झूला पुलों पर वाहनों की रोक से फूटा गुस्सा

Dehradun Updated Mon, 22 Oct 2012 12:00 PM IST
ऋषिकेश। पौड़ी पुलिस प्रशासन की ओर से थाना लक्ष्मणझूला क्षेत्र में झूला पुलों पर दुपहिया वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित करने से स्वर्गाश्रम, लक्ष्मणझूला क्षेत्र के व्यापारियों और स्थानीय नागरिकों का गुस्सा फूट पड़ा। इस फरमान से नाराज लोगों ने रामझूला चौकी पहुंचकर थाना प्रभारी अमरजीत सिंह के समक्ष ब्रिज पर आवागमन प्रतिबंधित किए जाने का विरोध करते हुए जमकर हंगामा काटा। एसएसपी ने फोन पर संपर्क कर गुस्साए लोगों को बमुश्किल शांत किराया।
लक्ष्मणझूला थाना पुलिस ने लक्ष्मणझूला और रामझूला पर दुपहिया वाहनों के आवागमन पर रोक लगाते हुए इस आशय के नोटिस बोर्ड चस्पा कर दिए। क्षेत्रवासियों को जैसे की इसकी भनक लगी वे भड़क उठे। रविवार सुबह काफी संख्या में स्थानीय व्यापारियों, नागरिकाें ने रामझूला चौकी पहुंचकर निर्णय का विरोध शुरू कर दिया। चौकी पुलिस ने निर्णय वापस लेने में असमर्थता जताई तो लोगों ने जमकर हंगामा काटा। इस दौरान उनकी पुलिस कर्मियों से भी तीखी नोकझोंक हुई। लोगों का कहना था कि पुलिस द्वारा जनता को विश्वास में लिए बगैर ही झूला पुलों पर दोपहिया वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी है। जबकि, क्षेत्रवासियों के पास मुनिकीरेती, ऋषिकेश आदि क्षेत्रों में जाने के लिए इन झूला पुलों को छोड़कर दूसरा कोई सरल विकल्प नहीं है। झूला पुलों को इस क्षेत्र की लाइफ लाइन बताते हुए लोगों ने कहा कि इसके बिना सब कुछ ठप हो जाएगा। लोगों का आरोप था कि पुलिस ने बीती शनिवार देर रात को पुलों पर गुपचुप ढंग से बोर्ड चस्पा कर दिए और रविवार को सुबह ही कई लोगों को दोपहिया वाहनों से पुलों पर आने जाने में रोका गया।
विरोध करने वालों में डॉ. नारायण सिंह रावत, वैद्य केपी गर्ग, इंद्रप्रकाश अग्रवाल, मदन सिंह बिष्ट, बंशीलाल नौटियाल, माधव अग्रवाल, देवेंद्र राणा, रमेश भंडारी, पुष्पेंद्र वर्मा, नारायण सिंह राणा, राजीव कुकरेजा, अमित गुप्ता, शाकुंबरी देवी, पार्वती देवी, सोनू शर्मा, गौरीशंकर अग्रवाल, लाखन सिंह नेगी, बेबी अग्रवाल आदि शामिल रहे।

इंसेट
एएसआई पर पिल पड़ा मनचला
झूला पुल पर वाहनों की आवाजाही रोकने के फरमान के विरोध में रामझूला चौकी पर पहुंचे नागरिकों के आक्रोश को देखकर एक मनचले ने यहां तैनात एएसआई पर हमला कर दिया। उसने मौके पर पड़ी मोटी विद्युत केबिल के टुकड़े से पिटाई शुरू कर दी। इससे मौके पर मौजूद लोग भौचक रह गए। वहां मौजूद सिपाहियों ने किसी तरह आरोपी को दबोचा। हमले से एएसआई के हाथ और गरदन पर हल्की चोटें आई हैं।

विरोध को पहुंचे लोगों से उलझा यात्री
पुलिस कार्रवाई का विरोध कर रहे लोगों से मौके पर मौजूद एक यात्री उलझ गया। गुड़गांव से आए यात्री ने पुल पर दोपहिया वाहनों की रोक को जायज ठहराया। उसका तर्क था कि पुल पर पहले ही भीड़ रहती है। ऐसे में, वाहनों से पैदल यात्रियों के लिए खतरा बना रहता है। यात्री के तर्क से लोग भड़क गए। कुछ लोगों ने यात्री को वस्तुस्थिति से अवगत कराया, जब जाकर यात्री की समझ में माजरा आया और वह चलता बना।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

दावोस में 'क्रिस्टल अवॉर्ड' मिलने के बाद सुपरस्टार शाहरुख खान ने रखी 'तीन तलाक' पर अपनी राय

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls