लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Ayurved University employees-officers holidays banned Vigilance inspection

Ayurveda University: कर्मचारियों और अधिकारियों की छुट्टी पर रोक, विवि में विजिलेंस स्तर से चल रही जांच

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: रेनू सकलानी Updated Thu, 11 Aug 2022 08:25 AM IST
सार

विशेष परिस्थितियों और राजकीय अवकाश को छोड़कर उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में कर्मचारियों को कोई छुट्टी नहीं मिलेगी। विश्वविद्यालय में शासन व विजिलेंस स्तर से अनियमितताओं की जांच चल रही है।

उत्तराखंड आयुर्वेद विवि
उत्तराखंड आयुर्वेद विवि - फोटो : AmarUjala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय ने कर्मचारियों और अधिकारियों की छुट्टियों पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगा दी है। जो कर्मचारी अवकाश पर हैं, उनकी छुट्टी भी निरस्त कर दी गई है। बुधवार को विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलसचिव डॉ. राजेश कुमार ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं।



विश्वविद्यालय में शासन व विजिलेंस स्तर से अनियमितताओं की जांच चल रही है। जांच टीमों को दस्तावेज प्राप्त करने में किसी तरह की असुविधा न हो। इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने ऋषिकुल परिसर हरिद्वार, गुरुकुल परिसर हरिद्वार और मुख्य परिसर हर्रावाला में कार्यरत कर्मचारियों व अधिकारियों की छुट्टियों पर रोक लगाने के आदेश जारी किए हैं।


ये भी पढ़ें...Raksha Bandhan 2022: उत्तराखंड में आज बहनें गढ़वाल-कुमाऊं के बीच यूपी के रास्तों पर भी कर सकेंगी मुफ्त सफर

विशेष परिस्थितियों और राजकीय अवकाश को छोड़कर कर्मचारियों को कोई छुट्टी नहीं मिलेगी। इसके अलावा कर्मचारियों के अवकाश को निरस्त किया गया। जिन कर्मचारियों ने पूर्व में सूचित कर उपार्जित, सीएल और चिकित्सा अवकाश लिया है, उन्हें ही अवकाश मान्य होगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00