिवहन आयुक्त दीपेंद्र कुमार चौधरी ने मातहतों की बैठक ली।
तड़के से ही बदरीनाथ धाम पहुंचने लगे भक्त
तड़के से ही बदरीनाथ धाम पहुंचने लगे भक्त - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

चारों धामों के कपाट खुलने के लगभग चार महीने के बाद आज से चारधाम यात्रा शुरू हो गई है। विभिन्न प्रांतों से धाम में पहुंचे श्रद्धालुओं ने बदरीनाथ धाम के दर्शन कर मनौतियां मांगी। पहले दिन 400 श्रद्धालुओं ने भगवान बदरीनाथ के साथ ही अखंड ज्योति के दर्शन किए।
विज्ञापन


चारधाम यात्रा आज से: यात्री वाहनों के निरीक्षण के बाद मिलेगा ग्रीन कार्ड, ऐसे कर सकते हैं अप्लाई


केदारनाथ में तीन बजे तक 84 श्रद्धालुओं ने किए दर्शन
बाबा केदार के दर्शन के लिए सोनप्रयाग से पहले दिन  498 श्रद्धालुओं ने प्रस्थान किया। पहले दिन 285 श्रद्धालुओं ने सभा मंडप से बाबा केदार के दर्शन कर पुण्य अर्जित किया। 

उत्तराखंड: चारधाम यात्रा के लिए पहुंचने लगे यात्री, लेकिन जीएमवीएनएल कर्मचारियों की हड़ताल से आ सकती है दिक्कत

यमुनोत्री में 152 और गंगोत्री धाम में पहले दिन पहुंचे 176 तीर्थयात्री 
डीएम मयूर दीक्षित और एसपी मणिकांत मिश्रा ने चारधाम यात्रा के पहले दिन यमुनोत्री धाम पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। पहले दिन यमुनोत्री धाम में 152 और गंगोत्री धाम में 176 श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। इस अवसर पर डीएम ने यमुनोत्री मंदिर में मां यमुना की पूजा-अर्चना कर यात्रा के सफल संचालन के साथ जनपदवासियों की खुशहाली की कामना की।

हेमकुंड साहिब के कपाट खुले
वहीं सिखों के प्रमुख धाम हेमकुंड साहिब के कपाट भी शनिवार को सुबह 9:00 बजे विधिविधान के साथ श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं। कपाट खुलने के दौरान 80 श्रद्धालु मौजूद रहे। इस दौरान सभी श्रदालुओं ने पहली अरदास में भाग लिया। शनिवार को पंच प्यारों की अगुवाई में सचखंड से गुरुग्रंथ साहिब को दरबार साहिब लाया गया। इसके बाद सुखमणी का पाठ, शबद किर्तन और इस साल की पहली अरदास हुई। हेमकुंड ट्ररूट के उपाध्यक्ष नरेंद्रजीत सिह विंद्र ने बताया कि सभी श्रदालु ऋषिकेश में अपना पंजीकरण कर ही यात्रा में निकले।

ऋषिकेश: अधिकारियों ने परखी चेक पोस्ट की व्यवस्थाएं
चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर आरटीओ (प्रशासन) दिनेश चंद्र पठोई और आरटीओ (प्रर्वतन) संदीप सैनी से ब्रह्मपुरी और भद्रकाली चेक पोस्ट पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने एआरटीओ प्रवर्तन को दिशा निर्देश दिए। संदीप सैनी ने बताया कि जल्द ही चेक पोस्ट पर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। जल्द ही चेक पोस्ट पर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त की जाएंगी। 

प्रसाद चढ़ाने और तिलक लगाने पर प्रतिबंध

फिटनेस के मानकों में मिले ढील
परिवहन विभाग के अधिकारियों ने एआरटीओ कार्यालय में टैक्सी और बस ऑपरेटर्स के साथ बैठक की। इस दौरान बस और टैक्सी चालकों मालिकों ने अपनी समस्याएं अधिकारियों के सामने रखी। बस, टैक्सी ऑपरेटर्स का कहना था कि फिटनेस के मानकों में ढील दी जाए। इस दौरान अधिकारियों ने ट्रासंपोर्टरों की मांग को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

चारधाम यात्रा की एसओपी के खिलाफ बैठक
वहीं यमुना मंदिर खरशाली में तार्थपुरोहितों ने चारधाम यात्रा की एसओपी के खिलाफ बैठक की। पुरोहितों का कहना है कि एसओपी पुरोहितों के हित में नहीं है। जब टीका-दान नहीं लेना है तो फिर हमें इस यात्रा ये क्या लाभ होगा। उधर, यमुनोत्रीधाम के प्रमुख पड़व जानकीचट्टी में यात्रियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। लेकिन प्रशासन की अधूरी तैयारियों के कारण सुबह 11 बजे के बाद यात्रियों का रजिस्ट्रेशन शुरू हो पाया।

ऋषिकेश: प्राइवेट बसों से बदरीनाथ, केदारनाथ के लिए रवाना हुए यात्री
चारधाम यात्रा खुलने के बाद कुछ यात्री आईएसबीटी स्थित चारधाम यात्रा काउंटर पर जानकारी पूछते रहे। कुछ यात्री फोन पर यात्रा के विषय में जानकारी जुटाते रहे। टीजीएमओ के अध्यक्ष जितेंद्र नेगी ने बताया कि अभी बाहरी राज्यों से यात्री चारधाम यात्रा के बारे में जानकारी पूछ रहे हैं, कुछ यात्रियों ने चारधाम, कुछ ने दो धाम के लिए बस बुक करा दी है। उन्होंने बताया कि शनिवार को (सोनप्रयाग)केदारनाथ और बदरीनाथ जाने वाली बस में कुछ यात्री रवाना हुए। अभी यात्रियों की बस रवाना नहीं। उम्मीद है कि 22-23 सितंबर यात्रियों को लेकर बसें रवाना होंगी। वहीं उत्तराखंड परिवहन महासंघ के अध्यक्ष सुधीर राय ने बताया कि 12 बसों की बुकिंग गढवाल मंडल कांटेक्ट कैरिज कंपनी को मिली है, उन्होंने बताया कि कंपनी की बसें 22-23 सिंतबर को बदरीनाथ केदारनाथ और गंगोत्री के लिए रवाना होंगी। 

हेमकुंड साहिब में एक हजार यात्री ही धाम के दर्शन कर सकेंगे

हेमकुंड साहिब में एक दिन में एक हजार यात्री ही धाम के दर्शन कर सकेंगे। हेमकुंड ट्रस्ट ने यात्रा को लेकर तैयारियां पूरी कर ली हैं। हेमकुंड ट्रस्ट के उपाध्यक्ष उपाध्यक्ष नरेंद्रजीत सिंह बिंद्रा ने बताया कि बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड गाइड लाइन के नियमों का पालन करना होगा।

श्रद्धालुओं को ऋषिकेश गुरुद्वारा ट्रस्ट के कार्यालय में पंजीकरण करवाकर प्रमाणपत्र साथ लाना होगा। उन्होंने कहा कि 60 साल से अधिक उम्र और 10 साल से कम आयु के बच्चे धाम में न आएं। साथ ही यात्रियों को किसी भी कुंड में स्नान करने की अनुमति नहीं होगी।

चारधामों में दर्शन करने वाले यात्री प्रसाद नहीं चढ़ाएंगे। साथ ही तिलक भी नहीं लगेगा। मंदिर में मूर्तियों और घंटियों को छूने, तप्त कुंडों में स्नान पर प्रतिबंध रहेगा। केदारनाथ धाम में एक समय में छह यात्री ही सभामंडप से दर्शन कर सकेंगे। गर्भगृह में जाने की अनुमति नहीं होगी।

चारधामों में दर्शन के लिए ये रहेगी प्रतिदिन संख्या
बदरीनाथ में रोज 1000, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में अधिकतम 400 लोग रोज दर्शन कर सकेंगे।

एक रात ठहर सकेंगे यात्री
चारधाम यात्रा के दौरान तीर्थ यात्रियों को धामों में ज्यादा दिन ठहरने की अनुमति नहीं होगी। कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए चारधामों में भीड़ पर नियंत्रण रहेगा। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री धाम में जारी ई-पास पर मात्र एक रात ठहरने की अनुमति होगी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00