विज्ञापन
विज्ञापन

अरुण जेटली के निधन पर गमगीन हुए गंभीर, बोले- मैंने पिता खो दिया

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 24 Aug 2019 08:32 PM IST
अरुण जेटली और गौतम गंभीर
अरुण जेटली और गौतम गंभीर - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें
भाजपा के वरिष्ठ नेता और मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में वित्त मंत्री का कार्यभार संभालने वाले अरुण जेटली का निधन हो गया। उन्होंने आज दोपहर दिल्ली एम्स में 12 बजकर सात मिनट पर आखिरी सांस ली। जेटली एम्स में पिछले कई दिनों से भर्ती थे। विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम उनका इलाज कर रही थी।
विज्ञापन
66 साल के जेटली को सांस लेने में दिक्कत और बेचैनी की शिकायत के बाद नौ अगस्त को एम्स लाया गया था। एम्स ने 10 अगस्त के बाद से जेटली के स्वास्थ्य पर कोई बुलेटिन जारी नहीं किया था। जेटली ने खराब स्वास्थ्य के चलते 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। अरुण जेटली के निधन के बाद पूरा देश शोक में डूब गया है। तमाम नेताओं के साथ देश के खिलाड़ियों ने भी उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Cricket News

बड़ौदा क्रिकेट संघ का चुनाव 27 सितंबर को 

बड़ौदा क्रिकेट संघ (बीसीए) 27 सितंबर को चुनाव कराएगा जिसमें अध्यक्ष सहित विभिन्न पदों के लिए मतदान होगा।

16 सितंबर 2019

विज्ञापन

पाकिस्तान की नई रणनीति, अमेरिका की दोस्ती के लिए अफगानिस्तान में करेगा उसकी मदद

पाकिस्तान ने अफगानिस्तान शांति वार्ता को पटरी पर लाने के लिए डिप्लोमेटिक प्रयास शुरू कर दिए हैं। पाकिस्तान शांति वार्ता में मध्यस्थ की भूमिका निभा कर अमेरिका की गोद में बैठना चाहता है।

16 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree