Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Today corona active cases in uttarakhand news 28 march: 366 infected Found in 24 hours

उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में सामने आए इस साल के सबसे अधिक 366 संक्रमित, 1600 पार हुए एक्टिव केस  

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Sun, 28 Mar 2021 10:05 PM IST
सार

  • देहरादून जिले में बने दो और कंटेनमेंट जोन

कोरोना वायरस की जांच
कोरोना वायरस की जांच - फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। रविवार को इस साल के सबसे अधिक 366 संक्रमित मिले हैं। वहीं, एक्टिव केस की संख्या 1600 पार हो गई है। कुल संक्रमितों की संख्या 99881 हो गई है, जिसमें से 95025 मरीज ठीक हो चुके हैं। आज 42 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। 



कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का असर उत्तराखंड में भी दिखने लगा है। प्रदेश में एक जनवरी 2021 को 361 संक्रमित मामले सामने आए थे। इसक बाद आज 28 मार्च को 366 संक्रमित मिले हैं। 


उत्तराखंडः मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की अपील, घर पर ही मनाएं होली, कोविड गाइडलाइन का करें पालन

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार रविवार को 7627 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज देहरादून जिले में सबसे अधिक 167 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। हरिद्वार में 59, नैनीताल में 31, पौड़ी में 17, टिहरी में 54, ऊधमसिंह नगर में 20, अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ में तीन- तीन, बागेश्वर में दो, रुद्रप्रयाग में चार और उत्तरकाशी में छह मरीज आए हैं। वहीं, दो जिलों चमोली और चंपावत में एक भी मरीज सामने नहीं आया है। 

पिछले 24 घंटों में एक भी संक्रमित मरीज की मौत नहीं हुई है। प्रदेश में अब तक 1709 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। संक्रमितों की तुलना में ठीक होने वालों की संख्या कम होने से सक्रिय मरीज बढ़ रहे हैं। वर्तमान में 1660 सक्रिय मरीजों का उपचार चल रहा है। उधर, एक अप्रैल से कुंभ शुरू हो रहा है। इससे पहले संक्रमित मामले बढ़ने से सरकार के सामने संक्रमण को रोकने की चुनौती बढ़ रही है। 

सैंपल जांच में कमी, संक्रमण में तेजी
प्रदेश में सैंपल जांच में कमी आई है। पिछले दो दिनों से प्रदेश में आठ हजार से कम सैंपलों की जांच हुई है। लेकिन संक्रमण की दर ज्यादा रही है। रविवार को प्रदेश में कुल सैंपल जांच के आधार संक्रमण की दर 4.58 प्रतिशत रही। 

मैदानों के साथ पहाड़ों में भी बढ़ रहे संक्रमित मामले
मैदानी जिले देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल के साथ ही कोरोना संक्रमण पहाड़ों में बढ़ रहा है। लंबे समय बाद टिहरी जिले में 54 और पौड़ी जिले में 17 कोरोनासंक्रमित मामले मिले हैं।

देहरादून जिले में तीन कंटेनमेंट जोन

देहरादून जिले में कई दिन बाद रिकॉर्ड 167 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। संक्रमित मामले मिलने पर नेहरू कॉलोनी ए-ब्लॉक और गुमानीवाला (ऋषिकेश) के चिह्नित क्षेत्र कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। इन क्षेत्रों में बैरिकेडिंग कर पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में अब जिले में तीन कंटेनमेंट जोन हो गए हैं।

जानकारी के अनुसार एक पर्वतीय जिले में तैनात खंड विकास अधिकारी नेहरू कॉलोनी ए-ब्लॉक में रहते हैं। उनके घर के पांच सदस्यों में कोरोना संक्रमण पाया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने इसकी रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेजी थी। इस पर संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए उस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। वहां पर पूर्ण लॉकडाउन किया गया है।

जिला मजिस्ट्रेट डॉ. आशीष श्रीवास्तव की ओर से जारी आदेश के अनुसार नेहरू कालोनी क्षेत्र के ए-ब्लॉक, मकान नंबर-144 का वह हिस्सा जहां जिसके पूरब दिशा में सरदार भूटानी, पश्चिम दिशा में सड़क, उत्तर दिशा में सड़क और दक्षिण दिशा में ललित तनेजा का मकान स्थित है, उस क्षेत्र को कंटेंनमेंट जोन घोषित किया गया है।

नेहरू कॉलोनी क्षेत्र के मकान नंबर-144 में रविवार से पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। सभी स्थानीय लोग अपने-अपने घरों में रहेंगे। पुलिस की ओर से इस क्षेत्र में बैरेकेडिंग लगा दी गई है। क्षेत्र की सभी दुकानें, प्रतिष्ठान, कार्यालय, बैंक आदि पूरी तरह से बंद रहेंगे। परिवार के एकमात्र सदस्य को दैनिक आवश्यक्ता की सामग्री राशन, सब्जी और फल खरीदने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। आकस्मिक स्थिति में पुलिस विभाग के टोल फ्री नंबर 112 पर संपर्क किया जा सकता है। 

इसी तरह ऋषिकेश क्षेत्रांतर्गत गांव गुमानीवाला गली नंबर-8 में कोरोना संक्रमितों के पाए जाने पर कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। गुमानीवाला गली नंबर-8 का वह हिस्सा जिसके पूरब दिशा में सड़क, पश्चिम दिशा में खाली प्लाट कुलदीप, उत्तर दिशा में बहादुर थापा का खाली प्लॉट और दक्षिण दिशा में सड़क है को कटेंनमेंट जोन बनाया गया है। इससे पहले मसूरी के सेंट जार्ज स्कूल बार्लोगंज क्षेत्र में 11 मार्च से कंटेनमेंट जोन बना हुआ है।

गाइडलाइन का पालन कराने के लिए तैनात रहेंगी टीमें
जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि गाइडलाइन का पालन कराने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस की टीमें मैदान में रहेंगी। सभी उपजिलाधिकारियों को जोनवार जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। पार्क व मैदान में सामूहिक रूप से होली मनाने पर रोक है। डीएम ने बताया कि झंडा आरोहण पर भी गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसे देखते हुए सीमाओं पर अधिक से अधिक सैंपल लेकर जांच के लिए भेजने के निर्देश दिए गए हैं।

उत्साह-उमंग के साथ कोरोना से सतर्कता जरूरी : कौशिक 

हरिद्वार में चंद्राचार्य चौक व्यापार मंडल ने होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान व्यापारियों ने एक दूसरे को अबीर-गुलाल का टीका लगाकर जमकर फूलों की होली खेली। व्यापारियों के बीच भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक भी पहुंचे और होली की बधाई दी।

होली मिलन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि होली उत्साह और उमंग का त्योहार है। होली के उत्साह के बीच कोरोना नियमों का पालन करना भी जरूरी है।

जिससे महामारी से हम सुरक्षित रह सकें। श्री शंभू अटल अखाड़े के ईश्वर गिरि ने कहा कि सनातन संस्कृति को दर्शाने वाला होली पर्व को उल्लास व एकता के साथ मनाना चाहिए। व्यापार मंडल अध्यक्ष मृदुल कौशिक ने कहा कि रंगों व उमंगों का पर्व आपसी एकता और भाईचारे को मजबूत करता है। होली के रंगों में रंगकर सभी एक हो जाते हैं।

उत्तराखंड को जल्द मिलेंगी तीन लाख कोविड वैक्सीन

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उत्तराखंड को जल्द ही कोविड वैक्सीन की खेप मिलने वाली है। दो अप्रैल को कोविशील्ड और चार मार्च को कोवैक्सीन राज्य में पहुंच जाएगी। एक अप्रैल से शुरू हो रहे कुंभ के लिए केंद्र सरकार की ओर से एक लाख कोवैक्सीन दी जा रही है। प्रदेश में अब तक सात लाख लोगों को कोविड का टीका लग चुका है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक डॉ.सरोज नैथानी ने बताया कि एक अप्रैल से प्रदेश में 45 साल से अधिक आयु के लोगों को कोविड वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए केंद्र की ओर से राज्य को दो लाख तीन हजार वैक्सीन देने की अनुमति मिल गई है। दो मार्च को करनाल से वैक्सीन की खेप उत्तराखंड लाई जाएगी। इसके साथ ही कुंभ मेले के लिए एक लाख कोवैक्सीन केंद्र की ओर से उपलब्ध कराई जा रही है।

चार मार्च को वो भी राज्य में पहुंच जाएगी। डॉ.नैथानी ने बताया कि प्रदेश में कोविड टीकाकरण सुचारू रूप से चल रहा है। अब तक लगभग सात लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इसमें तीन लाख से ज्यादा 60 साल से अधिक आयु वर्ग के लोग हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00