Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Crime News, Controversy over mining lease, BJP Mandal General Secretary shot dead in Udham Singh Nagar

भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या: ऊधम सिंह नगर में खनन पट्टे को लेकर बढ़ा विवाद, पड़ोसी ने दिया वारदात को अंजाम

संवाद न्यूज एजेंसी, ऊधमसिंह नगर Published by: रेनू सकलानी Updated Sun, 15 May 2022 12:49 PM IST

सार

ऊधम सिंह नगर जिले में आपराधिक मामले बढ़ते जा रहे हैं। शनिवार को भाजपा मंडल महामंत्री संदीप कार्की को गोली मार दी। कार्की को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया।
भाजपा मंडल महामंत्री संदीप कार्की
भाजपा मंडल महामंत्री संदीप कार्की - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

खनन क्षेत्र के रास्ते को डंपर से रोकने और भराई को लेकर हुए विवाद में बीच बचाव करने पर शनिवार सुबह शांतिपुरी में भाजपा के पंतनगर मंडल अध्यक्ष संदीप सिंह कार्की की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली चलाने वाले आरोपी सगे भाई मौके से फरार हो गए। पुलिस ने उनके माता-पिता और दोनों की पत्नियों को हिरासत में लिया है।

विज्ञापन

 
शांतिपुरी नंबर तीन स्थित सिजवाली घाट पर शनिवार की सुबह बंद पड़े खनन पट्टे में शांतिपुरी नंबर चार निवासी पंकज जोशी, मनमोहन कोरंगा और सगे भाई ललित मेहता, दीपू मेहता खनन कर रहे थे। इनके बीच खनन के वर्चस्व को लेकर कई दिनों से विवाद चल रहा था। शनिवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे ललित, दीपू और शांतिपुरी नंबर चार निवासी पंकज जोशी से खनन और निकासी मार्ग को लेकर अचानक विवाद बढ़ गया।


आरोप है कि विवाद बढ़ने पर ललित ने पंकज पर फायर झोंकने की कोशिश की तो वह जान बचाने के लिए कुछ दूरी पर स्थित शांतिपुरी खामिया नंबर तीन निवासी भाजपा नेता संदीप सिंह कार्की (35) पुत्र जगत सिंह कार्की की भाभी माया कार्की के घर में छिप गया। बीच-बचाव करने आए संदीप कार्की पर भी ललित ने फायर झोंक दिया, लेकिन वह बच गए।

इसके बाद ललित ने अपने डंपर को खनन क्षेत्र को जाने वाले मार्ग पर खड़ा कर दिया। आरोप है कि इसका विरोध करने पर ललित ने संदीप कार्की के सीने पर असलहा सटाकर गोली मार दी, जिससे संदीप लहूलुहान हो गए। फायरिंग की आवाज सुनकर घटनास्थल पर लोग जमा हो गए। संदीप को सीएचसी किच्छा ले जाया गया लेकिन हालत गंभीर होने पर उन्हें रुद्रपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने दी दबिश

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने दबिश देनी शुरू कर दी है। पुलिस ने फरार आरोपियों के परिजनों को हिरासत में ले लिया है। फरार आरोपियों के रिश्तेदारों और अन्य लोगों से भी पुलिस ने पूछताछ की है। एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने पुलिस फोर्स के साथ घटनास्थल का मुआयना किया। संदीप के घर पर पुलिस और पीएसी तैनात की गई। 

ये भी पढ़ें...जिंदगी और मौत की जंग:  टिहरी झील की रेतीली दलदल में फंसा शख्स, बचाने के लिए जद्दोजहद, हेलीकॉप्टर की ली जाएगी मदद

ललित पर दर्ज हैं आपराधिक मामले
शांतिपुरी। पुलिस के मुताबिक, ललित पर पहले भी आपराधिक मामले दर्ज हैं। कुछ साल पहले खनन पट्टे के विवाद में हुई फायरिंग के मामले में उसे छह महीने की जेल हुई थी। वह जमानत पर बाहर आया था। वहीं कुछ साल पहले नगला बाईपास में हुए विवाद में उसके खिलाफ जानलेवा हमले का मामला दर्ज है। 

पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी है। आरोपी ललित और दीपू के पांच डंपर और एक जेसीबी कब्जे में ली गईं हैं।- मंजूनाथ टीसी, एसएसपी
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00