लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun News ›   Amritpal Singh 25 marked for sharing posts on social media regarding Khalistani fundamentalists Uttarakhand

Amritpal Singh: खालिस्तानी कट्टरपंथी को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट लाइक- शेयर करने वाले 25 चिह्नित, एक पाबंद

संवाद न्यूज एजेंसी, रुद्रपुर Published by: रेनू सकलानी Updated Fri, 24 Mar 2023 01:15 PM IST
सार

गुलजारपुर क्षेत्र में फ्लैग मार्च कर जनता को पंजाब के मोस्ट वांटेड अमृतपाल सिंह के विषय में बताया। पुलिस ने कहा कि अगर किसी ने अमृतपाल को आश्रय दिया या किसी भी तरह का सहयोग किया तो उसके खिलाफ भी कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Amritpal Singh 25 marked for sharing posts on social media regarding Khalistani fundamentalists Uttarakhand
अमृतपाल - फोटो : एएनआई

विस्तार

खालिस्तानी कट्टरपंथी अमृतपाल को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट को लाइक और शेयर करने वाले 25 लोगों को पुलिस ने चिह्नित किया है। इनमें 20 लोगों की काउंसलिंग की गई जबकि पांच लोगों का पुलिस एक्ट में चालान किया गया। इसके अलावा जसपुर में एक व्यक्ति को 107/116 में पाबंद किया गया है।



पुलिस सीमाओं पर वाहनों की चेकिंग कर रही है, खास तौर पर पंजाब नंबर के वाहनों की गहन चेकिंग की जा रही है।अमृतपाल मामले में ऊधमसिंह नगर पुलिस भी अलर्ट मोड पर है। एसएसपी ने पांच संवदेनशील थानों को चिह्नित कर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया था। पिछले चार दिनों से जिले के सभी बॉर्डर में सघन चेकिंग चल रही है। बॉर्डर से गुजरने वाला हर वाहन चेकिंग के बाद जिले की सीमा पार कर रहा है। उधर नेपाल बार्डर से सटे खटीमा के क्षेत्रों में भी चेकिंग की जा रही है।


पुलिस ने सोशल मीडिया पर इस मामले में टिप्पणी या पोस्ट को शेयर करने पर काशीपुर, कुंडा, बाजुपर, नानकमत्ता और रुद्रपुर थाने में करीब पांच लोगों का पुलिस ने चालान किया है। इसके अलावा जसपुर में समर्थन करने वाले युवक के खिलाफ पुलिस ने 107/16 का की कार्रवाई की है। एसएसपी डॉ. मंजूनाथ टीसी ने बताया कि धार्मिक स्थलों में भी अपील की जा रही है कि यदि वहां कोई संदिग्ध गतिविधि दिखती है तो तुंरत पुलिस को सूचित करे।

काशीपुर में हुआ फ्लैग मार्च

कोतवाली पुलिस ने बृहस्पतिवार को कुंडेश्वरी और गुलजारपुर क्षेत्र में फ्लैग मार्च कर जनता को पंजाब के मोस्ट वांटेड अमृतपाल सिंह के विषय में बताया। पुलिस ने कहा कि अगर किसी ने अमृतपाल को आश्रय दिया या किसी भी तरह का सहयोग किया तो उसके खिलाफ भी कठोर कार्रवाई की जाएगी। कोतवाली के इंस्पेक्टर मनोज रतूड़ी के नेतृत्व में कुंडेश्वरी चौकी पुलिस और ग्राम चौकीदारों ने फ्लैग मार्च किया।

ये भी पढ़ें...Uttarakhand: किसाऊ बांध परियोजना से भविष्य में नौ गांवों के जलमग्न होने के आसार...डीएम ने नकारा, दिया ये तर्क

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

फॉन्ट साइज चुनने की सुविधा केवल
एप पर उपलब्ध है

बेहतर अनुभव के लिए
4.3
ब्राउज़र में ही
एप में पढ़ें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

Followed