बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

रुड़की: फॉर्च्यूनर गाड़ी में आईपीएल पर सट्टा लगाते तीन लोग गिरफ्तार, गूगल क्रोम पर आईडी बनाकर करते थे 'खेल'

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रुड़की Published by: अलका त्यागी Updated Mon, 19 Apr 2021 07:26 PM IST

सार

  • पुलिस ने सट्टा लगाने वाले तीनों लोगों के पास से हजारों की नकदी, मोबाइल और सट्टा पर्ची भी बरामद की है। पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।
विज्ञापन
सट्टा
सट्टा - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें

विस्तार

रुड़की में फॉर्च्यूनर गाड़ी में सट्टा लगाते पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने तीनों के पास से हजारों की नकदी, मोबाइल और सट्टा पर्ची भी बरामद की है। पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। वहीं, पुलिस इनके संपर्क में रहने वालों को चिह्नित कर रही है।
विज्ञापन


आईपीएल मैचों में शहर में बड़े स्तर पर सट्टा खेला जा रहा है। इसकी शिकायत लगातार पुलिस को मिल रही थी। रविवार की रात गंगनहर कोतवाली पुलिस क्षेत्र में गश्त कर रही थी। इस बीच मुखबिर ने सूचना दी कि रामनगर-सलेमपुर रोड किनारे एक फॉर्च्यूनर गाड़ी खड़ी है, जिसमें तीन लोग आईपीएल मैच पर सट्टा लगा रहे हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गाड़ी को घेर लिया और तीनों को नीचे उतार लिया।


पुलिस ने गाड़ी की तलाशी ली तो 54200 रुपये, छह मोबाइल और सट्टा पर्ची बरामद हुई। पुलिस तीनों आरोपियों को गाड़ी सहित कोतवाली ले आई। कोतवाली प्रभारी मनोज मैनवाल ने बताया कि आईपीएल मैच में सट्टा लगाते विशाल कथूरिया निवासी आवास विकास कालोनी, रुड़की, जुल्फिकार निवासी ग्राम इब्राहिमपुर, रुड़की और कुर्बान निवासी मदरसे वाली गली, रामपुर, रुड़की को गिरफ्तार किया है। तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है। उन्होंने बताया कि तीनों के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। साथ ही इनके संपर्क में रहकर सट्टा लगाने वालों को चिह्नित किया जा रहा है। 

गूगल क्रोम पर आईडी बनाकर लगवाते थे सट्टा
पुलिस पूछताछ में तीनों ने बताया कि वह गूगल क्रोम पर सट्टा खेलने वालों की आईडी बनवाते थे। इसके बाद गूगल क्रोम में ऑनलाइन सट्टा लगवाते थे। तीनों ने बताया कि सट्टा लगाने वाले मोबाइल पर संपर्क में रहते हैं। साथ ही किस टीम पर कितना लगाना है, यह सब पल-पल अपडेट होता रहता था। बताया कि बीच-बीच में वह अपनी गाड़ी की लोकेशन बदलते रहते थे ताकि पुलिस उन्हें पकड़ न सके। तीनों ने बताया कि वह ऑनलाइन सट्टे में मोटा मुनाफा कमाने के लिए लोगों को सट्टा खिलवाते थे।

पुलिस टीम में ये रहे शामिल
कोतवाली प्रभारी मनोज मैनवाल, एसएसआई देवराज शर्मा, सीआईयू प्रभारी जहांगीर अली, एसआई मनोज सिरोला समेत सिपाही अहसान अली, मुकेश जोशी, रणवीर सिंह, सुरेश रमोला, कपिलदेव, महिपाल, रविंद्र और जाकिर।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us